taaja khabar....पीएम मोदी ने जस्टिन ट्रूडो से किया कोरोना वैक्‍सीन देने का वादा, कनाडा में बंद हुई आलोचना...बच्‍ची के लिए पीएम मोदी ने माफ कर दिया 6 करोड़ का टैक्‍स...रक्षा मंत्री का बड़ा बयान- खत्म हुआ भारत-चीन सीमा विवाद तनाव, लद्दाख में पैंगोंग झील से पीछे हटेंगे चीनी सैनिक...सेना वापसी समझौते में भारत ने कुछ नहीं खोया, पैंगोंग झील में पीछे हट रहा चीन...मुंबई एयरपोर्ट पर 20 मिनट तक बैठे रहे गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी, उद्धव सरकार ने नहीं दिया प्लेन...हमारे जवानों का अपमान कर रही है सरकार, राजनाथ के बयान पर राहुल गांधी का पलटवार...कश्मीरियों के आत्मनिर्णय में नहीं पाकिस्तान की रुचि, अमेरिकी विशेषज्ञ की राय....ट्विटर की आनाकानी पर सख्त कार्रवाई की तैयारी, सरकार ने किया साफ, करना ही होगा कानून का पालन...

जिला कलक्टर ने चक ज्वालासिंहवाला में विद्यालय का किया औचक निरीक्षण

हनुमानगढ, 19 जनवरी। कोरोना के चलते लंबे अंतराल के बाद खुले विद्यालयों का जिले में अधिकारियों द्वारा औचक निरीक्षण किया जा रहा है। इसी कड़ी में जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन ने चक ज्वालासिंहवाला के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय का औचक निरीक्षण किया। जिला कलक्टर ने बताया कि औचक निरीक्षण में स्कूल में थर्मल स्कैनर, सैनेटाइजर व सोशल डिस्टेंसिंग की पालना सही पाई गई। बच्चों और स्टॉफ ने मास्क भी लगा रखा था। जिला कलक्टर ने बताया कि स्कूल में 9 से 12 वीं कक्षा तक कुल 116 बच्चे हैं जिनमें से 64 की उपस्थिति पाई गई। निरीक्षण के बाद जिला कलक्टर ने बच्चों से संवाद भी किया। जिसमें बच्चों ने बताया कि उन्हें स्कूल आने पर बहुत अच्छा लग रहा है। जिला कलक्टर ने बच्चों से मन लगाकर पढ़ने और शिक्षिकों से स्कूल में कोरोना गाइडलाइन की पालना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। जिला कलक्टर के साथ निरीक्षण में गए सीडीईओ श्री तेजा सिंह गदराना ने बताया कि 9 से 12 वीं तक के सभी सरकारी व प्राइवेट स्कूल सरकार के दिशा निर्देशानुसार 18 जनवरी से खोल दिए गए हैं। जिनका निरीक्षण विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारियों व शिक्षा विभाग के द्वारा किया जा रहा है। ताकि सभी स्कूलों में सरकार के द्वारा जारी की गई गाइडलाइन की पालना सुनिश्चित किया जा सके। इसी कड़ी में जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन ने चक ज्वालासिंहवाला में स्कूल का निरीक्षण किया। सीडीईओ ने बताया कि सभी सरकारी और प्राइवेट का औचक निरीक्षण विभिन्न अधिकारियों के द्वारा सरकार के दिशा निर्देशानुसार जारी रहेगा। ताकि स्कूल खुलने के बाद स्कूलों के लिए जारी कोरोना गाइडलाइन की पालना सुनिश्चित की जा सके और बच्चे बिल्कुल सुरक्षित तरीके से स्कूल में पढ़ाई जारी रख सके।

Top News