taaja khabar....संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा- नागपुर से नहीं चलती सरकार, कभी नहीं जाता फोन...जॉब रैकिट का पर्दाफाश, कृषि भवन में कराते थे फर्जी इंटरव्यू...हिज्बुल का कश्मीरियों को फरमान, सरकारी नौकरी छोड़ो या मरो...एमपी, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में भी बीएसपी को चाहिए ज्यादा सीटें...अगस्ता डील के बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल का दुबई से जल्द हो सकता है प्रत्यर्पण....PM मोदी की पढ़ाई पर सवाल उठाकर फंसीं कांग्रेस की सोशल मीडिया हेड स्पंदना, हुईं ट्रोल...
मध्य प्रदेश के बाद राजस्थान में बच्चियों से रेप पर फांसी की सजा को सदन की मुहर
जयपुर महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराधों को देखते हुए राज्य सरकारें अब इससे निपटने के लिए कठोर कदम उठाती दिख रही हैं। मध्य प्रदेश के बाद अब राजस्थान सरकार ने भी रेप के दोषियों को कड़ी सजा देने का रास्ता साफ करने की कोशिश की है। इसी कड़ी में शुक्रवार को राजस्थान में 12 साल या उससे कम उम्र लड़कियों से रेप के दोषियों को फांसी की सजा के प्रावधान वाला बिल सदन में पास कर दिया गया। गौरतलब है कि नाबालिग बच्चियों के साथ रेप और फिर उनकी नृशंस हत्याओं की एक के बाद कई वारदातें सामने आने के बाद राज्य सरकारों में खलबली मची हुई है। एनसीआरबी द्वारा जारी किए आंकड़ों ने इस मुद्दे को और भी बल दिया। आंकड़ों में रेप की घटनाओं को लेकर अव्वल रहने पर लगातार आलोचनाओं का सामना कर रही मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार ने सबसे पहले यह बिल पेश किया था जिसे विधानसभा में पारित भी कर दिया गया था। मध्य प्रदेश से सबक लेते हुए अब राजस्थान सरकार ने भी 12 साल से कम उम्र की बच्चियों से रेप के दोषियों को फांसी देने के लिए यह बिल लाने की तैयारी शुरू कर दी थी। राज्य के गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया ने इस बात की घोषणा करते हुए कहा था कि संबंधित विभाग मध्य प्रदेश द्वारा पारित बिल का अध्ययन कर राज्य के लिए ड्राफ्ट तैयार कर रहे हैं। इन दोनों राज्यों के अलावा हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर ने भी राज्य में बच्चियों के साथ लगातार सामने आईं रेप और हत्या की घटनाओं पर आलोचना का शिकार होने के बाद ऐसा ही कानून लाने की घोषणा की थी।

Top News

http://www.hitwebcounter.com/