taaja khabar....पाकिस्तान को अमेरिका की चेतावनी- अब भारत पर हमला हुआ तो 'बहुत मुश्किल' हो जाएगी ...नहीं रहे 1971 युद्ध के हीरो, रखी थी बांग्लादेश नौसेना की बुनियाद......मध्य प्रदेश: सट्टा बाजार में फिर से 'मोदी सरकार...J&K: होली पर पाकिस्तान ने फिर तोड़ा सीजफायर, एक जवान शहीद, सोपोर में पुलिस टीम पर आतंकी हमला...लोकसभा चुनाव: बीजेपी की पहली लिस्ट के 250 नाम फाइनल, आडवाणी, जोशी का कटेगा टिकट?....प्लास्टिक सर्जरी से वैनुआटु की नागरिकता तक, नीरव ने यूं की बचने की कोशिश...हिंद-प्रशांत क्षेत्र: चीन के बढ़ते प्रभाव को रोकने की काट, इंडोनेशिया में बंदरगाह बना रहा भारत...समझौता ब्लास्ट में सभी आरोपी बरी होने पर भड़का पाकिस्तान, भारत ने दिया जवाब ...राहुल गांधी बोले- हम नहीं पारित होने देंगे नागरिकता संशोधन विधेयक ...
समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीद की तैयारियों को लेकर जिला कलक्टर ने ली बैठक
आपसी समन्वय से गेहूं खरीद को आसान बनाने के जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन ने दिए निर्देश हनुमानगढ़, 25 फरवरी। जिले में समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीद प्रारंभ होने से पहले तैयारियों को लेकर जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन ने सोमवार को कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक ली। बैठक में जिला कलक्टर ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि आपसी समन्वय से सभी कार्य करें ताकि काश्तकार और आमजन को कोई परेशानी ना आए। बैठक में जिला रसद अधिकारी श्री उम्मेद सिंह पूनियां ने बताया कि जिले में गेहू खरीद को लेकर 14 केन्द्र बनाए गए हैं जिनमें से 13 पर एफसीआई और नोहर केन्द्र पर तिलम संघ गेहू की समर्थन मूल्य पर खरीद करेगा। गेहू खरीद तैयारियों को लेकर जिला रसद अधिकारी ने अब तक की गई व्यवस्थाओं के बारे में विस्तार से बैठक में जानकारी देते हुए बताया कि चक जहाना पर भी गेहूं खरीद के लिए प्रोपजल भेजा था लेकिन वो रिजक्ट कर दिया गया। कृषि विभाग के उपनिदेशक श्री दानाराम गोदारा ने बताया कि इस बार जिले मे ंकरीब 2.49 लाख हैक्टेयर में गेहूं की बिजाई हुई है। करीब 10 लाख मैट्रिक टन गेहूं होने की संभावना जताई जा रही है। जो पिछली बार से ज्यादा है। इस पर एफसीआई के एरिया मैनेजर श्री लोकेश ब्रह्मभट्ट ने बताया कि पिछली बार 5.28 लाख मैट्रिक टन गेहूं की समर्थन मूल्य पर खरीद की गई थी। इस बार ये करीब 5.82 मैट्रिक टन रहने की संभावना है। जिले में गेहूं को लेकर संभावित तिथि 1 अप्रैल से 15 जून है।साथ ही एरिया मैनेजर ने बताया कि पिछले साल श्रीगंगानगर और हनुमानगढ़ को छोड़कर पूरे भारत में आनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाया गया था। इस बार भी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन को लेकर कोई दिक्कत आई तो ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन से भी खरीद की जा सकती है। श्री ब्रह्मभट्ट ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन को लेकर पूरा तरीका बताया कि किस प्रकार काश्तकार ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवा सकता है। एफसीई के एरिया मैनेजर श्री लोकेशन ब्रह्मभट्ट ने बताया कि चावल और गेहूं मिनिस्टरी ऑफ फूड खरीदती है वहीं सरसों, चना और मूंग मिनिस्टरी ऑफ एग्रिक्लचर खरीदता है इसलिए इनकी खरीद को लेकर प्रक्रिया कुछ भिन्न हो सकती है। एफसीआई के एरिया मैनेजर ने बताया कि जिले में गेहूं की समर्थन मूल्य पर खरीद को लेकर 1 करोड़ 16 लाख बारदाना की जरूरत पड़ेगी जिसमें से 71 लाख पहुंच चुका है। बाकि का बारदाना कलकत्ता से लाने के प्रोसेस में है अगले 20-25 दिन में पूरा बारदाना यहां पहुंच जाएगा। जिला कलक्टर को एफसीआई के अधिकारियों ने बताया कि लिफ्टिंग जल्द से जल्द करने की कोशिश की जाएगी। जिला कलक्टर ने कहा कि मंडी यार्ड में शैड किसानों के लिए खाली रखें। ताकि काश्तकारों को परेशानी ना हो। एफसीआई के अधिकारियों ने लिफ्टिंग को लेकर इश्यू उठाया कि पीलीबंगा और डबलीराठान में ट्रेक्टर ट्रॉली और ट्रक के जरिए लिफ्टिंग को लेकर कुछ दिक्कतें आ सकती है। इस पर जिला परिवहन अधिकारी श्री जगदीश अमरावत ने कहा कि पीलीबंगा और डबलीराठान समेत सभी जगहों को लेकर ट्रक यूनियन और ट्रॉली यूनियन के पदाधिकारियो के साथ बैठक आयोजित कर आपसी समन्वय से गेहूं की लिफ्टिंग करवा दी जाएगी। इसमें किसी प्रकार की कोई उलझन का सामना नहीं करना पड़ेगा। जिला रसद अधिकारी श्री उम्मेद सिंह पूनियां ने बताया कि संगरिया और रावतसर में स्टोरेज की दिक्कत आ सकती है। लिहाजा इसको लेकर मंडी यार्ड या फेक्ट्री इत्यादि में एक बार स्टोरेज की व्यवस्था कर ली जाए। बैठक में व्यापारियों ने समस्या बताई कि बारदान के भार 580 ग्राम होता है लेकिन सूखने के बाद उसका वजन 400 ग्राम रह जाता है। इसको लेकर एफसीआई के अधिकारियों ने बताया कि इस समस्या को लेकर पूरी जानकारी हाईलेवल पर दी जा चुकी है। बैठक में जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन के अलावा जिला रसद अधिकारी श्री उम्मेद सिंह पूनियां, डीटीओ श्री जगदीश अमरावत, डीवाईएसपी श्री वीरेन्द्र जाखड़, पीआरओ श्री सुरेश बिश्नोई, कृषि विभाग के उपनिदेशक श्री दानाराम गोदारा, एफसीआई के एरिया मैैनेजर श्री लोकेश ब्रह्मभट्ट, मैनेजर श्री अमरचंद मीना, तिलम संघ के श्री एमके पुरोहित, समेत सभी मंडियों के सचिव और व्यापारीगण बैठक में उपस्थित थे।

Top News

http://www.hitwebcounter.com/