taaja khabar..हनुमानगढ़ जन आशीर्वाद रैली में शामिल हुईं पूर्व सीएम राजे:भाजपा प्रत्याशी अमित सहू के लिए मांगे वोट..महाराष्ट्र पंचायत चुनाव: 600+ सीटें जीतकर बीजेपी नंबर वन, बारामती में चाचा शरद पर भारी पड़े अजित पवार..हिज्‍बुल्‍लाह ने अगर किया इजरायल पर हमला तो हम देंगे इसका जवाब...अमेरिका ने दी ईरान को खुली धमकी..भारत ने निभाया पड़ोसी धर्म तो गदगद हुआ नेपाल, राजदूत ने दिल खोलकर की मोदी सरकार की तारीफ..

हिज्‍बुल्‍लाह ने अगर किया इजरायल पर हमला तो हम देंगे इसका जवाब...अमेरिका ने दी ईरान को खुली धमकीहिज्‍बुल्‍लाह ने अगर किया इजरायल पर हमला तो हम देंगे इसका जवाब...अमेरिका ने दी ईरान को खुली धमकीहिज्‍बुल्‍लाह ने अगर किया इजरायल पर हमला तो हम देंगे इसका जवाब...अमेरिका ने दी ईरान को खुली धमकी

वॉशिंगटन: एक अमेरिकी अधिकारी ने ईरान और हिज्‍बुल्‍लाह को आगाह किया है। इस अमेरिकी अधिकारी की तरफ से ईरान को कहा गया है कि अगर हिज्‍बुल्‍लाह, इजरायल के खिलाफ जंग में कूदा और उसकी वजह से संघर्ष में विस्‍तार हुआ तो फिर अमेर‍िका की सेनाएं भी इस युद्ध में शामिल हो जाएंगी। यह प्रतिक्रिया ऐसे समय में आई है जब हिज्‍बुल्‍लाह के मुखिया हसन नसरल्‍ला की तरफ से पिछले दिनों भाषण दिया गया था। सात अक्‍टूबर को हमास के इजरायल पर हुए हमले के बाद यह नसरल्‍ला का पहला भाषण था। इसमें उसने इजरायल और अमेरिका को ताना मारा था। अगर हुआ इजरायल पर हमला अमेरिकी अखबार न्‍यूयॉर्क टाइम्‍स ने राष्‍ट्रपति जो बाइडन के प्रशासन के अधिकारियों के हवाले से जानकारी दी है कि अमेरिका ने तुर्की सहित क्षेत्र में अपने सहयोगियों के जिरए ईरान और हिजबुल्लाह को संदेश भेजा है कि अगर वे इजरायल पर हमला करते हैं तो वह इसमें हस्तक्षेप करने के लिए तैयार है। अमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने भी क्षेत्र में अमेरिकी सेनाओं और नागरिक ठिकानों पर हमलों के खिलाफ चेतावनी दी है। टाइम्स के अनुसार, ब्लिंकन ने बगदाद इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर मीडिया से कहा, 'हमले हो या फिर ईरान के समर्थन वाले आतंकी संगठन की तरफ से आने वाली धमकियां, अमेरिका इसको किसी भी तरह से स्‍वीकार नहीं करेगा। उन्‍होंने कहा कि अमेरिका ईरान के साथ संघर्ष नहीं चाहता है लेकिन वह अपने नागरिकों की सुरक्षा के लिए जो भी जरूरी होगा वह करेगा। हिज्‍बुल्‍लाह चीफ की वॉर्निंग हिज्‍बुल्‍ला के मुखिया नसरल्ला ने एक टेलीविजन भाषण में कहा, 'गाजा और उसके लोगों के खिलाफ चल रहे युद्ध के लिए पूरी तरह से अमेरिका जिम्मेदार है और इजरायल तो उसकी तरफ से एक मोहरा है।' नसरल्‍ला ने इस युद्ध को निर्णायक करार दिया था। उसने कहा था कि हिज्‍बुल्‍लाह को अमेरिकी युद्धपोत से जरा भी डर नहीं लगता है। साथ ही उसने आगाह किया था कि हिज्‍बुल्‍लाह की सेनाएं किसी भी स्थिति के लिए तैयार हैं।उत्तरी सीमाओं पर बढ़ते हमलों पर प्रतिक्रिया देते हुए, इजरायल के मिलिट्री चीफ हर्जी हलेवी ने कहा कि उनकी सेना किसी भी समय जवाबी हमला करने के लिए तैयार है। उनका कहना था कि न सिर्फ गाजा पट्टी में बल्कि सीमाओं पर बेहतर सुरक्षा स्थिति बहाल करने का हमारा स्पष्ट लक्ष्य है। इजरायल किसी भी समय हमला करने के लिए तैयार हैं। सीआईए चीफ इजरायल में इस बीच अमेरिका के सेंट्रल इंटेलीजेंस एजेंसी (सीआईए) के निदेशक विलियम बर्न्स इजरायल पहुंच गए हैं। वह यहां मिडिल ईस्ट देशों के नेताओं और अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। बर्न्स इजरायल-हमास युद्ध को सुलझाने के लिए मध्य पूर्व के नेताओं के साथ अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन द्वारा शुरू की गई चर्चा को आगे बढ़ाएंगे। ब्लिंकन ने कतर, जॉर्डन और मिस्र के विदेश मंत्रियों सहित कई नेताओं से मुलाकात की थी। वह इराक का भी दौरा कर चुके हैं। बर्न्स हमास के कब्जे से बंधकों को वापस लाने के उपायों पर भी चर्चा करेंगे।

Top News