taaja khabar...लद्दाख में अब चीनी सैनिकों का 1962 जैसा पैंतराः बजा रहे पंजाबी गाने, PM मोदी के खिलाफ भड़का रहे ...पैंगोंग झील: भारत के ऐक्‍शन के बाद 33 साल में पहली बार सबसे ज्‍यादा अलर्ट पर चीनी सेना ...लद्दाख: राजनाथ सिंह के बयान पर चीनी मीडिया को लगी म‍िर्ची, दे डाली युद्ध की धमकी ...लद्दाख में चीन से लंबा चलेगा तनाव! देपसांग में ग्राउंड वाटर की संभावनाएं तलाश रही सेना...महाराष्ट्र सरकार ने बढ़ाई बच्चन फैमिली की सुरक्षा, बीजेपी बोली- सुशांत और कंगना को क्यों नहीं दी? ...योगी आदित्यनाथ ने 87 लाख गरीबों के खाते में ट्रांसफर की 1311 करोड़ रुपये पेंशन ...चीन से तनाव के बीच शाम 5 बजे सर्वदलीय बैठक, कांग्रेस उठाएगी LAC का मुद्दा...UP के बाहुबली MLA विजय मिश्रा पर कसा शिकंजा, पत्नी-बेटा नहीं हुए हाजिर तो संपत्ति होगी कुर्क...नवंबर तक भारत में आ जाएगा कोरोना का रूसी टीका! डॉ. रेड्डीज से हुआ करार ...सरकार किसानों को दे रही 80% सब्सिडी, ऐसे ले सकते हैं फायदा..तीन महीने का इंतजार और फिर ‘ऑपरेशन स्नो लेपर्ड’ चला सेना ने ऐसे दी चीन को मात...जया पर रवि किशन का पलटवार, 'जिस थाली में जहर हो उसमे छेद करना ही पड़ेगा'..

Desi Ghee: फ्लैग्जिबल बॉडी की चाहत पूरी करता है देसी घी का इस तरह उपयोग

स्लिम और फिट बॉडी के साथ ही हर किसी की चाहत होती है कि उनका शरीर फ्लैग्जिबल भी हो। यानी उनके शरीर में लचक भी बनी रहे। ताकि रुटीन लाइफ को ठीक तरह से जीने के साथ ही वे डांस मूव्स और डेली लाइफ स्वैग को इंजॉय कर सकें। आप भी ऐसी ही इच्छा रखते हैं तो आपकी इस इच्छा को पूरा करने में देसी घी का सही तरीके से उपयोग करना बहुत अधिक लाभकारी हो सकता है... शरीर को मिले दो तरह का पोषण शरीर में फ्लैग्जिब्लिटी बनी रहने के लिए जरूरी है कि आपकी मांसपेशियों को जरूरी मात्रा में प्राकृतिक चिकनाई मिलती रहे। साथ ही आपकी हड्डियों में मजबूती बनी रहे। इन दोनों ही जरूरतों को पूरा करने में देसी घी बहुत महत्वपूर्ण रोल निभाता है। ध्यान रखें कि यह घी देसी गाय के दूध से तैयार होना चाहिए। मसल्स को फ्लैग्जिबल बनाए क्योंकि आयुर्वेद के अनुसार गाय का घी शरीर को अंदरूनी पोषण देने का काम करता है और दिमाग को तेज बनाता है। इसके साथ ही गाय के दूध से तैयार किया गया घी प्राकृतिक गुणों से भरपूर होता है, जिसमें बहुत सीमित मात्रा में और पोषित वसा मौजूद होती है। इसलिए गाय का घी दिमाग और शरीर को पोषित करने का काम करता है। जबकि भैंस का घी शरीर में सिर्फ वसा बढ़ाने का काम करता है। शरीर को लचकदार बनाने के लिए आपको गाय के घी का सेवन गर्म दूध के साथ करना चाहिए। शरीर की आंतरिक कोशिकाओं को पोषण जी हां! हैरान ना हों इस बात से। क्योंकि आयुर्वेद के अनुसार, गाय के दूध में घी मिलकार पीने से यह आपके शरीर को किसी सूपर फूड की तरह पोषण देता है। क्योंकि गाय के घी में नैचरल गुड फैट के साथ ही ऐंटिबैक्टीरियल और ऐंटिऑक्सिडेंट्स मौजूद होते हैं। दूध में मिलाकर घी का सेवन करने से शरीर की अंदरूनी कोशिकाओं को पूरा पोषण मिलता है। गाय के दूध में घी मिलाकर पीने से हमारे शरीर का मेटाबॉलिक रेट हाई होता है। इससे शरीर को लगातार ऊर्जा मिलती है। किसी भी व्यक्ति के लिए लचकदार बॉडी पाना तभी संभव है, जब उसके शरीर में ऊर्जा की कोई कमी ना हों। कार्य क्षमता बढ़ाता है -गाय के दूध में मिलाकर पिया गया घी शरीर की कार्य क्षमता और सहनशक्ति दोनों में बढ़ोतरी करता है। साथ ही इससे स्ट्रेचिंग पॉवर बढ़ती है। यानी आप अपने शरीर को अधिक से अधिक स्ट्रेचिंग और मूव्स के लिए तैयार कर सकते हैं।

Top News