taaja khabar...सावधान! चीन से आ रहे हैं खतरनाक सीड पार्सल, केंद्र ने राज्यों और इंडस्ट्री को किया सतर्क....लद्दाख से अरुणाचल प्रदेश तक हवाई हमले की ताकत जुटा रहा चीन, सैटलाइट तस्‍वीर से खुलासा..स्वतंत्रता दिवस से पहले गड़बड़ी की बड़ी साजिश, दिल्ली में भी विदेश से आए 'जहरीले' कॉल....सुशांत सिंहः बीजेपी ने कहा, राउत और आदित्य का CBI करे नार्को, राहुल और प्रियंका गांधी तोड़ें चुप्पी..विदेश मंत्री जयशंकर बोले- भारत और चीन पर दुनिया का बहुत कुछ निर्भर करता है...चीन को बड़ा झटका देने की तैयारी, गडकरी ने बताया क्या है प्लान...कोरोना पर खुशखबरी, देश में 70% के पास पहुंचा कोरोना मरीजों का रिकवरी रेट...सुशांत के पिता पर टिप्पणी कर फंसे शिवसेना नेता संजय राउत, परिवार करेगा मानहानि का केस...राहुल-प्रियंका से मिले सचिन पायलट, घर वापसी कराने की कोशिशें तेज ...पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी कोरोना पॉजिटिव हुए, अस्पताल में भर्ती ...कोरोना पॉजिटिव पाए गए केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल, AIIMS में भर्ती ...दिल्ली हिंसा: आरोपी गुलफिशा ने किए चौंकाने वाले खुलासे, 'सरकार की छवि खराब करना था मकसद' ...

विधायकों से बोले गहलोत- यहां रुकना जरूरी, परिवार बुला कर होटल में मनाएं त्योहार

जयपुर, 30 जुलाई 2020,राजस्थान में कांग्रेस पार्टी ने गुरुवार को भी विधायक दल की बैठक की. होटल फेयरमाउंट में हुई इस बैठक में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सभी विधायकों को संबोधित किया. इस दौरान विधायकों से कहा गया कि आप सभी जन्माष्टमी-रक्षा बंधन होटल में ही मनाएं, परिवार को भी बुला सकते हैं. सीएम ने विधायकों से कहा कि लोकतंत्र की रक्षा के लिए आपको 21 दिन यहां पर ही रहना होगा. सीएम ने विधायकों से कहा कि सभी विधायकों को 21 दिन यहां पर रहना होगा, राज्यपाल ने भले ही सत्र 21 दिन बाद बुलाया है मगर यह जीत आप लोगों की है. बैठक में संगठन महासचिव अविनाश पांडे ने कहा कि हमने कांग्रेस संगठन के गठन की प्रक्रिया शुरू कर दी है. आप विधायक लोगों से पूछकर संगठन के पदाधिकारी बनाए जाएंगे, आप लोग जिला अध्यक्ष और प्रखंड अध्यक्ष के लिए नाम दीजिए गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों में कई बार विधायक दल की बैठक हो चुकी है. हालांकि, राज्यपाल की ओर से 14 अगस्त को विधानसभा का सत्र बुलाने के बाद ये पहली बैठक है. ऐसे में कांग्रेस की ओर से विधायकों को एकजुट रखने के लिए ये बैठक बुलाई गई. बता दें कि मुख्यमंत्री की ओर से दो बार पहले भी राज्यपाल को चिट्ठी लिख सत्र बुलाने की अपील की गई थी, लेकिन वो मंजूर नहीं हुई थी. हालांकि, तीसरी चिट्ठी के बाद राज्यपाल कलराज मिश्र ने इसे मंजूरी दी लेकिन 21 दिन का समय भी दिया. गौरतलब है कि करीब पिछले एक महीने से विधायक इसी होटल में रुके हुए हैं, विपक्ष लगातार विधायकों और कांग्रेस सरकार पर निशाना भी साध रहा है. एक तरफ कांग्रेस के विधायक जयपुर के होटल में हैं, तो दूसरी ओर सचिन पायलट गुट के विधायक हरियाणा के रिजॉर्ट में रुके हैं. पायलट गुट की ओर से कहा गया है कि वो विधानसभा की कार्यवाही में हिस्सा लेंगे. ऐसे में 14 अगस्त के आसपास राजस्थान के सियासी संकट का अंत हो सकता है.

Top News