taaja khabar...पीएम मोदी का पाक पर करारा वार, कहा- जो आतंकवाद का टूल के तौर पर इस्‍तेमाल कर रहे हैं उनको भी खतरा........यूएन महासभा में भाषण के बाद सुरक्षा प्रोटोकाल तोड़कर भारतीयों के बीच पहुंचे पीएम मोदी, लगे भारत माता की जय के नारे...चाय बेचने वाले के बेटे का चौथी बार UNGA का संबोधित करना भारत के लोकतंत्र की ताकत: पीएम मोदी...UNGA में पीएम मोदी ने पाक और चीन की खोली पोल, कहा- समुद्री सीमा का दुरुपयोग नहीं होना चाहिए..अमेरिका चाहता है यूएन में भारत को मिले स्थायी सदस्यता - हर्षवर्धन श्रृंगला..अफगानिस्तान में हजारा समुदाय को जमीन छोड़ने के लिए मजबूर कर रहा तालिबान..भारत को 'विश्व गुरु' बनाना मोदी का एक मात्र लक्ष्य, प्रधानमंत्री के यूएनजीए संबोधन पर बोले नड्डा....केंद्र सरकार ने कहा- सफल नहीं होगी आतंकियों की ना'पाक' कोशिश, देश सुरक्षित हाथों में..दिल्ली की रोहिणी कोर्ट में जज के सामने गैंगस्टर जितेंद्र उर्फ गोगी की हत्या, दो हमलावर ढेर...सचिन पायलट ने पीसीसी अध्यक्ष और उप मुख्यमंत्री बनने से किया इंकार...: निषाद पार्टी व अपना दल के साथ BJP का गठबंधन, प्रदेश के चुनाव प्रभारी धर्मेन्द्र प्रधान ने की घोषणा...भारत में 84 करोड़ से अधिक हुआ टीकाकरण, यूपी नंबर 1..ब्रिटिश सांसद ने दी चेतावनी, जम्‍मू-कश्‍मीर से हटी भारतीय सेना तो आएगा 'तालिबान राज'... आजादी के बाद सेनाओं के सबसे बड़े कायापलट की दिशा में भारत...PM नरेंद्र मोदी के सामने कमला हैरिस ने आतंकवाद पर पाकिस्तान को लताड़ा, 'ऐक्शन लें इमरान'...इजरायली 'लौह कवच' से लैस होगा अमेरिका, आयरन डोम से मिलेगी फौलादी सुरक्षा...

राजस्थान में बहुसंख्यकों ने घरों के बाहर लगाए 'पलायन के लिए मजबूर' होने के पोस्टर

जयपुर। राजस्थान में टोंक जिले के मालपुरा कस्बे में अल्पसंख्यक बहुल इलाकों में रह रहे हिंदू परिवार (बहुसंख्यक)अपने मकान और दुकान बेचकर दूर जा रहे हैं। जिन परिवारों की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है, वह मजबूरी में अल्पसंख्यक बहुल इलाकों में रह रहे हैं। ऐसे परिवारों ने पिछले दो दिनों में अपने घरों के बाहर पोस्टर लगाकर खुद का जीवन खतरे में बताया है। पोस्टर में अल्पसंख्यक परिवारों से खुद को खतरा बताने वाले हिंदुओ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से हस्तक्षेप की मांग की है। कई परिवारों ने पीएम और सीएम को पत्र लिखा है। पत्र लिखने वालों का कहना है कि मजबूरी में उन्हे पलायन करना पड़ रहा है। मंगलवार को इन परिवारों के करीब 100 लोगों ने कस्बे में रैली निकालकर उपखंड अधिकारी को ज्ञापन दिया। ज्ञापन में अल्पसंख्यक बहुल इलाकों में हिंदुओं के साथ मारपीट और महिलाओं के साथ अभद्रव्यवहार किए जाने का आरोप लगाया गया है । बुधवार को इन लोगों ने बैठक कर जयपुर पहुंचकर मुख्यमंत्री सहित अन्य नेताओं से मुलाकात करने की रणनीति बनाई । जानकारी के अनुसार पिछले दो दिनों में हिंदुओं के घरों के बाहर लगे पोस्टरों को हटाने के लिए पुलिसकर्मी कई बार पहुंचे,लेकिन लोगों के विरोध को देखते हुए उन्हे बैरंग ही लौटना पड़ा । स्थानीय नागरिक राधाकिशन ने बताया कि करीब 200 परिवार काफी समय से प्रशासन से सुरक्षा की मांग कर रहे हैं। इस मुद्दे को लेकर बृहस्पतिवार से शुरू होने वाले विधानसभा सत्र में भाजपा अशोक गहलोत सरकार को घेरने की रणनीति बना रही है। विधायक मदन दिलावर यह मुद्दा सदन में उठाने का प्रयास करेंगे। उल्लेखनीय है कि आजादी के बाद से लेकर अब तक मालपुरा में 8 बार साम्प्रदायिक तनाव की स्थिति पैदा हुई है। करीब 50 लोगों की जान जा चुकी है। सबसे बड़ा साम्प्रदायिक झगड़ा साल,1992 में हुआ था। उस समय दोनों समुदायों के 25 लोगों की मौत हुई थी। उसके बाद साल, 2000 में 13 लोगों की मौत हुई थी।

Top News