taaja khabar...पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा था- 'अभिनंदन को जाने दें, वरना भारत कर देगा हमला' ...'PAK अभिनंदन को नहीं छोड़ता तो फॉरवर्ड बेस तबाह कर देते', वायुसेना की ये थी तैयारी...अभिनंदन की रिहाई पर जेपी नड्डा का राहुल गांधी पर तंज, 'भरोसेमंद' पाकिस्तान की ही सुन लें कांग्रेस के 'शहजादे' ....गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निकटतम साथी केशुभाई पटेल का निधन ...मुंगेर गोलीकांड के विरोध में फूंकी गाड़ियां, SP लिपि सिंह और DM हटाए गए ...एयर पॉल्यूशन रोकने के लिए सख्त कानून, पांच साल तक कैद और एक करोड़ जुर्माना ...निकिता मर्डर: हरियाणा का मोस्ट वॉन्टेड है आरोपी तौसीफ का मामा, इंस्पेक्टर को कर चुका किडनैप ....निकिता मर्डर केस: पीड़ित परिवार ने लगाया आरोप- 'राहुल राजपूत' बनकर मिलता था आरोपी तौसीफ ...फ्रांस के चर्च में आतंकी हमला: 3 लोगों की निर्मम हत्‍या, महिला का गला काटा ...'लक्ष्‍मी बम' पर भड़के मुकेश खन्‍ना, पूछा- क्‍या 'अल्‍लाह बम' या 'बदमाश जीसस' नाम रख सकते हैं? ...

आर्टिकल 15 रिलीज, लोग बोले- आयुष्मान खुराना की एक और ब्लॉकबस्टर फिल्म

नई दिल्ली, 28 जून 2019,आयुष्मान खुराना की फिल्म आर्टिकल 15 रिलीज हो गई है. फिल्म की कहानी सच्ची घटनाओं पर आधारित है. अनुभव सिन्हा ने फिल्म को डायरेक्ट किया है. मूवी को सेलेब्स ने अच्छा रिस्पॉन्स दिया. वहीं सोशल मीडिया पर भी फिल्म की तारीफ की जा रही है. आयुष्मान खुराना के काम का सराहा जा रहा है. अनुभव सिन्हा के डायरेक्शन को भी पसंद किया जा रहा है. लोग फिल्म को 3.5 या उससे ज्यादा स्टार दे रहे हैं. एक यूजर ने लिखा- अनुभव सिन्हा ने एक ऐसी फिल्म ऑफर की है जो पावर, पैसे, माइंड सेट के खेल के साथ लड़ती है. शानदार तरीके से महत्वपूर्ण सोशल बुराईयों को हैंडल करता है. हमारे जातिवादी समाज के बहरे कानों के लिए लाउड बैंग फिल्म. दूसरे यूजर ने लिखा- एक बार फिर आयुष्मान खुराना अपने उल्लेखनीय और शानदार प्रदर्शन के साथ कई रिकॉर्ड तोड़ने के लिए तैयार हैं. अनुभव सिन्हा की आर्टिकल 15 एक साहसिक कदम है. हमें इस समय इसकी जरूरत है, क्योंकि फर्क पड़ता है. शानदार काम आयुष्मान खुराना. ''आउटस्टैंडिंग, मेगा सुपरहिट, शानदार, पैसा वसूल. आयुष्मान खुराना ने एक बार फिर शानदार परफॉर्मेंस दी. शानदार काम. बाकी सभी भी अच्छे हैं. अनुभव सिन्हा अद्भुत डायरेक्टर हैं. दोनों काम शानदार.'' वहीं कुछ लोग फिल्म के कंटेंट से खुश नहीं हैं. एक यूजर ने लिखा- आर्टिकल 15 ये फिल्म स्वतंत्रता की अभिव्यक्ति नहीं है, बल्कि निर्माता की उदासीन सोच है. इस फिल्म ने हिंदू धर्म को बदनाम करने के लिए सारी हदें पार कर दीं. सरकार को इस फिल्म पर प्रतिबंध लगाना चाहिए. एकजुट होकर अपनी सनातन संस्कृति के लिए लड़ो.

Top News