taaja khabar....रिकवरी रेट बढ़कर 80 प्रतिशत, अमेरिका को पीछे छोड़ टॉप पर भारत ...NCB से बोला राहिल- 'सैम' बनकर बांटता था सिलेब्‍स में ड्रग्‍स, बॉलिवुड से जुड़ा है मेरा 'बॉस' ...योगी सरकार में मंत्री मोहसिन रजा बोले- साजिश के तहत फैलाया जा रहा लव जिहाद, जरूरत पड़ीं तो कानून लाएंगे ...कश्मीर में अमन बिगाड़ने की कोशिश में पाकिस्तान, सेना लगातार नाकाम कर रही मंसूबेः डीजीपी ...जम्मू-कश्मीर को 1350 करोड़ के आर्थिक पैकेज का तोहफा, पानी-बिजली बिल में भी 50% की छूट ...ड्रग्स मंडली पर एक्शन जारी, 14 दिन के लिए जेल भेजा गया सप्लायर राहिल विश्राम...केरल और बंगाल में NIA की रेड, अलकायदा से जुड़े 9 संदिग्ध आतंकी गिरफ्तार...

राजस्थान: कोरोना का बढ़ता खौफ, एक महीने लोगों से नहीं मिलेंगे सीएम गहलोत

नई दिल्ली,राजस्थान में बीते दिनों मुख्यमंत्री निवास और कार्यालय में कोरोना के करीब 40 मामले सामने आए थे. लगभग 40 कर्मचारियों के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बड़ा निर्णय लिया है. उन्होंने आगामी एक महीने आमजन सहित अन्य सभी लोगों से मुलाकात नहीं करने का फैसला लिया है. सीएम गहलोत ने कहा कि कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग और हेल्थ प्रोटोकॉल का पालन ही मुख्य उपाय है. खुद का बचाव करके ही इस संक्रमण को नियंत्रित किया जा सकता है. सीएम ने कहा कि इसी उद्देश्य से चिकित्सकों की सलाह के अनुसार मैंने आगामी एक माह तक आमजन सहित अन्य सभी लोगों से मुलाकात नहीं करने का निर्णय लिया है. उन्होंने कहा कि इस दौरान सिर्फ सुशासन के लिए वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से भाग लेंगे. सीएम की लोगों की अपील सीएम गहलोत ने प्रदेशवासियों से अपील है कि सभी लोग मास्क लगाएं, सोशल डिस्टेंसिंग रखें, भीड़ से बचें, सामाजिक मेल-जोल कम से कम रखें, आवश्यकता होने पर ही घर से निकलें और अन्य सभी हैल्थ प्रोटोकॉल की पूरी जिम्मेदारी के साथ पालना करें. सीएम गहलोत ने कहा कि कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग और हेल्थ प्रोटोकॉल का पालन करना ही मुख्य उपाय है. खुद का बचाव करके ही इस संक्रमण को नियंत्रित किया जा सकता है.

Top News