taaja khabar..हनुमानगढ़ जन आशीर्वाद रैली में शामिल हुईं पूर्व सीएम राजे:भाजपा प्रत्याशी अमित सहू के लिए मांगे वोट..महाराष्ट्र पंचायत चुनाव: 600+ सीटें जीतकर बीजेपी नंबर वन, बारामती में चाचा शरद पर भारी पड़े अजित पवार..हिज्‍बुल्‍लाह ने अगर किया इजरायल पर हमला तो हम देंगे इसका जवाब...अमेरिका ने दी ईरान को खुली धमकी..भारत ने निभाया पड़ोसी धर्म तो गदगद हुआ नेपाल, राजदूत ने दिल खोलकर की मोदी सरकार की तारीफ..

शहनवाज हुसैन को सर्वोच्च न्यायालय से मिली बड़ी राहत, हाई कोर्ट के आदेश पर लगी रोक

नई दिल्ली, पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा के वरिष्‍ठ नेता शहनवाज हुसैन (Shahnawaz Hussain) को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत मिली है। समाचार एजेंसी एएनआइ के मुताबिक, सुप्रीम कोर्ट ने 2018 के कथित दुष्कर्म मामले में शाहनवाज हुसैन के खिलाफ एफआईआर (FIR) दर्ज करने के दिल्ली हाई कोर्ट के आदेश पर रोक लगाई दी है। साथ ही हाई कोर्ट के आदेश को चुनौती देने वाली शहनवाज की याचिका पर नोटिस भी जारी किया गया है। बता दें कि दिल्‍ली हाइकोर्ट (Delhi High court) ने कुछ दिनों पहले शाहनवाज हुसैन के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया। साल 2018 में उन पर लगे दुष्‍कर्म के आरोप के सिलसिले में यह आदेश दिया गया, जिसे चुनौती देते हुए उन्‍होंने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) का रूख किया। शाहनवाज हुसैन ने आरोप को निराधार बताया है। दिल्‍ली की महिला ने लगाया है आरोप बीजेपी नेता शाहनवाज हुसैन पर दिल्‍ली की एक महिला ने दुष्‍कर्म का आरोप लगाया है। घटना करीब चार साल पुरानी है। महिला ने आरोप लगाया है कि 12 अप्रैल 2018 को छतरपुर के एक फार्म हाउस में नशीला पदार्थ खिलाकर उसके साथ दुष्‍कर्म किया गया। हाईकोर्ट की जस्टिस आशा मेनन की पीठ ने इस मामले में कार्रवाई का आदेश दिया है। बताया जाता है कि दिल्‍ली की साकेत कोर्ट ने सात जुलाई 2018 को इस मामले में दुष्‍कर्म की प्राथमिकी का आदेश दिया था। राजद ने भाजपा पर बोला जोरदार हमला बता दें कि शाहनवाज हुसैन पर एफआइआर के आदेश के बाद बिहार में सियासत तेज हो गई है। राजद की ओर से भारतीय जनता पार्टी पर जोरदार हमला किया गया। कुछ दिनों पहले प्रवक्‍ता शक्ति सिंह यादव ने कहा कि अब भाजपा की आवाज क्‍यों नहीं निकल रही। हमारे दाग, दाग और उनके दाग अनुराग।

Top News