taaja khabar..कोयले की कमी, बिजली कटौती, पीएम से गुहार लगाते सीएम... लेकिन ऊर्जा मंत्री बोले- सब चंगा सी..बलूचों के हमलों से डरे चीन-पाकिस्‍तान, ग्‍वादर नहीं अब कराची को बनाएंगे CPEC का हब..आशीष मिश्रा 'मोनू' को रिमांड पर लेगी पुलिस, कल कोर्ट में अर्जी डालेगी लखीमपुर खीरी की पुलिस टीम..केंद्रीय मंत्री बोले, बिजली आपूर्ति बाधित होने का खतरा बिल्कुल नहीं, पर्याप्त मात्रा में मौजूद है कोयले का स्टाक...बसपा तथा कांग्रेस के आधा दर्जन से अधिक पूर्व विधायक व एमएलसी भाजपा में शामिल..बसपा तथा कांग्रेस के आधा दर्जन से अधिक पूर्व विधायक व एमएलसी भाजपा में शामिल..

लाठी से पीट-पीटकर युवक की हत्या;जमीन पर पटककर घुटने से गर्दन दबाई, पानी पिला-पिलाकर पीटते रहे, घर के बाहर फेंका शव

हनुमानगढ़ हनुमानगढ़ के प्रेमपुरा गांव में आधा दर्जन युवाओं ने एक लड़के की लाठी से पीट-पीटकर हत्या कर दी। 3 युवक इस घटना का वीडियो बनाते रहे। हत्या के बाद शव उसी के घर के बाहर फेंककर चले गए। यह वारदात 7 अक्टूबर की है। मरने वाले का नाम जगदीश है। वीडिया वायरल हुआ तो पुलिस हरकत में आई और 11 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। गुस्साए परिजनों ने 2 दिन तक पोस्टमॉर्टम नहीं कराया। वीडियो में आरोपियों के चेहरे साफ दिख रहे हैं, फिर भी पुलिस ने गिरफ्तारी नहीं की। इसके लिए परिजनों को शनिवार को आंदोलन करना पड़ा। दबाव बढ़ा तो अब पुलिस ने मात्र 3 आरोपियों को हिरासत में लिया है। वीडियो में साफ दिख रहा है कि एक युवक को कुछ लड़कों ने अपने घुटनों से दबा रखा है। एक लड़का उसकी कमर और पैरों के पास ताबड़तोड़ वार कर रहा है। गुरुवार को हुई वारदात के बाद शनिवार को मृतक के परिजनों ने धरना खत्म किया। मृतक जगदीश चुनाई मिस्त्री का काम करता था। केंद्गीय जल शक्ति मंत्री ने किया ट्वीट केंद्गीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने ट्वीट किया है। उन्होंने कहा कि राहुल जी आप लखमीपुर की चिंता न करें। वहां योगी जी का शासन है। आपके प्रिय गहलोत जी का नहीं! आप राजस्थान के प्रेमपुरा में इस दलित युवक की हत्या पर कुछ कहने की हिम्मत दिखाएं, ताकि जनता को मालूम हो कि आप कितने सच्चे हैं? दो दिन बाद धरना खत्म एसडीएम रंजीत कुमार ने बताया कि प्रेमपुरा हत्याकांड मामले में शनिवार दोपहर बाद जगदीश के परिजनों से प्रशासन की बातचीत हुई। वार्ता में जगदीश के हत्यारों व उसकी हत्या करने की साजिश में शामिल आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी करवाने, मामले की निष्पक्ष जांच एवं पीड़ित परिवार को नियमानुसार आर्थिक सहायता मुहैया करवाने की मांग रखी गई। तीनों मांगों पर सहमति बनने पर पीड़ित परिवार शव ले जाने को तैयार हुआ। तीन आरोपियों को हिरासत में लिया पीलीबंगा थाना प्रभारी इंद्रकुमार ने बताया कि अभी तक इस हत्याकांड के मुख्य आरोपी मुकेश पुत्र हेतराम, ओमप्रकाश उर्फ शिवप्रकाश उर्फ नेन्हो पुत्र भागीरथ और हंसराज पुत्र काशीराम निवासी प्रेमपुरा को हिरासत में लिया गया है। शेष फरार आरोपियों की धरपकड़ के लिए दो टीमें गठित की गई हैं। फरार आरोपियों को पकड़ने के लिए उनके परिजनों को भी हिरासत में लिया है। शीघ्र ही सभी आरोपियों की गिरफ्तारी कर लिया जाएगा। विनोद, मुकेश, लालचंद उर्फ रामेश्वर, सिकंदर, दलीप ओड, गंगाराम, महेंद्र, इंद्राज, ओमप्रकाश उर्फ नेन्हों, सुमन, हंसराज ओड के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

Top News