taaja khabar..कोयले की कमी, बिजली कटौती, पीएम से गुहार लगाते सीएम... लेकिन ऊर्जा मंत्री बोले- सब चंगा सी..बलूचों के हमलों से डरे चीन-पाकिस्‍तान, ग्‍वादर नहीं अब कराची को बनाएंगे CPEC का हब..आशीष मिश्रा 'मोनू' को रिमांड पर लेगी पुलिस, कल कोर्ट में अर्जी डालेगी लखीमपुर खीरी की पुलिस टीम..केंद्रीय मंत्री बोले, बिजली आपूर्ति बाधित होने का खतरा बिल्कुल नहीं, पर्याप्त मात्रा में मौजूद है कोयले का स्टाक...बसपा तथा कांग्रेस के आधा दर्जन से अधिक पूर्व विधायक व एमएलसी भाजपा में शामिल..बसपा तथा कांग्रेस के आधा दर्जन से अधिक पूर्व विधायक व एमएलसी भाजपा में शामिल..

हनुमानगढ़,सिरोही, बांसवाड़ा एवं दौसा मेें नवीन राजकीय मेडिकल कॉलेजों का शिलान्यास

नए मेडिकल कॉलेजों के निर्माण से नागरिकों को मिलेगी बेहतर चिकित्सा सुविधा : मुख्यमंत्री हनुमानगढ़, 30 सितंबर। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने प्रदेश में 4 नए मेडिकल कॉलेजों के शिलान्यास के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी का आभार जताते हुए कहा कि राजस्थान में मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर को सुधारने पर तेजी से काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि देश के इस सबसे बड़े राज्य के स्वास्थ्य ढांचे में लगातार सुधार का ही परिणाम है कि कोविड की खतरनाक दूसरी लहर में देश में सबसे बेहतर रिकवरी दर यहीं पर रही। श्री गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश में स्वास्थ्य के क्षेत्र में आधारभूत ढांचा मजबूत करने पर फोकस कर रही है। राज्य के 33 में से 30 जिलों में मेडिकल कॉलेज या तो संचालित हैं या फिर निर्माण की प्रक्रिया में हैं और वर्ष 2023 तक ये संचालन अवस्था में होंगे। उन्होंने प्रधानमंत्री से बाकी बचे जालौर, राजसमंद और प्रतापगढ़ जिलों में भी राजकीय मेडिकल कॉलेज की शीघ्र मंजूरी देने का आग्रह किया। श्री गहलोत ने कहा कि ये तीनों ही पिछड़े जिले हैं और मेडिकल कॉलेज बनने से यहां पर बेहतर चिकित्सकीय सुविधाओं का लाभ आम जन को मिल सकेगा। स्वास्थ्य के अधिकार की दिशा में प्रभावी है चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार के पिछले कार्यकाल में राज्य में निशुल्क दवा योजना एवं निशुल्क जांच योजना शुरू की गई थी। इस उद्देश्य को विस्तार देते हुए अब राज्य के सभी नागरिकों को 5 लाख रुपये तक का स्वास्थ्य बीमा देने वाली मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना शुरू की गई है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का प्रयास नागरिकों की सामाजिक सुरक्षा का दायरा बढ़ाकर आम आदमी को स्वास्थ्य का अधिकार प्रदान करना है। श्रीमती इंदिरा गांधी का विजन रहा कौशल विकास श्री गहलोत ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्रीमती इंदिरा गांधी के समय यूएनडीपी के साथ मिलकर चेन्नई में देश का पहला पेट्रोकेमिकल इंजीनियरिंग इंस्टीट्यूट स्थापित किया गया। वर्तमान में देशभर में 42 ऐसे सिपेट संस्थान संचालित हैं जिनमें से जयपुर भी एक है। इससे युवाओं का कौशल विकास होकर रोजगार के अवसर बढ़ाने में सहायता मिलती है। उन्होंने कहा कि पचपदरा में बन रही रिफाइनरी और पेट्रोकेमिकल कॉम्पलेक्स के साथ ही केंद्र से पेट्रोकेमिकल इन्वेस्टमेंट रीजन (पीसीपीआईआर) को भी जल्द स्वीकृति मिल जाए तो पश्चिम राजस्थान का कायापलट हो सकता है। इन जिला मुख्यालयों पर बन रहे मेडिकल कॉलेज उल्लेखनीय है कि केंद्र प्रवर्तित योजना के तहत वर्तमान में राजस्थान में 16 मेडिकल कॉलेजों का निर्माण कार्य प्रक्रियाधीन है। 5 हजार करोड़ रुपये से अधिक की लागत से बन रहे इन महाविद्यालयों की कुल लागत का 40 प्रतिशत हिस्सा यानी लगभग 2 हजार करोड़ रूपये राज्य सरकार द्वारा वहन किए जा रहे हैं। ये कॉलेज हनुमानगढ़,सिरोही, बांसवाड़ा और दौसा के अलावा अलवर, बूंदी, टोंक, झुंझुनूं, नागौर, श्रीगंगानगर, जैसलमेर, चित्तौड़गढ़, बारां, सवाई माधोपुर, करौली एवं धौलपुर में भी बन रहे हैं। वर्तमान में राज्य में राजकीय मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस की 2830 सीटें हैं। इन सभी महाविद्यालयों को वर्ष 2023 तक शुरू कराने के प्रयास किए जा रहे हैं। निर्माणाधीन सभी राजकीय मेडिकल कॉलेजों के आरंभ होने के बाद एमबीबीएस सीटों की संख्या बढ़कर 4 हजार से अधिक होने की संभावना है। शिलान्यास कार्यक्रम में ये रहे शामिल कार्यक्रम में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री श्री मनसुख मांडविया, राज्य के चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा, केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक राज्यमंत्री श्री भगवंत खुबा, सांसद श्री नीरज डांगी, श्री रामचरण बोहरा एवं विधायक श्रीमती गंगादेवी भी शामिल रहीं। जबकि लोकसभाध्यक्ष श्री ओम बिरला, केंद्रीय मंत्री श्री गजेंद्र सिंह शेखावत, श्री भूपेंद्र यादव, श्री कैलाश चौधरी, श्री अर्जुन राम मेघवाल एवं पूर्व मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे सिंधिया वर्चुअल कॉन्फ्रेंस से जुड़े। हनुमानगढ़ में हुए कार्यक्रम में ये रहे शामिल- जिला अस्पताल के फिजियोथैरेेपी सेेंटर में वर्चुअल रूप से हुए कार्यक्रम में उच्च शिक्षा मंत्री ( स्वतंत्र प्रभार) श्री भंवर सिंह भाटी, श्रीगंगानगर सांसद श्री निहालचंद, पीलीबंगा विधायक श्री धर्मेन्द्र मोची, संगरिया विधायक श्री गुरदीप शाहपीणी, जिला प्रमुख श्रीमती कविता मेघवाल, नगर परिषद चेयरमैन श्री गणेशराज बंसल, पूर्व मंत्री डॉ रामप्रताप, जिला कलक्टर श्री नथमल डिडेल, जिला पुलिस अधीक्षक श्रीमती प्रीति जैन, नगर परिषद के उप सभापति श्री अनिल खीचड़, श्री सुरेन्द्र दादरी, श्री बलबीर बिश्नोई, महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती मनाने को लेकर गठित जिला स्तरीय समिति के सहसंयोजक श्री तरूण विजय, संगरिया व्यापार मंडल अध्यक्ष श्री कृष्ण जैन, पूर्व प्रधान श्री दयाराम जाखड़, एडवोकेट मुश्ताक मोहम्मद जोइया, कृषि उपज मंडी टाउन के चेयरमैन श्री अमर सिंह सिहाग, श्री राजेेन्द्र बैद, श्री बदरूद्दीन टाक, कैमिस्ट एसोसिएशन के श्री खजानचंद, श्रीमती प्रवीणा मेघवाल, बाल कल्याण समिति अध्यक्ष श्री जितेन्द्र गोयल, सदस्य एडवोकेट श्री विजय सिंह, एडीश्नल एसपी श्री जस्साराम बोस, एसडीएम हनुमानगढ़ डॉ अवि गर्ग, मेडिकल कॉलेज हनुमानगढ़ के नोडल अधिकारी डॉ अभिषेक क्वात्रा, मेडिकल शिक्षा से डॉ मनोज गर्ग, पीएमओ डॉ दीपक मित्र सैनी, सीएमएचओ डॉ नवनीत शर्मा, मेडिकल ज्यूरिस्ट डॉ शंकर सोनी, उपनियंत्रक डॉ गौरीशंकर, डॉ पीसी खत्री, सीओ सिटी श्री प्रशांत कौशिक, टाउन थानाधिकारी श्री दिनेश सहारण, जंक्शन थानाधिकारी श्री नरेश गेरा, डीओआईटी से डॉ केन्द्र प्रताप समेत अन्य अधिकारीगण, जनप्रतिनिधि व गणमान्य लोग उपस्थित थे।

Top News