taaja khabar....संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा- नागपुर से नहीं चलती सरकार, कभी नहीं जाता फोन...जॉब रैकिट का पर्दाफाश, कृषि भवन में कराते थे फर्जी इंटरव्यू...हिज्बुल का कश्मीरियों को फरमान, सरकारी नौकरी छोड़ो या मरो...एमपी, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में भी बीएसपी को चाहिए ज्यादा सीटें...अगस्ता डील के बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल का दुबई से जल्द हो सकता है प्रत्यर्पण....PM मोदी की पढ़ाई पर सवाल उठाकर फंसीं कांग्रेस की सोशल मीडिया हेड स्पंदना, हुईं ट्रोल...
सीएमएचओ डॉ. बी.एल. मीणा ने किया ग्रामीण अस्पतालों का औचक निरीक्षण कहीं ताला तो कहीं डॉक्टर नदारद मिले
5 चिकित्साधिकारियों को थमाए नोटिस बीकानेर। सीएमएचओ डॉ. बी.एल. मीणा ने शुक्रवार प्रातः ग्रामीण स्वास्थ्य केन्द्रों का औचक निरीक्षण कर सेवाओं का हाल जाना। निरीक्षण में जहां पीएचसी बम्बलू पर ताला मिला तो पीएचसी शेरेरां, नौरंगदेसर व सीएचसी कालू से चिकित्सक नदारद मिले। ग्रामीण क्षेत्र में आवश्यक सेवाओं के प्रति ऐसी लापरवाही से नाराज डॉ. मीणा ने ताबड़तोड़ कार्यवाही करते हुए चारों अस्पतालों के प्रभारी चिकित्साधिकारियों सहित कुल 5 चिकित्सकों को कारण बताओ नोटिस जारी किए है। डॉ. मीणा ने बताया कि हॉलिडे के बावजूद अस्पताल को सुबह 2 घंटे खुलना होता है लेकिन अस्पतालों पर ताला मिलना या डॉक्टर की अनुपस्थिति घोर लापरवाही है। सीएमएचओ द्वारा अस्पताल में साफ-सफाई, बायोमेडिकल वेस्ट निस्तारण, दवाओं की उपलब्धता, आई.ई.सी. सामग्री के प्रदर्शन, लक्ष्यों के विरुद्ध उपलब्धियां, मौसमी बीमारियों की रोकथाम, गम्बुसिया हैचरी के रख-रखाव व फ्लैगशिप योजनाओं की प्रगति की जानकारी लेकर आवश्यक निर्देश दिए गए। इन्हें किया जवाब तलब सीएमएचओ डॉ. मीणा ने बंद मिली पीएचसी बम्बलू की प्रभारी डॉ. शाहिना कोहरी सहित अनुपस्थित मिले पीएचसी शेरेरां के प्रभारी डॉ. अश्विनी कुमार, नौरंगदेसर की डॉ. नेहा दाधीच, सीएचसी कालू के प्रभारी डॉ. गोविन्द राम व डॉ. इरफान कुरैशी को कारण बताओ नोटिस भेज दिए है। नोटिस का संतोषजनक जवाब न मिलने पर कड़ी अनुशासनात्मक कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

Top News

http://www.hitwebcounter.com/