taaja khabar.....30 करोड़ को कोरोना वैक्सीन देने के लिए चुनाव जैसी महातैयारी, पोलिंग बूथ जैसे बनेंगे 'वैक्सीन बूथ' ....लक्ष्मी विलास बैंक के DBIL में विलय को कैबिनेट की मंजूरी, NIIF को 6 हजार करोड़ ​पूंजी ...स्मृति ईरानी बोलीं- घुसपैठियों की मदद कर रहे ओवैसी और केसीआर..पंजाब के सभी शहरों में फिर से नाइट कर्फ्यू, मास्क न पहनने पर लगेगा 1000 का जुर्माना...बंगालः दिलीप घोष की रैली में आ रहे बीजेपी कार्यकर्ताओं पर हमला, TMC पर धमकाने का आरोप...'लव जिहाद' पर कानून किसी धर्म के खिलाफ नहीं, किसी धर्म के पक्ष में नहीं : वीएचपी ....वरिष्ठ कांग्रेस नेता अहमद पटेल का निधन, एक महीने पहले हुए थे कोरोना पॉजिटिव.....विजय कुमार सिन्हा बने बिहार विधानसभा के स्पीकर, हंगामे के बीच हुई वोटिंग में महागठबंधन के अवध बिहारी को हराया ,....‘बोल दो कोरोना हो गया’, सुशील मोदी का दावा- लालू ने किया BJP MLA को फोन, ऑडियो जारी...गांगुली होंगे BJP का चेहरा? टीएमसी सांसद बोले- उन्हें नहीं पता गरीबों की दिक्कत, टिक नहीं पाएंगे...यूपी के बाद हरियाणा सरकार भी बनाएगी लव जिहाद पर कानून, अनिल विज बोले- योगी जिंदाबाद...अमेरिका के नए विदेश मंत्री ऐंटनी ब्लिंकेन पाकिस्तान के लिए बुरी खबर? ...नीतीश कुमार और अशोक चौधरी का सदन में रहना गलत नहीं, कानून विशेषज्ञ....

तुरंत संक्रमित होने पर मात्र 30 सेकंड्स में मारा जा सकता है कोरोना वायरस

ऐसा किसी के भी साथ हो सकता है कि कोई जाने अनजाने किसी कोरोना संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आ जाए। यदि आपको किसी व्यक्ति के लक्षणों के आधार पर उसके कोरोना संक्रमित होने का शक हो तो आप तुरंत माउथवॉश करके खुद को सुरक्षित कर सकते हैं। ऐसा हाल ही एक रिसर्च में साबित हुआ है कि मार्केट में मिलनेवाले माउथवॉश का यदि समय पर उपयोग कर लिया जाए तो कोरोना को मुंह के अंदर ही मात्र 30 सेकंड्स में खत्म किया जा सकता है। कोरोना पेशंट्स पर की जा रही अपनी रिसर्च में यूनाइडेट किंगडम के वेल्स स्थित यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल (University Hospital of Wales)के डॉक्टर्स की टीम ने यह पाया है कि यदि एक स्वस्थ व्यक्ति किसी कोरोना संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आ जाए और कोरोना वायरस उसके मुंह में प्रवेश कर जाए तो इस वायरस को माउथवॉश के जरिए तुरंत खत्म किया जा सकता है। बस इस बात का ध्यान रखें कि आप अपने मुंह में स्थित लार को निगले नहीं बल्कि थूक दें और तुरंत माउथवॉश का उपयोग कर लें। शोध से जुड़े वैज्ञानिकों का कहना है कि माउथवॉश के जरिए कोरोना को तभी तक खत्म किया जा सकता है, जब तक कि वह मुंह के अंदर सलाइवा में उपस्थित है। यदि व्यक्ति इस सलाइवा को निगल लेता है और कोरोना वायरस उसके श्वसनतंत्र में प्रवेश कर जाता है तो फिर माउथवॉश का उस पर कैसा असर होता है, इस बारे में अभी पुख्ता रूप से कुछ नहीं कहा जा सकता। लेकिन यह बात साफ है कि उस स्थिति में माउथवॉश कोरोना पर बहुत अधिक प्रभावी नहीं होगा क्योंकि यह मुंह तक ही सीमित रहता है। इस रिसर्च से यह बात तो साफ है कि हाथों को सैनिटाइज करने के साथ ही यदि टाइम-टाइम पर माउथवॉश किया जाए तो कोरोना के संक्रमण की संभावना को और अधिक कम किया जा सकता है। आपको ध्यान दिला दें कोरोना वायरस को निष्प्रभावी करने के लिए आयुर्वेदिक डॉक्टर्स भी बार-बार गर्म पानी का सेवन करने की सलाह दे रहे हैं। दिन में एक बार काढ़ा पीना भी इसी सुझाव का हिस्सा है। माउथवॉश में होनी चाहिए यह खूबी -शोध से जुड़े वैज्ञानिकों का कहना है कि कोरोना को मुंह में ही खत्म करने के लिए जरूरी है कि आप जिस माउथवॉश का उपयोग कर रहे हैं, उसमें कम से कम 0.07% सेटाइपिराइडनियम क्लोराइड (cetypyridinium chloride-CPC) होना चाहिए। पिछले दिनों हुए एक और शोध में यह बात सामने आई थी की CPC आधारित माउथवॉश वायरस लोड को कम करते हैं। हालांकि इन स्टडीज पर अभी अन्य वैज्ञानिकों की राय और उनकी समीक्षा का इंतजार है। लेकिन लैब में यही बात साबित हुई है कि मुंह सफाई और मसूड़ों की सेहत को ध्यान में रखते हुए जो माउथवॉश उपयोग किए जाते हैं, वे मुंह के अंदर कोरोना वायरस को खत्म करने में प्रभावी साबित हो सकते हैं।

Top News