taaja khabar...चीनी जासूसी कांड: प्रधानमंत्री कार्यालय और अहम मंत्रालयों में हो रही थी सेंधमारी, पूछताछ में हुआ अहम खुलासा ...जम्मू-कश्मीर में अब होगा जिला पंचायत चुनाव, मोदी कैबिनेट ने लगाई मुहर...फ्रांसीसी टीचर के कटे सिर की तस्‍वीर शेयर कर भारतीय ISIS समर्थकों ने दी धमकी, 'तलवारें नहीं रुकेंगी' ....बरेली में 'लव जिहाद' पर बवाल, हिंदू संगठन के वर्कर्स पर पुलिस का लाठीचार्ज, चौकी इंचार्ज सस्पेंड ...कराची: जोरदार धमाके से बर्बाद हो गई पूरी बिल्डिंग, 5 की मौत, 20 घायल...एनसीपी में शामिल होंगे बीजेपी नेता एकनाथ खडसे, बोले- पार्टी में नहीं मिला न्याय...दशहरे पर चीन बॉर्डर पर शस्त्र पूजा करेंगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह....राजदूत के जख्मी होने पर भड़का ताइवान, कहा- चीन के 'गुंडे अधिकारियों' से डरेंगे नहीं...मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, 30 लाख सरकारी कर्मचारियों को मिलेगा दिवाली बोनस ...पाक में पुलिस और फौज में ठनी:आर्मी पर IG को अगवा करने और नवाज के दामाद के खिलाफ जबर्दस्ती FIR लिखवाने का आरोप...

5 माह से दलित नाबालिग से दुष्कर्म मामले में नही हो रही कार्रवाई, पीड़ित ने अब आयोग से लगाई गुहार

बाड़मेर। प्रदेश का बाड़मेर हाल ही बलात्कार के एक मामले के कारण जहां सुर्खियों में हैं। वहीं इसी बीच एक और भावुक करने वाली तस्वीर यह है कि सरहदी बाड़मेर में मई महीने में बीजराड़ थाना क्षेत्र में एक दलित नाबालिग मासूम अपने साथ हुए बलात्कार के मामले में अभी तक आरोपी की गिरफ्तारी नहीं होने से परेशान है। न्याय की गुहार के लिए पीड़िता गुरुवार को राज्य बाल अधिकार सरंक्षण आयोग की अध्यक्ष संगीता बेनीवाल से मिली। इस मामले के सामने आने के बाद 5 महीने बीत जाने के बावजूद आरोपी के खुले में घूमने और उसकी गिरफ्तारी नहीं होने पर बेनीवाल ने नाराजगी जाहिर करते हुए पुलिस से तथ्यात्मक रिपोर्ट मांग ली है। आयोग की अध्यक्ष पीड़िता से मिली गुरुवार को राजस्थान राज्य बाल सरंक्षण आयोग की अध्यक्ष संगीता बेनीवाल जयपुर से सरहदी बाड़मेर बलात्कार के मामले की पीड़िता और उनके परिजनों से मिलने पहुंची। यह मामला तब विकट हो गया जब 5 महीने पहले बलात्कार का शिकार हुई दलित नाबालिग मासूम ने पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान खड़ा कर दिया। बताया जा रहा है कि बलात्कार की घटना के बाद बाड़मेर पुलिस अधीक्षक से लेकर,जोधपुर रेंज आईजी नवज्योति गोगाई, संभागीय आयुक्त डॉक्टर समित शर्मा तक से अपने दर्द का इज़हार कर चुकी है। पीड़िता ने बड़ी बेबाकी से बेनीवाल के सामने अपनी बात रखी। छूटा पीड़िता का स्कूल, मिल रही घरवालों को धमकियां पीड़िता के मुताबिक घटना के बाद से उसका स्कूल छूट गया और उसे और उसके घरवालों को धमकियां भी दी जा रही है। लेकिन उसके मामले में अभी तक आरोपी खुले में घूम रहा है। पीड़िता ने बताया कि राजस्थान हाईकोर्ट उसके मामले में त्वरित कार्रवाई करने के आदेश बाड़मेर पुलिस को दे चुकी है, लेकिन कार्रवाई के नाम पर कुछ नहीं हुआ। इधर संगीता बेनीवाल का कहना है कि मामले पर त्वरित कार्रवाई करने के लिए सख्त रवैये अपनाया जाना चाहिए।

Top News