taaja khabar....राफेल डील पर नई रिपोर्ट का दावा, नियमों के तहत रिलायंस को मिला ठेका.....सीबीआई को पहली कामयाबी, भारत लाया गया विदेश भागा भगोड़ा मोहम्मद याह्या.....राजस्थान विधानसभा चुनाव की बाजी पलट कर लोकसभा के लिए बढ़त की तैयारी में BJP.......GST के बाद एक और बड़े सुधार की ओर सरकार, पूरे देश में समान स्टैंप ड्यूटी के लिए बदलेगी कानून....UNHRC में भारत की बड़ी जीत, सुषमा स्वराज ने जताई खुशी....PM मोदी के लिखे गाने पर दृष्टिबाधित लड़कियों ने किया गरबा.....मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव: कांग्रेस के साथ नहीं एसपी-बीएसपी, बीजेपी को हो सकता है फायदा....गुरुग्रामः जज की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी ने उनकी पत्नी, बेटे को बीच सड़क गोली मारी, अरेस्ट....बेंगलुरु में HAL कर्मचारियों से मिले राहुल गांधी, बोले- राफेल आपका अधिकार....कैलाश गहलोत के घर से टैक्स चोरी के सबूत मिलेः आईटी विभाग.....मेरे लिए पाकिस्तान की यात्रा दक्षिण भारत की यात्रा से बेहतर: सिद्धू....घायल रहते 2 उग्रावादियों को किया ढेर, शहादत के बाद इंस्पेक्टर को मिलेगा कीर्ति चक्र....छत्तीसगढ़: कांग्रेस को तगड़ा झटका, रामदयाल उइके BJP में शामिल....
हिमोफीलिया के रोगी का प्राथमिकता से हो उपचार
हनुमानगढ़। हिमोफिलिया सोसायटी बीकानेर द्वारा जल संसाधन मंत्री डॉ. रामप्रताप को सोसायटी सचिव देवीलाल पारीक के नेतृत्व में हनुमानगढ़ राजकीय चिकित्सालय में हिमोफीलिया के रोगीयों का रक्त स्त्राव की अधिकता व दर्द सहित सोजन इत्यादि की समस्याओं के संबंध में ज्ञापन सौंपा, जिस पर जल संसाधन मंत्री द्वारा तुरन्त कार्यवाही करते हुये महात्मा गांधी राजकीय चिकित्सालय के प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डॉ. दीपक मित्र सैनी को आदेशित करते हुये सभी औषधी विशेषज्ञों/ शिशु रोग विशेषज्ञों को निर्देशित किया कि जिला चिकित्सालय के आने वाले हिमोफिलिया के रोगीयों का प्राथमिकता से उपचार शुरू करवाये। इस आदेश में नरेन्द्र सिह रोगीमित्र जिला चिकित्सालय को आदेशित किया कि चिकित्सालय परिसर में आने वोल हिमोफिलिया रोगीयों के साथ जाकर प्राथमिकता से पर्ची स्वयं प्राप्त कर पश्चात चिकित्सक को दिखवाये एवं अन्य जांच करवाये तथा साथ ही वार्ड में भर्ती की व्यवस्था आपके द्वारा सुनिश्चित करें। ज्ञापन में बताया गया था कि राजकीय चिकित्सालय में प्रशासनिक प्रक्रिया जिसमें हिमोफिलिया रोगी जब अस्पताल में रक्त स्त्राव/ दर्द सहित सूजन की वजह से आता है तो पर्ची बनाने वाली लाईन, चिकित्सक को दिखाने के लिये लाईन में लगना फिर भर्ती फार्म बनाने के लिये लाइन में लगना, बाद में वार्ड में उपचार शुरू करना, इन प्रक्रिया में रोगी को रक्त स्त्राव/ सहित सूजन से गुजरना पड़ता है जिसमें रोगी रोगी के रक्त स्त्राव/दर्द सहित रोकने वाले फैक्टर (इंजेक्शन) लगने में 2 धण्टे लग रहे थे इन समस्याओं से निजात दिलवाने के लिये ज्ञापन सौंपा था। ज्ञापन देने वालों में सोसायटी सचिव देवीलाल पारीक, श्यामसुन्दर पारीक मटोरियावाली ढाणी, पूर्ण सिंह पेन्सीया, राजू शर्मा, ओमप्रकाश तिवाड़ी, मनोज गोयल आदि लोग शामिल थे। सोसायटी सचिव देवीलाल पारीक ने डॉ. रामप्रताप सिंचाई मंत्री व चिकित्सा अधिकारी डॉ. दीपक मित्र सैनी का आभार जताया।

Top News

http://www.hitwebcounter.com/