taaja khabar...रोहिंग्या की अवैध बस्तियों को बढ़ावा दे रहे तृणमूल कांग्रेस के नेता: एजेंसियां.....नरम पड़े चीन के तेवर? साझा सैन्य अभ्यास का दिया प्रस्ताव......चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव को लेकर फिर सक्रिय हुए विपक्षी दल, आज बैठक.....लंदन में पीएम मोदी के सेशन से मिले साफ संकेत, क्या है बीजेपी का इलेक्शन प्लान?...कठुआ कांड के बाद किस करवट बैठेगी जम्मू-कश्मीर की सियासत?...
मुंबई,आखिरकार लगातार तीन मैच हारने के बाद मुंबई इंडियंस को पहली जीत नसीब हुई. मौजूदा आईपीएल के 14वें मैच में मुंबई ने वानखेडे़ स्टेडियम में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को 46 रनों से मात दी. 214 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी आरसीबी टीम निर्धारित 20 ओवरों में 167/8 रन ही बना पाई. कप्तान विराट कोहली 62 गेंदों में नाबाद 92 रन बनाए, लेकिन उनकी यह पारी बेंगलुरु की जीत के लिए नाकाफी साबित हुई. मो. सिराज 8 रन पर नॉट आउट रहे. आरसीबी की चार मैचों में यह तीसरी हार रही. मुंबई के लिए क्रुणाल पंड्या ने 28 रन देकर 3 विकेट चटकाए. जसप्रीत बुमराह और मिशेल मैक्लेनघन को 2-2 विकेट मिले. 52 गेंदों में 94 रनों की धमाकेदार पारी खेलने वाले मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा मैन ऑफ द मैच रहे. अकेले विराट ने किया संघर्ष विराट ने 41 गेंदों में अपनी फिफ्टी पूरी की. 13वें ओवर में हार्दिक पंड्या के थ्रो पर विकेटकीपर ईशान किशन चोटिल हो गए. उन्हें फील्ड छोड़ कर जाना पड़ा. उनकी जगह आदित्य तारे विकेटकीपिंग करने आए. सरफराज खान (5) ने भी अपने कप्तान को निराश किया उन्हें मयंक मार्कंडेय ने अपनी लेग स्पिन में फंसाया, 103 के स्कोर पर तारे ने स्टंप उन्हें स्टंप किया. आरसीबी के छठे विकेट का पतन हुआ. क्रिस वोक्स (11) भी दबाव नहीं झेल पाए, उन्हें जसप्रीत बुमराह ने क्रुणाल के हाथों कैच कराया. 135 के स्कोर पर 7वां विकेट गिरा. इसी के बाद 137 के स्कोर पर बुमराह ने उमेश यादव (1) को लौटाया. रोहित ने वह कैच लपका. बुमराह का मुंबई इंडियंस के लिए यह 100वां विकेट रहा. क्रुणाल पंड्या ने दिए तीन झटके मनदीप सिंह (16) के रूप में आरसीबी का तीसरा विकेट गिरा. उन्हें क्रुणाल पंड्या ने ईशान किशन के हाथों स्टंप कराया. इसी ओवर में कोरी एंडरसन (0) भी चलते बने. क्रुणाल ने उन्हें स्थानापन्न फील्डर जेपी डुमिनी के हाथों लपकवाया. आरसीबी को चौथा झटका लगा. 75 के स्कोर पर दोनों विकेट गिरे. क्रुणाल ने वॉशिंगटन सुंदर (7) को उमेश यादव के हाथों कैच करवा आरसीबी का पांचवां विकेट गिराया और खुद का तीसरा विकेट निकाला. 86 के स्कोर पर आरसीबी की आधी टीम लौट गई. मैक्लेनघन ने निकाले 2 बड़े विकेट आरसीबी की ओर से कप्तान विराट कोहली और क्विंटन डि कॉक ने पारी की शुरुआत की. डि कॉक (19) को मिशेल मैक्लेनघन ने बोल्ड किया. 40 के स्कोर पर यह पहला विकेट गिरा. इसी के बाद पांचवें ओवर की चौथी गेंद पर मैक्लेनघन ने एबी डिविलियर्स (1) को हार्दिक पंड्या के हाथों लपकवाया. 42 के स्कोर पर दूसरा विकेट गिरा. मुंबई ने दिया 214 रनों का टारगेट मुंबई इंडियंस ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के सामने 214 रनों का बड़ा टारगेट रखा. मुंबई की पारी में कप्तान रोहित शर्मा (94) के अलावा इविन लुइस की अर्धशतकीय पारी का बेहतरीन योगदान रहा. आरसीबी की टीम पारी की शुरुआती दो गेंदों पर मुंबई के दो विकेट लेने का फायदा उठाने में कामयाब नहीं हो पाई. उमेश यादव (2) के अलावा कोरी एंडरसन ने 2 विकेट निकाले, लेकिन रनों की तेजी नहीं रोक पाए. वॉशिंगटन सुंदर सबसे महंगे रहे उन्होंने 2 ओवरों में 32 रन लुटाए. शतक से चूके कप्तान रोहित शर्मा हार्दिक पंड्या 5 गेंदों में 17 रन बनाकर नाबाद लौटे. मुंबई ने 20 ओवरों में 213/6 रन बनाए. आखिरी ओवर की पाांचवीं गेंद पर कप्तान रोहित शर्मा (94 रन, 52 गेंदों पर) आउट हो गए. रोहित महज छह रन से शतक से चूक गए. उन्हें कोरी एंडरसन की गेंद पर क्रिस वोक्स ने लपका. 207 रनों के स्कोर पर मुंबई का छठा विकेट गिरा. लुइस-रोहित ने मुंबई को संभाला कीरोन पोलार्ड (5) अपने रंग में नहीं दिखे. 187 के स्कोर पर मुंबई का पांचवां विकेट गिरा. क्रिस वोक्स की गेंद पर पोलार्ड को एबी डिविलियर्स ने लपका. इससे पहले क्रुणाल पंड्या (15) रन आउट हुए. 148 के स्कोर पर मुंबई को चौथा झटका लगा. इविन लुइस के बाद रोहित ने भी 32 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया.आखिरकार 108 रनों के स्कोर पर मुंबई को तीसरा झटका लगा. इविन लुइस (65) को कोरी एंडरसन ने विकेट के पीछ क्विंटन डि कॉक के हाथों लपकवाया. कैरेबियाई धुरंधर लुइस ने 32 गेंदों में अपनी फिफ्टी पूरी की. 42 गेंदों की अपनी पारी में उन्होंने 6 चौके और 5 छक्के लगाए. उमेश यादव का सनसनीखेज आगाज मुंबई इंडियंस की पारी की शुरुआत सूर्यकुमार यादव और इविन लुइस ने की. लेकिन पहली ही गेंद पर सूर्यकुमार यादव को उमेश यादव ने बोल्ड कर दिया. इसके बाद अगली गेंद पर उन्होंने ईशान किशन को बोल्ड किया, यानी दो गेंदों पर दो 'गोल्डन डक' के साथ उमेश यादव ने आरसीबी को जबर्दस्त शुरुआत दी. आईपीएल: पारी की पहली दो गेंदों पर 2 विकेट लेने वाले गेंदबाज प्रवीण कुमार (किंग्स इलेवन पंजाब) vs चेन्नई सुपर किंग्स 2011, मोहाली (श्रीकांत अनिरुद्ध और सुरेश रैना) उमेश यादव (आरसीबी) vs मुंबई इंडियंस, 2018, मुंबई (सूर्यकुमार यादव और ईशान किशन)
मोहाली आईपीएल के मौजूदा सीजन के 12वें मैच में किंग्स इलेवन पंजाब ने चेन्नै सुपरकिंग्स को रोमांचक मुकाबले में 4 रनों से हरा दिया। चेन्नै की इस सीजन में 3 मैचों में यह पहली हार है। इससे पहले के दोनों मुकाबलों को सीएसके जीती थी। चेन्नै सुपर किंग्स के कैप्टन महेंद्र सिंह धोनी ने नाबाद 79 रनों की पारी खेली लेकिन वह अपनी टीम को नहीं जीता सके। आखिरी ओवर में सीएसके को जीत के लिए 17 रनों की जरूरत थी, लेकिन 13 रन ही बन सके। पंजाब ने 20 ओवरों में 7 विकेट के नुकसान पर 197 रन बनाए थे। जवाब में चेन्नै सुपर किंग्स 20 ओवरों में 5 विकेट पर 193 रन ही बना सकी। पंजाब के लिए ऐंड्रयू टाइ ने 2 विकेट लिए। मोहित शर्मा और आर. अश्विन को 1-1 विकेट मिले। धोनी ने मैच में सबसे ज्यादा रनों की पारी खेली। उन्होंने 79 रनों की अपनी जबरदस्त पारी में 44 गेंदों का सामना किया। धोनी ने 6 चौके और 5 छक्के जड़े। इससे पहले सीएसके के 19वें ओवर में रविंद्र जडेजा 19 रन बनाकर ऐंड्रयू टाइ की गेंद पर आउट हुए। उन्होंने धोनी के साथ मिलकर 5वें विकेट के लिए 31 गेंदों में 50 रनों की साझेदारी की। धोनी के अलावा चेन्नै की तरफ से अंबाती रायडू ने भी शानदार पारी खेली। वह एक रन से अपने अर्धशतक से चूक गए। उन्होंने 35 गेंदों में 49 रन बनाए। जीत के लिए 198 रनों का पीछा करते हुए सीएसके को 17 रनों के स्कोर पर पहला झटका लगा। ओपनर शेन वॉटसन 11 रन बनाकर मोहित शर्मा की गेंद पर बलविंदर सरन के हाथों कैच हुए। उन्होंने 9 गेंदों का सामना किया और 2 चौके लगाए। चेन्नै को पांचवें ओवर की पहली ही गेंद पर मुरजी विजय के रूप में दूसरा झटका लगा। मुरली विजय 12 रन बनाकर टाइ की गेंद पर सरन के हाथों कैच आउट हो गए। उन्होंने 10 गेंदों का सामना किया और एक छक्का भी लगाया। चेन्नै को 7वें ओवर में बिलिंग्स के तौर पर तीसरा झटका लगा। वह 9 रन बनाकर अश्विन की गेंद पर एलबीडब्लू आउट हुए। सीएसके को चौथा झटका अंबाती रायडू के तौर पर लगा। रायडू (49) सिर्फ एक रन से अपने अर्धशतक से चूक गए। वह रन आउट हुए। उन्होंने अपनी पारी में 35 गेंदों का सामना किया और 5 चौके व एक छक्का जड़ा। रायडू और धोनी के बीच चौथे विकेट के लिए 57 रनों की साझेदारी हुई। इससे पहले आईपीएल के 12वें मैच में किंग्स XI पंजाब की टीम अपने घर में चेन्नै सुपर किंग्स के खिलाफ पहले बल्लेबाजी करते हुए जीत के लिए 198 रनों का लक्ष्य रखा है। पंजाब ने निर्धारित 20 ओवरों में 7 विकेट के नुकसान पर 197 रन बनाए। पंजाब की तरफ से विस्फोटक बल्लेबाज क्रिस गेल ने शानदार अर्धशतक लगाया। इसके अलावा ओपनर के.एल. राहुल ने भी 22 गेंदों में 37 रनों की तेजतर्रार पारी खेली। इनके अलावा मयंक अग्रवाल ने 30 तो करुण नायर ने 29 रनों की शानदार पारी खेली। चेन्नै सुपरकिंग्स के लिए इमरान ताहिर और शार्दुल ठाकुर ने 2-2 विकेट लिए। हरभजन सिंह, शेन वॉटसन और ड्वेन ब्रावो के 1-1 विकेट मिले। पंजाब के लिए कप्तान आर. अश्विन ने भी 14 रनों की उपयोगी पारी खेली। लोकेश राहुल और क्रिस गेल ने पंजाब को धमाकेदार शुरुआत दी। पंजाब के विध्वंसक ओपनर क्रिस गेल ने 23 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया। इस सीजन में उनका यह पहला मैच है और उन्होंने पहले ही मैच में यह साबित कर दिया कि सीजन के पहले दो मैचों में उन्हें बाहर बिठाने का फैसला गलत था। गेल 33 गेदों में 63 रन की पारी खेलकर आउट हुए। उन्होंने 7 चौके और 4 छक्के जमाए। गेल को शेन वॉटसन ने अपना शिकार बनाया। केएल राहुल ने पविलियन लौटने से पहले 22 गेंदों 37 रनों की शानदारी पारी खेली। उन्हें हरभजन सिंह ने आउट किया। राहुल ने 7 चौके जड़े। इसके बाद इमरान ताहिर ने लगातार 2 गेंदों पर मयंक अग्रवाल और एरॉन फिंच को आउट कर पंजाब को तगड़ा झटका दिया। हालांकि वह हैटट्रिक से चूक गए। युवराज सिंह (20) के तौर पर पंजाब का पांचवां विकेट गिरा। युवराज ने 13 गेंदों का सामना किया और 3 चौके व एक छक्का जमाया। उनका विकेट शार्दुल ठाकुर को मिला। वह शार्दुल ठाकुर की गेंद पर एम.एस. धोनी के हाथों कैच हुए। आर. अश्विन (14) के रूप में पंजाब का छठा विकेट गिरा। उन्होंने भी अपनी पारी में एक छक्का जड़ा। करुण नायर (29) के तौर पर पंजाब का सातवां विकेट गिरा। उन्हें ब्रावो की गेंद पर जाडेजा ने कैच किया। नायर ने अपनी पारी में 2 चौके और एक छक्का जड़ा। इससे पहले चेन्नै सुपरकिंग्स के कप्तान एम. एस. धोनी ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग का फैसला लिया। चेन्नै के टीम इस मैच में एक बदलाव के साथ उतरी। सुरेश रैना मांसपेशियों में खिंचाव के कारण इस मैच में नहीं खेले। उनकी जगह मुरली विजय को टीम में मौका मिला। किंग्स XI पंजाब की टीम ने भी इस मैच में दो बदलाव किए। अक्षर पटेल पूरी तरह फिट न होने कारण इस मैच में नहीं खेले। उनकी जगह बरिंदर सरन को मौका दिया है। वहीं दूसरे बदलाव के रूप में पंजाब ने क्रिस गेल को मारकस स्टोइनिस की जगह टीम में शामिल किया। चेन्नै सुपर किंग्स की टीम:- शेन वॉटसन, अंबाती रायडू, मुरली विजय, एम. एस. धोनी (कप्तान-WK), सैम बिलिंग्स, रविंद्र जडेजा, ड्वेन ब्रावो, दीपक चाहर, हरभजन सिंह, इमरान ताहिर, शार्दुल ठाकुर किंग्स XI पंजाब की टीम:- लोकेश राहुल (WK), क्रिस गेल, मयंक अग्रवाल, एरॉन फिंच, युवराज सिंह, करुण नायर, रविचंद्रन अश्विन (कप्तान), एंड्र्यू टाय, बरिंदर सरन, मोहित शर्मा, मुजीब उर रहमान
बेंगलुरु,राजस्थान रॉयल्स ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को आईपीएल सीजन 11 के 11वें मुकाबले में 19 रन से मात दी है. राजस्थान की यह लगातार दूसरी जीत है. इससे पहले उसने अपने घरेलू मैदान पर दिल्ली डेयरडेविल्स को शिकस्त दी थी. टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए राजस्थान की टीम ने 20 ओवर में 4 विकेट गंवा कर 217 रन बनाए और RCB के सामने 218 रनों का टारगेट रखा. जवाब में विराट कोहली की RCB 20 ओवर में 198 रन ही बना पाई और 19 रन से यह मैच गंवा बैठी. स्कोरबोर्ड बड़े स्कोर के आगे बिखरी RCB आरसीबी की शुरुआत खराब रही और टीम ने पहले ओवर में ही ब्रेंडन मैक्कुलम (04) का विकेट गंवा दिया जो कृष्णप्पा गौतम की गेंद पर स्टोक्स को कैच दे बैठे. ओपनिंग बल्लेबाज क्विंटन डि कॉक (26) और कप्तान कोहली ने इसके बाद पारी को संवारा. कोहली ने धवल कुलकर्णी के ओवर में तीन चौके मारे जबकि डि कॉक ने गौतम पर लगातार दो चौके जड़े. कोहली ने स्टोक्स पर दो चौकों के साथ पावरप्ले में टीम का स्कोर एक विकेट पर 64 रन तक पहुंचाया. डि कॉक हालांकि 23 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब श्रेयष गोपाल की गेंद पर विकेटकीपर जोस बटलर ने उनका कैच टपका दिया. बाएं हाथ के चाइनामैन गेंदबाज डार्सी शॉर्ट ने डि कॉक को जयदेव उनादकट के हाथों कैच करा कर कोहली के साथ उनकी 77 रन की साझेदारी का अंत किया. श्रेयष की गेंद पर बटलर इसके बाद डिविलियर्स को स्टंप करने से चूक गए, लेकिन इस लेग स्पिनर ने अगले ओवर में कोहली को मिड विकेट पर शॉर्ट के हाथों कैच करा दिया. उन्होंने 30 गेंद की अपनी पारी में सात चौके और दो छक्के मारे. डिविलियर्स (20) भी इसके बाद गोपाल की गेंद पर उनादकट के हाथों लपके गए जिससे आरसीबी की जीत की रही सही उम्मीद भी टूट गई. आरसीबी को जीत के लिए अंतिम पांच ओवर में 84 रन की दरकार थी और मनदीप तथा वॉशिंगटन सुंदर (35) के बीच 56 रन की साझेदारी के बावजूद टीम लक्ष्य तक नहीं पहुंच पाई. विराट ने 30 गेंदों पर सात चौकों और दो छक्कों की बदौलत सर्वाधिक 57 रन बनाए. मंदीप सिंह ने 25 गेंदों पर छह चौकों और एक छक्के की मदद से नाबाद 47 रन का योगदान दिया. वॉशिंगटन सुंदर ने 19 गेंदों पर 35 रन में एक चौके और तीन छक्के उड़ाए. राजस्थान के लिए श्रेयस गोपाल ने 22 रन पर दो विकेट हासिल किया. इसके अलावा के. गौतम ने 36 रन पर एक विकेट, बेन स्टोक्स ने 32 रन पर एक विकेट, डार्सी शॉर्ट ने 10 रन पर एक विकेट और बेन लॉफलिन ने 46 रन पर एक झटके. सैमसन की आंधी में उड़ी कोहली की RCB टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए राजस्थान की टीम ने 20 ओवर में 4 विकेट गंवा कर 217 रन बनाए और RCB के सामने 218 रनों का टारगेट रखा. संजू सैमसन (नाबाद 92) और कप्तान अजिंक्य रहाणे (36) की शानदार पारियों की बदौलत राजस्थान रायल्स ने रॉयल चैलेंजर्स के खिलाफ चार विकेट पर 217 रन का विशाल स्कोर बना लिया. राजस्थान के लिए रहाणे और डार्सी शॉट ने 5.4 ओवर में पहले विकेट के लिए 49 रन की साझेदारी की. शॉर्ट ने 17 गेंदों में 11 रन बनाए. रहाणे ने 20 गेंदों पर 36 रन बनाते हुए छह चौके और एक छक्का लगाया. सैमसन ने बेन स्टोक्स के साथ तीसरे विकेट के लिए 49, जोस बटलर के साथ चौथे विकेट के लिए 73 और राहुल त्रिपाठी के साथ पांचवें विकेट के लिए 42 रन की अविजित साझेदारी की. राजस्थान ने आखिरी के पांच ओवर में 88 रन जोड़े. सैमसन ने 45 गेंदों पर नाबाद 92 रन में दो चौके और 10 छक्के उड़ाए. इसके अलावा स्टोक्स ने 21 गेंदों पर दो चौकों और एक छक्के की मदद से 21 रन, बटलर ने 14 गेंदों पर दो चौकों और एक छक्के के सहारे 23 रन और त्रिपाठी ने पांच गेंदों पर एक चौके और एक छक्के के दम पर नाबाद 14 रन बनाए.
नई दिल्ली गौतम गंभीर की टीम दिल्ली डेयरडेविल्स ने शनिवार को मुंबई इंडियंस को हराकर आईपीएल के 11वें सीजन की पहली जीत दर्ज की। दिल्ली की इस जीत में इंग्लैंड के बल्लेबाज जेसन रॉय ने अहम भूमिका निभाई। उन्होंने 91 रन की नाबाद पारी खेली और दिल्ली को 7 विकेट से शानदार जीत दिलाई। जेसन ने 53 गेंदों की अपनी नाबाद पारी में 6 चौके और 6 छक्के जड़े। जीत के बाद जश्न तो बनता है और दिल्ली टीम के खिलाड़ियों ने भी जश्न मनाया। जब जेसन रॉय दिल्ली को जीत दिलाने के बाद पविलियन लौटे तो वहां मौजूद खिलाड़ियों ने तालियां बजाकर उनका स्वागत किया। गौतम गंभीर ने ट्विटर पर एक विडियो शेयर किया है जिसमें जेसन के अलावा टीम के अन्य कई खिलाड़ी नजर आ रहे हैं। विडियो में युवा खिलाड़ी पृथ्वी शॉ जेसन के पास जाकर बधाई देते हैं। गंभीर ने विडियो शेयर करते हुए लिखा, 'जेसन जैसा कोई नहीं या जेसन को तैसा। और आप कह सकते हैं सिर्फ जेसन। किसी की नजर न लगे।' विडियो में जेसन के अलावा पेसर मोहम्मद शमी, युवा बल्लेबाज ऋषभ पंत, ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल भी नजर आ रहे हैं। मुंबई इंडियंस के 194/7 के जवाब में दिल्ली डेयरडेविल्स की शुरुआत मजबूत रही और जेसन की नाबाद पारी की बदौलत टीम ने जीत दर्ज की। आखिरी ओवर में दिल्ली को 11 रन की दरकार थी, पहली गेंद को रॉय ने चौका लगाया और दूसरी गेंद पर छक्के के साथ दिल्ली की जीत सुनिश्चित कर दी लेकिन खेल यहीं खत्म नहीं हुआ। मुस्ताफिजुर की अगली 3 गेंद रॉय समझ नहीं पाए। हालांकि आखिरी गेंद पर एक रन लेकर दिल्ली को सीजन की पहली जीत मिली।
नई दिल्ली 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स में बैडमिंटन के पुरुष एकल के फाइनल मुकाबले में किदाम्बी श्रीकांत को सिल्वर मेडल मिला। गोल्ड मेडल के लिए हुए मुकाबले में उन्हें 3 बार के ओलिंपिक चैंपियन मलयेशिया के ली चोंग वेई से हार का सामना करना पड़ा। श्रीकांत ने इससे पहले मिश्रित टीम चैंपियनशिप में ली को हराया था, लेकिन विश्व का पूर्व नंबर एक खिलाड़ी ने यहां जीत दर्ज करके बदला चुकता करने में सफल रहा। मैच में पहला गेम श्रीकांत ने जीता था, लेकिन दूसरे और तीसरे गेम में उन्हें हारकर गोल्ड मेडल जीतने का मौका गंवाना पड़ा। मैच का स्कोर 21-19, 14-21 और 14-21 से चोंगे वेई के पक्ष में रहा। इससे पहले साइना नेहवाल ने महिला एकल में अपने ही देश की स्टार शटलर पीवी सिंधु को हराकर गोल्ड मेडल अपने नाम किया। पहला गेम: श्रीकांत ने जीता पहला गेम पहले गेम में पूर्व वर्ल्ड नंबर वन ली चोंग वेई और श्रीकांत के बीच एक-एक पॉइंट के लिए जोरदार टक्कर देखने को मिली। भारतीय खिलाड़ी ने इस गेम में अच्छी शुरुआत की थी। विपक्षी खिलाड़ी के कई दिशाहीन शॉट्स ने भी श्रीकांत को फायदा पहुंचाया। खासकर, श्रीकांत के स्पिन और ड्रॉप जोरदार रहे। वर्ल्ड नंबर वन भारतीय शटलर श्रीकांत ने 21-19 से जीत दर्ज की। इस तरह श्रीकांत ने 1-0 की लीड ले ली। दूसरा गेम: ली चोंग वेई का कमबैक पहला गेम गंवाने के बाद मलयेशियाई शटलर ने दूसरे गेम में जबरदस्त वापसी करते हुए जीत दर्ज की। वेई ने के बेहतरीन स्मैश का श्रीकांत के पास कोई जबाव नहीं था। ली ने 5-4 की बढ़त ले ली थी। देखते ही देखते उनकी बढ़त 7-13 की हो गई। वेई के शॉट रिटर्न करने में श्रीकांत कई बार गलती की, जिसका खामियाजा उन्हें पॉइंट देकर चुकाना पड़ा। जब स्कोर 18-14 हुआ तो लगा कि श्रीकांत वापसी करेंगे। लेकिन, वेई ने ऐसा होने नहीं दिया और लगातार 3 पॉइंट लेकर दूसरा गेम 21-14 से अपने नाम कर लिया। दोनों खिलाड़ी अब 1-1 की बराबरी पर आ गए थे। यह गेम 21 मिनट तक चला। तीसरा गेम: ली चोंग वेई की एकतरफा जीत मलयेशियाई खिलाड़ी तीसरे गेम में पहले और दूसरे की अपेक्षा अधिक आक्रामकता दिखाई। उन्होंने शुरुआत में ड्रॉप शॉट और नेट शॉट से पॉइंट जुटाते हुए बढ़त 7-1 कर ली। श्रीकांत ने वापसी करने की कोशिश की, लेकिन ली ने 12-7 की बढ़त बना ली। कुछ देर में बढ़त 14-7 हो गई। इस गेम में काफी कुछ दूसरे गेम जैसा ही रहा। तीसरे गेम में श्रीकांत लगातार पिछड़ रह थे। ली की बढ़त 18-11 की हो गई थी। यह गेम भी वेई ने 21 मिनट में 21-14 से अपने नाम किया। सेमीफाइनल का रोमांच इससे पहले विश्व रैंकिंग में नंबर एक पर पहुंचे किदाम्बी श्रीकांत ने पुरुष एकल में 2010 राष्ट्रमंडल खेलों के रजत पदक विजेता इंग्लैंड के राजीव ओसेफ को 21-10 , 21-17 से हराकर फाइनल में जगह बनाई थी। वहीं दूसरी ओर, 3 बार के ओलिंपिक सिल्वर मेडलिस्ट ली चोंग वेइ ने दूसरे सेमीफाइनल में भारत के एच एस प्रणय को 21-16, 9-21, 21-14 से मात दी थी।
नई दिल्ली साइना नेहवाल ने 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स में बैडमिंटन के महिला एक वर्ग का गोल्ड मेडल अपने नाम कर लिया। फाइनल मुकाबले में उन्होंने अपनी ही देश की स्टार शटलर पीवी सिंधु को बेहद कड़े मुकाबले में 21-18 और 23-21 से जीत दर्ज की। पहला गेम सिर्फ 22 मिनट तक चला तो दूसरा गेम खत्म होने में 34 मिनट लगे। इस दौरान दोनों ही खिलाड़ियों के बीच एक-एक पॉइंट के लिए जबरदस्त टक्कर देखने को मिली। कॉमनवेल्थ गेम्स में साइना नेहवाल का यह दूसरा गोल्ड मेडल है। ऐसा करने वाली वह भारत की पहली महिला शटलर हैं। इससे पहले उन्होंने दिल्ली कॉमनवेल्थ गेम्स-2010 में गोल्ड मेडल जीता था। भारत के लिए सबसे बड़ी खुशखबरी रही कि यह पहला मौका है, जब बैडमिंटन के महिला एकल का गोल्ड और सिल्वर मेडल दोनों ही उसके खाते में आए। अगर बात करें साइना बनाम सिंधु की तो इससे पहले दोनों के बीच पिछले साल नवंबर में सीनियर नैशनल चैंपियनशिप में आमने-सामने थी, जिसमें भी साइना ने जीत दर्ज की थी। साइना के नाम रहा पहला गेम, 22 मिनट तक चली 'फाइट' इसे गेम का पहला पॉइंट साइना नेहवाल ने लिया। हालांकि, सिंधु ने कुछ ही देर बाद 1-1 से बराबरी कर ली। 4 पॉइंट्स तक दोनों बराबरी पर चल रहे थे। इसके बाद साइना ने लगातार 5 पॉइंट्स जुटाते हुए बढ़त 9-4 कर ली, कुछ ही देर बाद बढ़त 12-6 की हो गई। सिंधु ने दो बार लगातार पॉइंट्स लेकर वापसी की कोशिश की, लेकिन साइना ने ऐसा होने नहीं दिया। ड्रॉप, स्पिन और नेट शॉट का बहुत ही चालाकी से इस्तेमाल करते हुए साइना ने यह गेम 22 मिनट में 21-18 से अपने नाम कर लिया। दूसरे गेम का रोमांच: एक-एक पॉइंट के लिए टक्कर 22 साल की सिंधु ने दूसरे गेम में अच्छी शुरुआत की। उन्होंने शुरुआत में 2-0 की बढ़त बनाई, लेकिन कुछ गलत शॉट खेले और साइना ने बराबरी कर ली। दूसरी ओर साइना ने भी कुछ गलत शॉट खेले, जिसका भरपूर फायदा सिंधु ने उठाते हुए 5-7 की बढ़त बना ली। दोनों के बीच एक-एक पॉइंट के लिए जोरदार टक्कर देखने को मिली। 39 शॉट की रैली हालांकि, शुरुआत में ही साइना के कुछ दिशाहीन शॉट से सिंधु को खूब पॉइट मिले और उनकी बढ़त 13-8 की हो गई। इसके बाद साइना ने जोरदार वापसी करते हुए बढ़त के अंतर को कम कर दिया (14-15)। यहां सिंधु ने लगातार 3 पॉइंट लेकर बढ़त 18-14 की तो साइना ने जवाबी कार्रवाई करते हुए 19-19 पर ला दिया। एक-एक पॉइंट के लिए हुई जबरदस्त टक्कर का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि एक बार तो दोनों के बीच 39 शॉट्स की रैली देखने को मिली।
मुंबई , दिल्ली डेयरडेविल्स ने मुंबई इंडियंस को शनिवार को खेले गए मुकाबले में 7 विकेट से मात देकर टूर्नामेंट में अपनी जीत का खाता खोला है. वहीं मुंबई इंडियंस ने यह मैच गंवा कर हार की हैट्रिक लगाई है. इस मैच में टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए मुंबई इंडियंस ने 20 ओवर में 7 विकेट गंवा कर 194 रन बनाए और दिल्ली डेयरडेविल्स को जीत के लिए 195 रनों का टारगेट दिया. जवाब में दिल्ली डेयरडेविल्स ने 20 ओवर में लक्ष्य हासिल करते हुए आईपीएल 11 सीजन में अपनी पहली जीत दर्ज की. स्कोरबोर्ड LIVE मुंबई ने दिल्ली को दिया 195 रनों का टारगेट टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए मुंबई इंडियंस ने 20 ओवर में 7 विकेट गंवा कर 194 रन बनाए और दिल्ली डेयरडेविल्स को जीत के लिए 195 रनों का टारगेट दिया. मुंबई इंडियंस की तरफ से सूर्यकुमार यादव ने सबसे ज्यादा 32 गेंदों में 53 रन की पारी खेली. मेजबान टीम के लिए सूर्यकुमार यादव (32 गेंदों में 53 रन) और एविन लुईस (28 गेंदों में 48 रन) ने शानदार शुरुआत की. लुईस ने सूर्य कुमार यादव के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 9 ओवर में 102 रनों की तूफानी पार्टनरशिप की थी. इसके बाद ईशान किशन (44), यादव का साथ देने आए. इन दोनों की साझेदारी रंग नहीं ला सकी. यादव 109 के योग पर राहुल तेवतिया की गेंद पर एलबीडब्ल्यू करार किए गए. यादव ने 32 गेंदों का सामना कर सात चौके और एक छक्का लगाया. ईशान ने इसके बाद कप्तान रोहित शर्मा (18) के साथ तीसरे विकेट के लिए अच्छी साझेकारी की और स्कोर को 166 तक पहुंचाया. इशान ने 23 गेंदों पर पांच चौके और दो छक्के लगाए. मुंबई को मिली ताबड़तोड़ शुरुआत एविन लुईस के रूप में मुंबई इंडियंस को पहला झटका लगा. आउट होने से पहले उन्होंने 28 गेंदों में 48 रन बनाए थे. लुईस को जेसन रॉय ने राहुल तेवतिया की गेंद पर कैच आउट कर पवेलियन भेज दिया. लुईस के बाद मुंबई इंडियंस को दूसरा झटका 11वें ओवर में लगा जब राहुल तेवतिया ने सूर्य कुमार यादव को एलबीडब्ल्यू कर दिया. सूर्य कुमार यादव 32 गेंदों में 53 रन बनाकर आउट हुए. लुईस ने सूर्य कुमार यादव के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 9 ओवर में 102 रनों की तूफानी पार्टनरशिप की थी. 16वें ओवर में मुंबई इंडियंस को डेनियल क्रिश्चियन ने लगातार दो गेंदों पर दो झटके दिए. क्रिश्चियन ने ईशान किशन और पोलार्ड दोनों को अपनी लगातार दो गेंदों पर क्लीन बोल्ड कर मुंबई का तीसरा और चौथा विकेट गिराया. ईशान 23 गेंदों में 44 रन बनाकर आउट हुए जबकि पोलार्ड बिना खाता खोले ही पवेलियन लौट गए. 18वें ओवर में कप्तान रोहित शर्मा के रूप में मुंबई को पांचवां झटका लगा, जब उन्हें ट्रेंट बोल्ट ने जेसन रॉय के हाथों कैच आउट करा दिया. रोहित ने 15 गेंदों पर दो चौके लगाए. क्रुणाल पंड्या ने 11 रन बनाए जबकि हार्दिक पंड्या दो रन बना सके. अकीला धनंजय और मयंक मार्कंडेय चार-चार रन बनाकर नाबाद लौटे. दिल्ली की ओर से ट्रेंट बोल्ट, क्रिश्चियन और तेवतिया ने दो-दो सफलता पाई जबकि मोहम्मद समी को एक सफलता मिली. गंभीर ने टॉस जीतकर मुंबई को दी पहले बैटिंग इससे पहले दिल्ली के कप्तान गौतम गंभीर ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया और मुंबई इंडियंस को बल्लेबाजी का न्योता दिया. दिल्ली डेयरडेविल्स और मुंबई इंडियंस ने अपनी प्लेइंग इलेवन में दो-दो बदलाव किए हैं. दिल्ली ने जेसन रॉय और डेनियल क्रिश्चियन को कॉलिन मनरो और क्रिस मॉरिस की जगह मौका दिया है. वहीं, मुंबई इंडियंस ने अकिला धनंजय को डेब्यू का मौका दिया है. वह बेन कटिंग की जगह लेंगे. हार्दिक पंड्या वापस आए हैं. प्लेइंग इलेवन दिल्ली डेयरडेविल्स- जेसन रॉय, गौतम गंभीर, श्रेयस अय्यर, ऋषभ पंत, ग्लेन मैक्सवेल, विजय शंकर, डेनियल क्रिश्चियन, राहुल तेवतिया, शाहबाज नदीम, मोहम्मद शमी, ट्रेंट बोल्ट. मुंबई इंडियंस- रोहित शर्मा (कप्तान), एविन लुईस, ईशान किशन, सूर्यकुमार यादव, हार्दिक पंड्या, क्रुणाल पंड्या, कीरोन पोलार्ड, मयंक मार्केंडय, जसप्रीत बुमराह, मुस्ताफिजुर रहमान, अकिला धनंजय.
कॉमनवेल्थ गेम्स में शनिवार को खेल के10वें दिन भारतीय खिलाड़ियों ने सुनहरा प्रदर्शन करते हुए भारत की झोली में अब तक 8 गोल्ड सहित कुल 17 मेडल डाल दिए हैं। भारत ने 4 ब्रॉन्ज और 5 सिल्वर मेडल जीते हैं। बॉक्सिंग में एमसी मैरी कॉम, गौरव सोलंकी, शूटिंग में संजीव राजपूत और भाला फेंक में नीरज चोपड़ा ने गोल्ड मेडल जीते।
कॉमनवेल्थ गेम्स के 10वें दिन यानी आज भारत की झोली में अब तक 4 गोल्ड मेडल सहित कुल 6 मेडल आ चुके हैं। बॉक्सिंग में एमसी मैरी कॉम, गौरव सोलंकी, शूटिंग में संजीव राजपूत और भाला फेंक में नीरज चोपड़ा ने गोल्ड मेडल जीते। 45-48kg बॉक्सिंग में मैरी कॉम ने नॉर्दर्न आयरलैंड की क्रिस्टीना ओहारा को हराकर भारत को गोल्ड मेडल दिलाया। मैरी पहली बार कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा ले रही थीं, जबकि 52kg बॉक्सिंग में गौरव ने नॉर्दर्न आयरलैंड के ब्रेंडन इर्विन को 4-1 से हराया। शूटर संजीव राजपूत ने 50 मीटर राइफल थ्री पोजिशंस में जीता मेडल जीता।
बेंगलुरु,रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने किंग्स इलेवन पंजाब को 4 विकेट से मात देकर आईपीएल सीजन 11 में जीत का अपना खाता खोल दिया है. टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए किंग्स इलेवन पंजाब की टीम 19.2 ओवर में 155 रन पर ढेर हो गई और RCB को जीत के लिए 156 रनों का टारगेट मिला. जवाब में RCB ने 19.3 ओवर में ही लक्ष्य हासिल कर लिया. बेंगलुरु के लिए एबी डिविलियर्स ने 40 गेंदों में 57 रन बनाए जिसमें चार छक्के और दो चौके शामिल हैं. क्विंटन डी कॉक ने 34 गेंदों में सात चौके और एक छक्के की मदद से 45 रन बनाए. मनदीप सिंह ने 19 गेंदों में 21 रन बनाए जिसमें एक चौका शामिल है. स्कोरबोर्ड डिविलियर्स ने अहम समय पर 40 गेंदों में दो चौके और चार छक्कों की मदद से अर्धशतकीय पारी खेली. इसमें मनदीप सिंह ने उनका बखूबी साथ दिया. मनदीप ने एक छोर संभाले रखते हुए 19 गेंदों में एक चौके की मदद से 22 रन बनाए. अक्षर पटेल ने बेंगलुरु को अच्छी शुरुआत से वंचित रखा. उन्होंने पहले ही ओवर की दूसरी गेंद पर खतरनाक ब्रेंडन मैक्कुलम को मुजीब उर रहमान के हाथों कैच कराया. एक रन के कुल स्कोर पर आउट होने वाले मैक्कुलम खाता भी नहीं खोल पाए. विराट कोहली ने 16 गेंदों में चार चौकों की मदद से 21 रन बनाए, लेकिन 33 के कुल स्कोर पर वह रहमान की बेहतरीन गेंद पर बोल्ड हो गए. दूसरे छोर पर डि कॉक लगातार स्कोर बोर्ड चला रहे थे. डि कॉक अर्धशतक से पांच रन दूर थे तभी पंजाब के कप्तान रविचंद्रन अश्विन ने उन्हें बोल्ड कर दिया. उन्होंने अपनी पारी में 34 गेंदों का सामना किया और सात चौकों के अलावा एक छक्का भी लगाया. युवा बल्लेबाज सरफराज ने एक बार फिर निराश किया. वह अश्विन की गेंद पर स्लिप पर करुण नायर के हाथों लपके गए. दूसरे छोर पर खड़े डिविलियर्स पंजाब की मुसीबत बने हुए थे. मुकाबला रोचक होता जा रहा था और इसी बीच डिविलियर्स ने मुजीब द्वारा फेंके गए 17वें ओवर में दो शानदार छक्के जड़े. इस ओवर में मनदीप ने एक चौका मारा. मुजीब ने इस ओवर में कुल 19 रन लुटाए. डिविलियर्स हालांकि 19वें ओवर की पहली गेंद पर पवेलियन लौट लिए. इसी ओवर में मनदीप भी रन आउट हो गए. वॉशिंगटन सुंदर ने (नाबाद 9) ने आखिरी ओवर में दो चौके मारे अपनी टीम को जीत दिलाई. उमेश यादव को 'मैन ऑफ द मैच' का अवॉर्ड दिया गया. 155 रनों पर ढेर हुई किंग्स इलेवन पंजाब टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए किंग्स इलेवन पंजाब की टीम 19.2 ओवर में 155 रन पर ढेर हो गई और RCB को जीत के लिए 156 रनों का टारगेट मिला. पंजाब को इस स्कोर तक रोकने में तीन विकेट लेने वाले RCB टीम के तेज गेंदबाज उमेश यादव का अहम योगदान रहा. उन्होंने चार रनों के भीतर मेहमान टीम के तीन बल्लेबाजों को पवेलियन भेजकर उसे बैकफुट पर धकेल किया जिससे वो कभी वापस नहीं आ पाई. बेंगलुरु के लिए उमेश के अलावा क्रिस वोक्स, कुलवंत खेजोरोलिया, वॉशिंगटन सुंदर को दो-दो विकेट मिले. युजवेंद्र चहल को एक सफलता मिली. पंजाब के लिए मयंक अग्रवाल (15) और लोकेश राहुल ने पहले विकेट के लिए 3.1 ओवरों में ही 32 रन जोड़ लिए थे. चार रनों के भीतर तीन विकेट गिर जाने से पंजाब की पारी लड़खड़ा गई. पहला विकेट मयंक के रूप में गिरा जिन्हें उमेश यादव ने विकेट के पीछे क्विंटन डी कॉक के हाथों कैच कराया. अगली गेंद पर एरॉन फिंच उमेश की गेंद पर एलबीडब्ल्यू करार दे दिए गए. युवराज सिंह ने चार गेंदों में सिर्फ एक चौका मारा और उमेश की गेंद पर बोल्ड हो गए. दूसरे छोरे पर राहुल टिके थे. उन्हें करूण नायर का साथ मिला. दोनों ने टीम का स्कोर 94 पहुंचा दिया. राहुल तेजी से रन बना रहे थे, नायर उन्हें स्ट्राइक दे रहे थे. इन दोनों के बीच चौथे विकेट के लिए हुई 58 रनों की साझेदारी का अंत कुलवंत खेजोरोलिया ने राहुल को बोल्ड कर किया. राहुल ने 30 गेंदों में दो चौके और चार छक्कों की मदद से 47 रन बनाए. छह रन बाद नायर को खेजोरोलिया ने अपना शिकार बनाया. मार्कस स्टोइनस (11) को वॉशिंगटन सुंदर ने टिकने नहीं दिया और 110 के कुल स्कोर पर पवेलियन भेजा. खेजोरोलिया ने अक्षर पटेल (2) को 122 के कुल स्कोर पर अपना दूसरा शिकार बनाया. कप्तान रविचंद्रन अश्विन ने अंत में 21 गेंदों में 33 रनों की पारी खेल पंजाब को 150 के पार पहुंचाया. वह 153 के कुल स्कोर पर चहल की गेंद पर आउट हुए. मुजीब उर रहमान के रूप में पंजाब ने अपना आखिरी विकेट खोया. रहमान खाता भी नहीं खोल सके. कोहली ने टॉस जीतकर पंजाब को दिया बल्लेबाजी का न्योता रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया है और किंग्स इलेवन पंजाब को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया है. बेंगलुरु ने अपनी टीम में कोई भी बदलाव नहीं किया है. वहीं पंजाब ने डेविड मिलर की जगह एरॉन फिंच को प्लेइंग इलेवन में जगह दी है. प्लेइंग इलेवन किंग्स इलेवन पंजाब - केएल राहुल, मयंक अग्रवाल, युवराज सिंह, एरॉन फिंच, करुण नायर, मार्कस स्टोइनिस, अक्षर पटेल, रविचंद्रन अश्विन, एंड्रयू टाय. मोहित शर्मा, मुजीब उर रहमान. रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु - विराट कोहली (कप्तान), एबी डिविलियर्स, क्विंटन डि कॉक, ब्रेंडन मैक्कुलम, सरफराज खान, मनदीप सिंह, वॉशिंगटन सुंदर, क्रिस वोक्स, कुलवंत खेजरोलिया, यजुवेंद्र चहल और उमेश यादव.

Top News

http://www.hitwebcounter.com/