taaja khabar....पुलवामा अटैक पर बोले PM मोदी- जो आग आपके दिल में है, वही मेरे दिल में.....धुले रैली में पाक को पीएम मोदी की चेतावनी- हम छेड़ते नहीं, किसी ने छेड़ा तो छोड़ते नहीं.....पुलवामा हमला: मीरवाइज उमर फारूक समेत 5 अलगाववादियों की सुरक्षा वापस....भारत ने आसियान और गल्फ देशों के प्रतिनिधियों को दिए जैश-ए-मोहम्मद और पाक के लिंक के सबूत...पुलवामा हमला: बदले की कार्रवाई से पहले पाक को अलग-थलग करने की रणनीति....पुलवामा अटैक: पाकिस्तान क्रिकेट को बड़ा झटका, चैनल ने PSL को किया ब्लैकआउट..पाकिस्तान ने भारतीय सैन्य कार्रवाई के डर से LoC के पास अपने लॉन्च पैड्स कराए खाली!...पाकिस्तान से आयात होने वाले सभी सामानों पर सीमाशुल्क बढ़ाकर 200 फीसदी किया गया: जेटली...पुलवामा अटैक: JeM सरगना मसूद अजहर पर अब विकल्प तलाशने में जुटा चीन....पुलवामा आतंकवादी हमले के लिए सेना जिम्‍मेदार: कांग्रेस नेता नूर बानो...
ब्लड कंपोनेंट सेपरेशन यूनिट का जल संसाधन मंत्री डॉ रामप्रताप ने किया उद्घाटन
हनुमानगढ़, 24 सितंबर। जल संसाधन मंत्री डॉ रामप्रताप ने सोमवार को जिला अस्पताल में ब्लड कंपोनेट सेपरेशन यूनिट का उद्घाटन किया। ब्लड कंपोनेंट यूनिट स्थापित हो जाने से अब एक यूनिट ब्लड कई रोगियों के काम आ सकेगा। रोगियों को प्लाज्मा और प्लेटलेट्स अलग अलग उपलब्ध करवाए जा सकेंगे। पूरे राज्य में 9 जगह ही ब्लड कंपोनेट सेपरेशन यूनिट स्थापित है। अब हनुमानगढ़ भी उसमें शामिल हो गया है। यूनिट का उद्घाटन करने के बाद जल संसाधन मंत्री ने यूनिट का जायजा लिया और ब्लड सेपरेशन की प्रक्रिया को भी देखा। इस अवसर पर आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए जल संसाधन मंत्री डॉ रामप्रताप ने कहा कि अब एक यूनिट ब्लड कई मरीजों के काम आ सकेगा। थैलेसिमिया और आरबीसी के मरीज को अगर पूरा ब्लड चढ़ा दिया जाता है तो उसे परेशानी होती है। उसे अलग से दवाई भी देनी पड़ती है। इसी तरह जले हुए मरीजों को केवल प्लाज्मा की ही जरूरत होती है। ऐसी स्थिति में ब्लड में प्लाज्मा, प्लेटलेट्स,, आरबीसी, डब्ल्यूबीसी इत्यादि पृथक पृथक कर देने से एक यूनिट ब्लड कई मरीजों के काम आ सकेगा। इससे जिले के मरीजों को बड़ी राहत मिलेगी। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएमओ डॉ दीपक मित्र सैनी ने बताया कि जिला अस्पताल में 1275 रूपए में ब्लड, 1275 में ही आरबीसी, 400-400रूपए में प्लाज्मा और प्लेटलेट्स उपलब्ध करवाई जाती है। अस्पताल में भर्ती मरीजों के लिए ये निशुल्क है। डॉ सैनी ने बताया कि प्लाज्मा को 1 साल के लिए फ्रोजन किया जा सकता है।अगर किसी को ब्लड से तुरंत प्लाज्मा, प्लेटलेट्स इत्यादि कंपोनेंट अलग अलग करवाने हैं तो डेढ़ घंटे में ये इन्हें अलग अलग करके दे दिया जाएगा। ब्लड कंपोनेंट सेपरेशन यूनिट के उद्घाटन के अवसर पर जल संसाधन मंत्री डॉ रामप्रताप के अलावा नगर परिषद सभापति श्री राजकुमार हिसारिया, श्री बलबीर बिश्नोई, श्री अमित सहू, पीएमओ डॉ दीपक मित्र सैनी, पूर्व पीएमओ डॉ नजेन्द्र सिंह और डॉ हनुमान प्रसाद रोहिल्ला, पीआरओ श्री सुरेश बिश्नोई, कृषि उपज मंडी समिति के पूर्व चेयरमैन श्री अरूण खिलेरी, श्री ओम सोनी, श्री सुशील कुमार बहल समेत बड़ी संख्या में अस्पताल का स्टॉफ और स्थानीय लोग उपस्थित थे।

Top News

http://www.hitwebcounter.com/