taaja khabar....पाकिस्तान को अमेरिका की चेतावनी- अब भारत पर हमला हुआ तो 'बहुत मुश्किल' हो जाएगी ...नहीं रहे 1971 युद्ध के हीरो, रखी थी बांग्लादेश नौसेना की बुनियाद......मध्य प्रदेश: सट्टा बाजार में फिर से 'मोदी सरकार...J&K: होली पर पाकिस्तान ने फिर तोड़ा सीजफायर, एक जवान शहीद, सोपोर में पुलिस टीम पर आतंकी हमला...लोकसभा चुनाव: बीजेपी की पहली लिस्ट के 250 नाम फाइनल, आडवाणी, जोशी का कटेगा टिकट?....प्लास्टिक सर्जरी से वैनुआटु की नागरिकता तक, नीरव ने यूं की बचने की कोशिश...हिंद-प्रशांत क्षेत्र: चीन के बढ़ते प्रभाव को रोकने की काट, इंडोनेशिया में बंदरगाह बना रहा भारत...समझौता ब्लास्ट में सभी आरोपी बरी होने पर भड़का पाकिस्तान, भारत ने दिया जवाब ...राहुल गांधी बोले- हम नहीं पारित होने देंगे नागरिकता संशोधन विधेयक ...
आईएएस अधिकारियों ने ट्विटर पर केजरीवाल सरकार के आरोपों पर पलटवार किया
नई दिल्ली दिल्ली के नौकरशाहों ने मंगलवार को सोशल मीडिया पर AAP सरकार के इस आरोप का जवाब दिया कि आईएएस अधिकारी 'हड़ताल' पर हैं। उन्होंने अपने द्वारा हाल में किए गए कार्यों को बताने के लिए हैशटैग 'डेल्ही ऐट वर्क नो टू स्ट्राइक' बनाया और इस बिन्दु पर जोर दिया कि वे सभी काम कर रहे हैं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और मंत्री गोपाल राय, सत्येंद्र जैन सोमवार शाम से अपनी मांगों को लेकर उपराज्यपाल अनिल बैजल के कार्यालय में बैठे हुए हैं। इनमें आईएएस अधिकारियों को उनकी 'हड़ताल' खत्म करने का निर्देश देने और 'चार महीने' तक काम रोकने वालों के खिलाफ कार्रवाई सहित अन्य मांगें शामिल हैं। केजरीवाल ने आरोप लगाया कि AAP सरकार का काम 'हड़ताल' के कारण प्रभावित हुआ है। अधिकारियों के संगठन ने कहा कि कोई भी अधिकारी हड़ताल पर नहीं है और कोई भी काम प्रभावित नहीं हुआ है। आईएएस एजीएमयूटी (अरुणाचल प्रदेश-गोवा-मिजोरम और केन्द्र शासित प्रदेश) काडर असोसिएशन ने ट्विटर के जरिए दिल्ली सरकार के अधिकारियों द्वारा किए गए कार्यों की जानकारी दी। असोसिएशन ने अधिकारियों के उनके संबंधित कार्यालयों में काम करने की तस्वीरें ट्वीट करते हुए कहा, 'हर कार्यालय और अधिकारी ईमानदारी से काम कर रहा है। तथ्य खुद बोलते हैं।' हालांकि यह ट्विटर हैंडल वेरिफाइड नहीं है। एक अन्य ट्वीट में असोसिएशन ने कहा, 'झूठ नहीं फैलाया जाना चाहिए। सभी अधिकारी मेहनत से काम कर रहे हैं।' इस असोसिएशन के अलावा वरिष्ठ नौकरशाहों ने भी ट्विटर पर अपने काम की चर्चा की।

Top News

http://www.hitwebcounter.com/