taaja khabar...सावधान! चीन से आ रहे हैं खतरनाक सीड पार्सल, केंद्र ने राज्यों और इंडस्ट्री को किया सतर्क....लद्दाख से अरुणाचल प्रदेश तक हवाई हमले की ताकत जुटा रहा चीन, सैटलाइट तस्‍वीर से खुलासा..स्वतंत्रता दिवस से पहले गड़बड़ी की बड़ी साजिश, दिल्ली में भी विदेश से आए 'जहरीले' कॉल....सुशांत सिंहः बीजेपी ने कहा, राउत और आदित्य का CBI करे नार्को, राहुल और प्रियंका गांधी तोड़ें चुप्पी..विदेश मंत्री जयशंकर बोले- भारत और चीन पर दुनिया का बहुत कुछ निर्भर करता है...चीन को बड़ा झटका देने की तैयारी, गडकरी ने बताया क्या है प्लान...कोरोना पर खुशखबरी, देश में 70% के पास पहुंचा कोरोना मरीजों का रिकवरी रेट...सुशांत के पिता पर टिप्पणी कर फंसे शिवसेना नेता संजय राउत, परिवार करेगा मानहानि का केस...राहुल-प्रियंका से मिले सचिन पायलट, घर वापसी कराने की कोशिशें तेज ...पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी कोरोना पॉजिटिव हुए, अस्पताल में भर्ती ...कोरोना पॉजिटिव पाए गए केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल, AIIMS में भर्ती ...दिल्ली हिंसा: आरोपी गुलफिशा ने किए चौंकाने वाले खुलासे, 'सरकार की छवि खराब करना था मकसद' ...

उद्धव कैबिनेट का विस्तार आज, आदित्य समेत ये बन सकते हैं मंत्री, अजित पवार होंगे नंबर 2!

मुंबई उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महा विकास अघाडी का पहला मंत्रिमंडल विस्तार आज होने जा रहा है। सबकी नजरें इस विस्तार पर टिकी हैं, आखिर किस दल से कितने मंत्री बनेंगे। चर्चा है कि पहली बार विधायक बने आदित्य ठाकरे भी राज्यमंत्री के तौर पर कैबिनेट में शामिल हो सकते हैं। साथ ही अजित पवार को डेप्युटी सीएम या कोई बड़ा विभाग मिलने की सुगबुगाहट है। माना जा रहा है कि आज 36 मंत्री शपथ ले सकते हैं जिनमें से शिवसेना के पास मुख्यमंत्री के अलावा 16 मंत्री होंगे। वहीं, एनसीपी के 14 और कांग्रेस के 12 मंत्री होंगे। शपथ ग्रहण समारोह के लिए विधानभवन में विशेष रूप से पंडाल बनाया गया है। इसके साथ ही करीब 5 हजार लोगों को आमंत्रित किया गया है। अभी तक की जानकारी के मुताबिक कांग्रेस के अशोक चव्हाण, केसी पडवी, विजय वडेट्टिवर, अमित देशमुख, सुनील केदार, यशोमती ठाकुर, वर्षा गायकवाड़, असलम शेख, सतेज पाटिल और विश्वजीत कदम मंत्रीपद की शपथ लेंगे। ये हो सकते हैं मंत्रिमंडल में शामिल एनसीपी: अजित पवार, धनंजय मुंडे, जयंत पाटील, छगन भुजबल, जीतेंद्र अव्हाड, नवाब मलिक, दिलीप वलसे पाटील, हसन मुश्रीफ, बालासाहेब पाटील, दत्ता भरणे, अनिल देशमुख, राजेश टोपे और डॉ. राजेंद्र शिंगणे। शिवसेना: अनिल परब, प्रताप सरनाईक, रविंद्र वायकर, सुनील राऊत, उदय सामंत, भास्कर जाधव या वैभव नाईक, आशीष जैस्वाल या संजय रायमुलकर, बच्चू कडू, संजय राठोड शंभुराजे देसाई, प्रकाश अबिटकर, संजय शिरसाट, अब्दुल सत्तार, तानाजी सावंत, गुलाबराव पाटील, दादा भुसे, सुहास कांदे। मंत्रिमंडल विस्तार के लिए विधायकों के नाम फाइनल करने के लिए रविवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) और कांग्रेस की विशेष बैठकें हुईं। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष बालासाहेब थोराट विशेष रूप से दिल्ली गए। वहीं एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने मुंबई में पार्टी नेताओं के साथ बैठक की। गृह मंत्री पर उद्धव लेंगे फैसला! दिल्ली में बैठक खत्म होने के बाद थोराट ने कहा कि कांग्रेस ने अपनी सूची में सभी क्षेत्रों और समाजों के नेताओं का संतुलन बनाने की कोशिश की है। कांग्रेस की तरफ से 12 मंत्री होंगे, जिनमें से 10 कैबिनेट मंत्री होंगे। उधर, एनसीपी नेता जयंत पाटिल ने कहा कि हमने अपने मंत्री बनने वाले विधायकों की सूची मुखयमंत्री को भेज दी है। गृहमंत्री कौन होगा? इसके जवाब में जयंत पाटिल ने कहा कि मंत्रालयों का बंटवारा करना सीएम का विशेषाधिकार है। अजित को मिल सकता अहम ओहदा एनसीपी नेता अजित पवार को उपमुख्यमंत्री पद के साथ-साथ गृहमंत्री पद देकर उद्धव ठाकरे सरकार में नंबर-टू की पॉवर दिए जाने की उम्मीद है। एनसीपी नेता धनंजय मुंडे को वित्त मंत्रालय, जयंत पाटिल को जल संसाधन, छगन भुजबल को ग्राम विकास और जीतेंद्र अव्हाड को सामाजिक न्याय मंत्रालय दिया जा सकता है। इनके अलावा एनसीपी से शपथ लेने वालों में नवाब मलिक, दिलीप वलसे पाटील, हसन मुश्रीफ, बालासाहेब पाटील, दत्ता भरणे, अनिल देशमुख, राजेश टोपे, डॉ. राजेंद्र शिंगणे के नाम शामिल हो सकते हैं। उद्धव कैबिनेट में अभी ये मंत्री कांग्रेस की राज्य इकाई के अध्यक्ष बालासाहेब थोराट और कांग्रेस के ही नितिन राउत, शिवसेना के एकनाथ शिंदे और सुभाष देसाई, एनसीपी के जयंत पाटिल और छगन भुजबल 28 नवंबर को उद्धव ठाकरे के साथ शपथ ले चुके हैं। बता दें कि विभागों के बंटवारे के समय जयंत पाटील के पास वित्त, नियोजन, गृह निर्माण, स्वास्थ्य, सहकार व व्यापार, अन्न व आपूर्ति, ग्राहक संरक्षण, कामगार, अल्पसंख्यक विभाग मंत्रालय था जबकि, छगन भुजबल को ग्राम विकास, जलसंपदा, सामाजिक न्याय, राज्य उत्पादन शुल्क, स्किल डिवेलपमेंट, अन्न व औषधि प्रशासन विभाग की जिम्मेदारी दी गई थी। महाविकास आघाडी सरकार में विभागों के बंटवारे में गृह मंत्रालय शहरी विकास और पीडब्लूयूडी शिवसेना, वित्त मंत्रालय, ग्रामीण विकास, सिंचाई एनसीपी और कांग्रेस को राजस्व एवं कृषि मंत्रालय मिला है।

Top News