taaja khabar....BSF की 35 चौकियां PAK के निशाने पर, जवाबी कार्रवाई में 8 पाकिस्तानी रेंजर्स ढेर ...पूर्वोत्तर राज्यों के विधानसभा चुनावों में बड़ी खिलाड़ी बनेगी बीजेपी?...मिशन-2019 पर बीजेपी की नजर, काशी में 17 हजार युवाओं को मंत्र देंगे शाह-योगी....वसुंधरा सरकार को झटका, राजीव केंद्रों के नाम अटल सेंटर करने पर हाई कोर्ट ने लगाई रोक......पद्मावत' पर बैन का वादा निभाएगी वसुंधरा सरकार! कानूनी सलाह की तैयारी .....अस्तित्व की लड़ाई लड़ रहे तोगड़िया का दावा- मैं ही वीएचपी का अध्यक्ष...कपिल मिश्रा ने जारी किया 'AAP का इंटरनल सर्वे', 20 में से 11 सीटों पर रेड अलर्ट...दलाई लामा की मौजूदगी में बोधगया को दहलाने की साजिश नाकाम, बम बरामद....
पहले अटेम्प में ही UPSC TOPPER बने अनमोल शेर सिंह बेदी, बहन ने की मददUPSC ने साल 2016 की परीक्षा का रिजल्ट घोषित कर दिया है. इस बार कर्नाटक की नंदनी के आर ने बाजी मारी है. वहीं दूसरे स्थान पर पंजाब के अनमोल शेर सिंह रहे. वहीं तीसरे स्थान पर गोपालकृष्णन रोनांकी रहे. नंदनी के आर जहां कर्नाटक की रहने वाली हैं, वहीं अनमोल शेर सिंह अमृतसर, पंजाब के रहने वाले हैं. तीसरा स्थान हासिल करने वाले गोपालकृष्णन रोनांकी आंध्र प्रदेश के किसान के बेटे हैं.
नई दिल्ली, UPSC ने साल 2016 की परीक्षा का रिजल्ट घोषित कर दिया है. इस बार कर्नाटक की नंदनी के आर ने बाजी मारी है. वहीं दूसरे स्थान पर पंजाब के अनमोल शेर सिंह रहे. वहीं तीसरे स्थान पर गोपालकृष्णन रोनांकी रहे. नंदनी के आर जहां कर्नाटक की रहने वाली हैं, वहीं अनमोल शेर सिंह अमृतसर, पंजाब के रहने वाले हैं. तीसरा स्थान हासिल करने वाले गोपालकृष्णन रोनांकी आंध्र प्रदेश के किसान के बेटे हैं. UPSC परीक्षा में दूसरा स्थान हासिल करने वाले 23 साल के अनमोल शेर सिंह बेदी ने कहा कि मुझे विश्वास नहीं हो रहा है, यह सब भगवान की कृपा के कारण हुआ है. शेर सिंह ने पहले ही अटेम्प में यूपीएससी आईएएस का एग्जाम क्रैक किया है. अनमोल शेर सिंह बचपन से ही ब्यूरोक्रैट बनने का सपना देखा करते थे और जब यह सपना सच हुआ तो उन्हें यकीन ही नहीं आ रहा था. अनमोल के पिता डॉ. सरबजीत सिंह बेदी एक एजुकेशनलिस्ट हैं और उनकी मां जस्सी बेदी किसी NGO से जुड़ी हुई हैं. अपनी कामयाबी का श्रेय अनमोल ने अपने परिवार को दिया. खासतौर से अपनी बहन गुरसिमरन कौर बेदी को अनमोल ने सबसे बड़ा क्रेडिट दिया. अनमोल ने कहा कि वो इंडियन फोरेन सर्विस के लिए काम करना चाहते हैं. अनमोल की सफलता के पीछे उनके रोजाना आठ घंटे पढ़ने की मेहनत है. बता दें कि इस परीक्षा में 1099 अभ्यर्थी सफल रहे. इनमें 846 पुरुष और 253 महिला अभ्यर्थी शामिल हैं. इनकी नियुक्ति आईएएस, आईएफएस, आईपीएस और अन्य केंद्रीय सेवाओं के लिए होगी. शीर्ष 25 में रहने वालों में 18 पुरुष और 7 महिलाएं हैं.

Top News