taaja khabar....पाकिस्तान को अमेरिका की चेतावनी- अब भारत पर हमला हुआ तो 'बहुत मुश्किल' हो जाएगी ...नहीं रहे 1971 युद्ध के हीरो, रखी थी बांग्लादेश नौसेना की बुनियाद......मध्य प्रदेश: सट्टा बाजार में फिर से 'मोदी सरकार...J&K: होली पर पाकिस्तान ने फिर तोड़ा सीजफायर, एक जवान शहीद, सोपोर में पुलिस टीम पर आतंकी हमला...लोकसभा चुनाव: बीजेपी की पहली लिस्ट के 250 नाम फाइनल, आडवाणी, जोशी का कटेगा टिकट?....प्लास्टिक सर्जरी से वैनुआटु की नागरिकता तक, नीरव ने यूं की बचने की कोशिश...हिंद-प्रशांत क्षेत्र: चीन के बढ़ते प्रभाव को रोकने की काट, इंडोनेशिया में बंदरगाह बना रहा भारत...समझौता ब्लास्ट में सभी आरोपी बरी होने पर भड़का पाकिस्तान, भारत ने दिया जवाब ...राहुल गांधी बोले- हम नहीं पारित होने देंगे नागरिकता संशोधन विधेयक ...
निरंकारी सद्गुरु माता सुदीक्षा जी महाराज के पावन सानिध्य में 14 दिसम्बर को विशाल निरंकारी सन्त समागम का आयोजन
- हजारों निरंकारी अनुयाई श्रद्धापूर्वक शामिल होंगे श्रीगंगानगर, 11 दिसम्बर 2018: निरंकारी सद्गुरु माता सुदीक्षा जी महाराज के पावन सानिध्य में 14 दिसम्बर, शुक्रवार को सूरतगढ़ में विशाल निरंकारी सन्त समागम का आयोजन किया गया है। स्टेडियम ग्राउंड, रेडियो स्टेशन (आकाशवाणी) के सामने, निरंकारी सत्संग भवन के नजदीक, सूरतगढ़ में शुक्रवार सांय 5 से 8 बजे तक आयोजित इस विशाल निरंकारी सन्त समागम में श्रीगंगानगर सहित हनुमानगढ़ तथा आसपास के जिलों व राज्यों से हजारों निरंकारी अनुयाई श्रद्धापूर्वक शामिल होकर सतगुरु के आलौकिक पावन दिव्य दर्शनों का आनन्द प्राप्त करेंगे तथा गुरू वचनों को श्रवण कर जीवन में ढालकर मानवता के उत्थान के लिए अपना अमूल्य योगदान देंगे। समागम में सद्गुरु के पावन मुखारविंद से संसार में विश्व-भाईचारा, साम्प्रदायिक सौहार्द व मानवीय मूल्यों से ओत-प्रोत दिव्य वचन सुनने का अवसर प्राप्त होगा। ईश्वर के ज्ञान के बिना मानव की भक्ति सम्पूर्ण नहीं होती है। निरंकारी भक्तों द्वारा निराकार के साकार रूप सतगुरू के सानिध्य में ब्रह्म विचारों के साथ-साथ गीत-संगीत और कविताओं जैसी विविध विद्याओं में सतगुरु, निरंकार एवं साध-संगत की महिमा का गुणगान किया जाएगा तथा सतगुरु की कृपा से ईश्वर को जानकर इसकी भक्ति करके जीवन सफल बनाने का संदेश मानवमात्र को दिया जाएगा। इस सन्त समागम के लिए निरंकारी श्रद्धालुओं में भारी उत्साह है तथा प्रबन्धक, सेवादल एवं साध-संगत के सभी सदस्य समर्पित भाव से तैयारियों में जुटे हुए हैं। समागम स्थल पर ही लंगर की व्यवस्था की गई है। श्रीगंगानगर से निरंकारी श्रद्धालु बसों एवं निजी वाहनों द्वारा निरंकारी सन्त समागम में शामिल होंगे। समस्त प्रभु प्रेमी जिज्ञासु सज्जनों से शुक्रवार सांय 5 से 8 बजे तक सूरतगढ़ में आयोजित इस विशाल निरंकारी सन्त समागम में उपस्थित होकर आध्यत्मिक आनन्द प्राप्त करने का आह्वान किया गया है।

Top News

http://www.hitwebcounter.com/