taaja khabar...सुप्रीम कोर्ट से मोदी को राफेल पर बड़ी राहत, राहुल को झटका....मध्य प्रदेश के 18वें मुख्यमंत्री होंगे कमलनाथ, कांग्रेस ने किया ऐलान...हिमाचल विधानसभा में पारित हुआ गाय को राष्ट्रमाता का दर्जा देने का प्रस्ताव...मुठभेड़ में मारे गए तीन लश्कर आतंकियों में हैदर मूवी में ऐक्टिंग करने वाला युवक भी शामिल...मिजोरम: पहली बार ईसाई रीति-रिवाजों के साथ होगा शपथ ग्रहण...पाकिस्तानियों को भारत में बसाने का विवादित कानून, SC ने उठाए सवाल...तीन राज्यों में हार के बाद 2019 के लिए मैराथन प्रचार में जुटेंगे पीएम मोदी, दक्षिण, पूर्व और पूर्वोत्तर पर नजर...बीजेपी का बड़ा दांव, गांधी परिवार के गढ़ से कुमार विश्वास को दे सकती है टिकट...छत्तीसगढ़ में हर तीसरे MLA पर आपराधिक केस, तीन-चौथाई करोड़पति...हार के बाद BJP ने 2019 के चुनाव के लिए भरी हुंकार, रणनीति तैयार...
किरोड़ी लाल बीजेपी में लौटेंगे, 3 विधायकों के साथ होगी वापसी
जयपुर।राजपा अध्यक्ष व लालसोट से विधायक किरोड़ी लाल मीणा की भाजपा में वापसी हो सकती है। किरोड़ी की तीन विधायकों के साथ भाजपा में वापसी संभव है। सूत्रों के अनुसार किरोड़ी की पार्टी की विधायक गीती वर्मा को मंत्री बनाया जा सकता है। इतना ही नहीं किरोड़ी के भाई जगमोहन मीणा को पार्टी राज्यसभा भेज सकती है। किरोड़ी पहले भी भाजपा में थे और पिछली वसुंधरा सरकार में खाद्य आपूर्ति मंत्री रह चुके हैं। - किरोड़ी पिछली वसुंधरा सरकार में खाद्य आपूर्ति मंत्री रह चुके हैं। इसके बाद 2008 में आई गहलोत सरकार में किरोड़ी सीधे तो शामिल नहीं हुए, लेकिन उनकी पत्नी गोलमा मंत्री बन गईं। इसके बाद से भाजपा और किरोड़ी के संबंधों में खटास आ गई थी। - प्रदेश में 200 विधानसभा सीटों में से राजपा के चार विधायक हैं। इसमें किरोड़ी लाल लालसोट से उनकी पत्नी गोलमा देवी राजगढ़ लक्ष्मणगढ़ से, गीता वर्मा सिकराय से और आमेर से नवीन पिलानिया हैं। नोर्थ ईस्ट में भाजपा की जीत ने बदले समीकरण - त्रिपुरा, नगालैंड और मेघालय के चुनाव नतीजों ने साबित कर दिया है कि मोदी लहर का असर देश में अब भी है। पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा के पास तीनों राज्यों में से सिर्फ नगालैंड में एक सीट थी। एनपीपी, 2016 में भाजपा के गठबंधन एनडीए में शामिल हो चुकी है। इसलिए छोड़ी थी भाजपा - पिछल वसुंधरा सरकार में चुनाव में टिकट को लेकर पार्टी नेतृत्व से मतभेद हुए थे। किरोड़ी अपने समर्थकों को टिकट दिलवाना चाहते थे, लेकिन बात नहीं बनी तो वे नाराज हो गए और भाजपा छोड़ दी। किरोड़ी के भाजपा में आने से ये होंगे राजनीतिक समीकरण - भाजपा को होगा फायदा क्योंकि मीणाओं के सबसे बड़े नेता के रूप में जाने जाते हैं। - तीसरे मोर्चे की संभावनाएं हुई धूमिल - कांग्रेस खेमे में हचलच। जानिए किरोड़ी लाल के बारे में - पेशे से डाक्टर (एमबीबीएस) - दौसा जिले की महुआ तहसील के खोहरा में पिता मनोहरलाल मीणा और फूला देवी के यहां 3/11/1951 को जन्म। - 8वीं, 11वीं, 12वीं, 13वीं और 14वीं विधानसभा में सदस्य रहे। - 1986 में लैंड डेवलपमेंट बैंक हिंडौन के डायरेक्टर रहे। - 1995 से 1998 दौसा जिला प्रमुख - 1998 से 1999 प्रदेशाध्यक्ष एसटी मोर्चा - भाजपा राज्य कार्यकारिणी के चार बार सदस्य भी रहे - एमबीबीएस करने के बाद राजनीति में शामिल हो गए। - चार बार भाजपा राष्ट्रीय परिषद के सदस्य रहे - 2003 से 2008 तक खाद्य आपूर्ति मंत्री रहे - 2009 में सांसद चुने गए राजनीतक उठापठक भरा रहा जीवन - सवाईमाधोपुर स्थित एशिया की सबसे बड़ी सीमेंट फैक्ट्री जयपुर उद्योग लिमेटेड के कर्मचारियों के साथ आंदोलन किया। पुलिस लाठीचार्ज झेला। इसमें वे गंभीर घायल हुए। - धौलपुर बाड़ी में माइनिंग माफिया के खिलाफ व्यापक स्तर पर श्रमिक आंदोलन चलाया। - राममंदिर आंदोलन के दौरान अयोध्या में अरेस्ट किए गए। - भाजपा की एकता यात्रा के दौरान हिरासत में लिए गए। तिहाड़ जेल भेज गए।

Top News

http://www.hitwebcounter.com/