taaja khabar..कोयले की कमी, बिजली कटौती, पीएम से गुहार लगाते सीएम... लेकिन ऊर्जा मंत्री बोले- सब चंगा सी..बलूचों के हमलों से डरे चीन-पाकिस्‍तान, ग्‍वादर नहीं अब कराची को बनाएंगे CPEC का हब..आशीष मिश्रा 'मोनू' को रिमांड पर लेगी पुलिस, कल कोर्ट में अर्जी डालेगी लखीमपुर खीरी की पुलिस टीम..केंद्रीय मंत्री बोले, बिजली आपूर्ति बाधित होने का खतरा बिल्कुल नहीं, पर्याप्त मात्रा में मौजूद है कोयले का स्टाक...बसपा तथा कांग्रेस के आधा दर्जन से अधिक पूर्व विधायक व एमएलसी भाजपा में शामिल..बसपा तथा कांग्रेस के आधा दर्जन से अधिक पूर्व विधायक व एमएलसी भाजपा में शामिल..

राजस्थान पूरे देश में मेडिकल कॉलेज खोलने में नंबर वन स्थान पर है-उच्च शिक्षा राज्यमंत्री

हनुमानगढ़, 30 सितम्बर। केन्द्र ने पिछले वर्षों में कुल 75 नए मेडिकल कॉलेज देश भर में खोलने की घोषणा की थी। उनमें राजस्थान में सबसे ज्यादा मेडिकल कॉलेज खोले गए हैं। राजस्थान पूरे देश में मेडिकल कॉलेज खोलने में नंबर वन पर है।ये कहना था उच्च शिक्षा राज्यमंत्री श्री भंवर सिंह भाटी का। जो हनुमानगढ़ जिला मुख्यालय पर नवीन राजकीय मेडिकल कॉलेज शिलान्यास कार्यक्रम में हिस्सा लेने के बाद मीडिया से मुखातिब थे। उच्च शिक्षा राज्य मंत्री ने कहा कि इसका बड़ा कारण ये है कि मुख्यमंत्री महोदय के निर्देशानुसार भूमि अलॉटमेंट से लेकर अन्य सभी प्रक्रियाओं को बहुत जल्द पूरा किया गया। सभी कार्य तत्परता से पूरे करते हुए इन कॉलेजों का शिलान्यास करवाया गया है। अब राज्य के 33 जिलों में से 30 जिलों में मेडिकल कॉलेज बनने की प्रक्रिया तेज गति से चल रही है। उच्च शिक्षा राज्यमंत्री श्री भाटी ने जिला मुख्यालय पर नवीन मेडिकल कॉलेज के शिलान्यास को लेकर जिले के लोगों को बधाई देते हुए कहा कि जिला मुख्यालय पर नवीन राजकीय मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास प्रधानमंत्री जी और मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के कर कमलों से वर्चुअली किया गया। इसका लाभ जिले के लोगों को मिलेगा। उन्होने बताया कि राजस्थान मेें 16 मेडिकल कॉलेज की प्रक्रिया पूरी की गई है। मीडिया से मुखातिब होते हुए उन्होने कहा कि कोरोना के समय राजस्थान में जो कार्य किया गया। उसको लेकर मुख्यमंत्री की सराहना देश के सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के सामने देश के प्रधानमंत्री श्री मोदी ने स्वयं की। जो हम आज सोच रहे हैं। यह सोच बीस साल पहले जब श्री अशोक गहलोत पहली बार मुख्यमंत्री बने थे। उस समय उन्होने गरीब की पीड़ा को समझा और मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना और मुख्यमंत्री निशुल्क जांच योजना 20 साल पहले लेकर आए थे। उस समय किसी भी राज्य में ये योजनाएं नहीं चल रही थी और उस योजना को लगातार आगे बढ़ाया गया है। उसमें बहुत सी गंभीर बीमारियों को भी जोड़ा गया है। अब मुख्यमंत्री जी ने कुछ समय पहले ही मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना शुरू की है। इसको लेकर राजस्थान पूरे देश में पहला राज्य है जहां 5 लाख रूपए तक का ईलाज निशुल्क किया जाएगा।

Top News