taaja khabar..चेहरे ढके थे, पर चाल बता रही थी रियाज-गौस का पूरा हाल, कोर्ट में उठाकर ले गए पुलिसवाले..कन्हैयालाल के हत्यारों को मिल नहीं रहे वकील, दो और साथी हुए गिरफ्तार..कन्हैया लाल केस को लेकर सरकार का एक्शन, उदयपुर SP और IG पर गिरी गाज, राजस्थान में 32 IPS का ट्रांसफर..अमरावती में उदयपुर जैसी घटना? 54 साल के केमिस्ट की गला काटकर हत्या, NIA टीम कर रही जांच..20 करोड़ लोगों तक पहुंचने का लक्ष्य, हर घर तिरंगा अभियान चलाएगी बीजेपी..हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी की पत्नी को जान से मारने की धमकी, लखनऊ पुलिस ने बढ़ाई सुरक्षा..दिल्ली की अदालत ने जुबैर की जमानत याचिका खारिज की, 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा..नुपुर शर्मा को 18 जून को नोटिस जारी किया गया था, हुई थी पूछताछ: दिल्ली पुलिस..

जिले में नौ माह से पांच साल तक के बच्चों को पिलाई जा रही विटामिन-ए की खुराक

हनुमानगढ़। विटामिन-ए की कमी के कारण बच्चों के स्वास्थ्य पर पडऩे वाले दुष्प्रभाव को रोकने के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिले में विटामिन-ए कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है। कार्यक्रम के अंतर्गत चिकित्सा संस्थानों में 9 माह से 5 साल के बच्चों को विटामिन-ए की खुराक पिलाई जा रही है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. नवनीत शर्मा ने बताया कि विभाग की ओर से प्रति वर्ष दो बार बच्चों को विटामिन-ए खुराक पिलाने के लिए विशेष कार्यक्रम चलाया जाता है। गत 30 अप्रैल से प्रारंभ हुए विटामिन-ए कार्यक्रम के दौरान जिले में आंगनबाडी केन्द्रों, शहरी व ग्रामीण, उपस्वास्थ्य केन्द्र, शहरी क्षेत्र में अरबन पीएचसी में बच्चों को विटामिन-ए की खुराक पिलाई जा रही है, जिसमे नौ माह से 12 माह तक के बच्चों को एक एमएल तथा एक वर्ष से पांच वर्ष तक के बच्चों को एक एमएल विटामिन-ए की खुराक पिलाई जा रही है। उन्होंने बताया कि किसी बच्चे में कोविड-19 के लक्षण दिखाई देने पर उस बच्चे को विटामिन-ए की दवा नहीं पिलाई जाएगी। विटामिन-ए कार्यक्रम का संचालन 30 मई तक किया जाएगा। उन्होंने आमजन से अपील की कि जिन बच्चों ने विटामिन-ए की खुराक नहीं पी है, उन्हें जल्द से जल्द विटामिन-ए की दवा पिलाएं।

Top News