taaja khabar....राफेल डील पर नई रिपोर्ट का दावा, नियमों के तहत रिलायंस को मिला ठेका.....सीबीआई को पहली कामयाबी, भारत लाया गया विदेश भागा भगोड़ा मोहम्मद याह्या.....राजस्थान विधानसभा चुनाव की बाजी पलट कर लोकसभा के लिए बढ़त की तैयारी में BJP.......GST के बाद एक और बड़े सुधार की ओर सरकार, पूरे देश में समान स्टैंप ड्यूटी के लिए बदलेगी कानून....UNHRC में भारत की बड़ी जीत, सुषमा स्वराज ने जताई खुशी....PM मोदी के लिखे गाने पर दृष्टिबाधित लड़कियों ने किया गरबा.....मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव: कांग्रेस के साथ नहीं एसपी-बीएसपी, बीजेपी को हो सकता है फायदा....गुरुग्रामः जज की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी ने उनकी पत्नी, बेटे को बीच सड़क गोली मारी, अरेस्ट....बेंगलुरु में HAL कर्मचारियों से मिले राहुल गांधी, बोले- राफेल आपका अधिकार....कैलाश गहलोत के घर से टैक्स चोरी के सबूत मिलेः आईटी विभाग.....मेरे लिए पाकिस्तान की यात्रा दक्षिण भारत की यात्रा से बेहतर: सिद्धू....घायल रहते 2 उग्रावादियों को किया ढेर, शहादत के बाद इंस्पेक्टर को मिलेगा कीर्ति चक्र....छत्तीसगढ़: कांग्रेस को तगड़ा झटका, रामदयाल उइके BJP में शामिल....
कलाकारआयुष्मान खुराना,सान्या मल्होत्रा,गजराज राव,नीना गुप्ता,सुरेखा सीकरी निर्देशक अमित रविंद्रनाथ शर्मा मूवी टाइपफैमिली,ड्रामा,कॉमिडी अवधि2 घंटा 10 मिनट क्रिटिक रिव्यू फर्ज कीजिए कि आप कॉलेज के बाद नौकरी कर रहे हैं और अपनी गर्लफ्रेंड के साथ शादी करके लाइफ सेटल करने की प्लानिंग भी कर रहे हैं। उधर आपके पापा भी अब रिटायरमेंट के नजदीक हैं। तभी अचानक आपको पता चले कि आपकी मम्मी प्रेगनेंट हैं और घर एक और नन्हा मेहमान आने वाला है, तो आपका रिऐक्शन क्या होगा? दशहरे के मौके पर रिलीज हुई फिल्म 'बधाई हो' भी दिल्ली के एक ऐसे ही लड़के नकुल कौशिक (आयुष्मान खुराना) की कहानी है, जो अपने साथ ऑफिस में ही काम करने वाली अपनी गर्लफ्रेंड रेने (सान्या मल्होत्रा) के साथ लाइफ सेटल करने की प्लानिंग कर रहा है। तभी अचानक एक दिन इंडियन रेलवे में टीटी की नौकरी करने वाले उसके जितेंद्र कौशिक (गजराज राव) उसे बताते हैं कि उसकी प्रियंवदा (नीना गुप्ता) प्रेगनेंट है। बेशक यह नकुल समेत उसके घर के दूसरे मेंबर्स, उसकी दादी (सुरेखा सीकरी) और उसके छोटे भाई गूलर तक के लिए शॉकिंग न्यूज होती है और उन सब को यह समझ नहीं आता कि वे नाते-रिश्तेदारों से लेकर पास-पड़ोस वालों का इस खबर को लेकर कैसे सामना करें। बेशक बुढ़ापे की इस प्रेग्नेंसी की वजह से कौशिक फैमिली को हर जगह मज़ाक का पात्र बनना पड़ता है। कल तक नकुल जिन दोस्तों का मजाक बनाता था, आज वह उनसे नज़रें चुराने पर मजबूर हो जाता है। और तो और इस सारी उधेड़बुन में नकुल का अपनी गर्लफ्रेंड रेने से भी ब्रेकअप हो जाता है। आखिर नकुल और उसकी फैमिली इस फनी सिचुएशन को कैसे संभालती है और वह अपनी गर्लफ्रेंड और उसकी मां को कैसे मनाता है? बेशक इन सब सवालों को जवाब जानने के लिए आपको थिअटर जाना होगा। 'विकी डोनर', 'दम लगा के हईशा', 'बरेली की बर्फी' और 'शुभ मंगल सावधान' जैसी फिल्मों से देसी और अडल्ट कॉमिडी फिल्मों के जॉनर में अपनी अलग पहचान बना चुके आयुष्मान खुराना 'बधाई हो' में अपनी फुल फॉर्म में नजर आते हैं। बेशक, आयुष्मान ने अपने-आपको साबित किया है, जिसके चलते निर्माताओं के दिमाग में इस तरह की फिल्मों के लिए वह स्वभाविक चॉइस होते हैं। वहीं आयुष्मान की दादी के रोल में सुरेखा सीकरी ने जान डाल दी है। बहुत अरसे बाद बड़े पर्दे पर इतनी दबंग सास नजर आई है, जो पूरे परिवार को धमकाने का दम रखती है। उन्हें देखकर आपको अपनी दबंग दादी मां याद आ जाएंगी। पापा और मम्मी के रोल में गजराज राव और नीना गुप्ता जबरदस्त लगे हैं। गजराज और नीना गुप्ता ने पूरी फिल्म में चेहरे पर शर्मिंदगी के भाव रखते हुए बेहद कमाल की ऐक्टिंग की है। बेशक गजराज को देखकर आपको अपने कोई शर्मीले अंकल याद आ जाएंगे। उधर नीना गुप्ता ने भी अधेड़ प्रेगनेंट लेडी के रोल को ईमानदारी से निभाया है। वहीं 'दंगल' फेम सान्या मल्होत्रा ने भी 'पटाखा' के बाद एक फिर 'बधाई हो' में बढ़िया ऐक्टिंग की है। दिल्ली की एलीट क्लास सोसायटी से ताल्लुक रखने वाली लड़की के रोल में वह खूब जमी हैं। सान्या की मां के रोल में शीबा चड्ढा भी ठीकठाक लगी हैं। इनके अलावा फिल्म के दूसरे छोटे पात्र भी कमाल लगे हैं। फिल्म के स्टोरी और स्क्रीनप्ले राइटर अक्षत घिल्डियाल और शांतनु श्रीवास्तव ने कमाल के डायलॉग और स्क्रीनप्ले लिखे हैं। फिल्म के मजेदार डायलॉग्स और फनी सीन्स आपको पेट पकड़कर हंसने पर मजबूर कर देते हैं। फिल्म में दिल्ली, हरियाणा और वेस्ट यूपी की बोली और कल्चर का पर्फेक्ट मिक्सचर आपको खूब भाएगा। खास बात यह है कि यह एकदम देसी अंदाज की कॉमिडी है, जो आपको सहज ही हंसने पर मजबूर कर देती है। डायरेक्टर अमित रविंद्रनाथ शर्मा पूरी फिल्म के दौरान आपका जमकर मनोरंजन करते हैं। करीब दो घंटे की फिल्म में उन्होंने कहीं भी अपनी पकड़ ढीली नहीं पड़ने दी है। फर्स्ट हाफ में जहां फिल्म आपको खूब हंसाती है। वहीं सेकंड हाफ में बेहद खूबसूरती से जॉइंट फैमिली सिस्टम और मिडिल क्लास वैल्यूज के महत्व का मेसेज देती है। फिल्म की खासियत यह है कि इसके तमाम सीन आपको अपनी रोजाना जिंदगी से जुड़े हुए लगते हैं। ऐसे में, अगर यह कहा जाए कि फेस्टिवल सीजन में रिलीज हो रही 'बधाई हो' इस साल की सबसे बड़ी एंटरटेनर फिल्म बनने का दम रखती है, तो गलत नहीं होगा। फिल्म के 'बधाई हो' और दूसरे गाने कहानी के मुताबिक सपॉर्ट करते हैं। वहीं 'मोरनी बनके' गाना तो रेडियो मिर्ची के टॉप चार्टर्स में शामिल है। दशहरा वीकेंड पर अगर आप पूरी फैमिली के साथ कुछ मजेदार देखना चाहते हैं, तो आपको इस बार शुक्रवार से एक दिन पहले यानी कि गुरुवार को रिलीज हो इस फिल्म को कतई मिस नहीं करना चाहिए।
कलाकारआयुष शर्मा,वरीना हुसैन निर्देशक अभिराज मीनावाला मूवी टाइपड्रामा,रोमांस अवधि1 घंटा 52 मिनट कहानी: सुश्रुत (आयुष शर्मा) वडोदरा में बच्चों को गरबा सिखाते हैं। इस बार का 9 दिन का नवरात्रि का त्योहार उनकी जिंदगी पूरी तरह बदल देता है। उन्हें मिशेल (वरीना हुसैन) से प्यार हो जाता है और उनका प्यार जीतने के लिए वह हर काम करते हैं। रिव्यू: सुश्रुत उर्फ 'सुसु' को एक ऐसा लड़का दिखाया गया है जिसकी कोई ख्वाहिशें नहीं हैं और वह केवल अपनी जिंदगी में डान्स करना चाहता है। उसके परिवार की तरफ से उस पर नौकरी ढूंढने का दबाव है जबकि वह वडोदरा में अपनी एक गरबा अकैडमी खोलना चाहता है। वहीं इंग्लैंड की मिशेल अपनी मातृभूमि भारत लौटना चाहती है और इस बात के लिए उसके पिता (रोनित रॉय) तैयार हो जाते हैं। अपनी फैमिली के कहने पर वह वडोदरा में नवरात्रि मनाने के लिए रुक जाते हैं। इसी त्योहार के दौरान सुसु को मिशेल से प्यार हो जाता है। 'लवयात्रि' केवल एक साधारण सी लव स्टोरी है। इससे ज्यादा फिल्म में कुछ भी नहीं है। डायरेक्टर अभिराज मीनावाला की यह पहली फिल्म है और उन्होंने बॉलिवुड के पुराने मसालों पर सेफ गेम खेलने की कोशिश की है। हालांकि फिल्म का स्क्रीनप्ले बहुत ज्यादा अच्छा नहीं लिखा गया है। फिल्म के कैरक्टर्स आपको पसंद आएंगे लेकिन कहानी आपको इतनी आकर्षक नहीं लगेगी। फिल्म के गाने खूबसूरती से फिल्माए गए है और वैभवी मर्चेंट की कोरियॉग्रफी भी अच्छी है। यह कहना सही होगा कि अपनी पहली फिल्म कर रहे आयुष और वरीना अभी ऐक्टिंग में कच्चे हैं। हालांकि स्क्रीन पर उनकी केमिस्ट्री अच्छी लगती है। आयुष बिल्कुल युवा लड़के के रूप में ठीक लगते हैं। सुसु के अंकल के रूप में राम कपूर ने और मिशेल के पिता के रूप में रोनित रॉय ने बेहतरीन काम किया है और उन्होंने इमोशनल और भारी-भरकम डायलॉग बोले हैं। 'लवरात्रि' उन लोगों के लिए अच्छी फिल्म है जो 90 के दशक की रोमांटिक फिल्मों के शौकीन हैं।
नई दिल्ली,15 अगस्त को आजादी के जश्न पर रिलीज हुई अक्षय कुमार की पीरियड ड्रामा 'गोल्ड' की कमाई पर दूसरे दिन साफ असर देखा गया. पहले दिन की तुलना में दूसरे दिन गुरुवार को फिल्म ने महज 8 करोड़ की कमाई की. ट्रेड एनालिस्ट तरण आदर्श ने जानकारी दी कि भारतीय बाजार में फिल्म ने दो दिन में 33.25 करोड़ की कमाई कर ली है. गोल्ड के साथ ही रिलीज हुई जॉन अब्राहम, मनोज बाजपेयी की फिल्म 'सत्यमेव जयते' की कमाई पर भी असर पड़ा है. हालांकि गोल्ड की तुलना में कम स्क्रीन्स मिलने के बावजूद दूसरे दिन फिल्म ने 7.92 करोड़ की कमाई की. गोल्ड को 3000 से ज्यादा स्क्रीन्स मिले हैं जबकि सत्यमेव जयते को महज 2500 स्क्रीन. वैसे स्वतंत्रता दिवस के मौके पर रिलीज हुई अक्षय और जॉन की फिल्म ने अब तक बॉक्स ऑफिस कमाई के 8 रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं. आइए जानते हैं गोल्ड और सत्यमेव जयते ने किन फिल्मों के रिकॉर्ड तोड़े हैं... #1. बॉक्स ऑफिस पर अक्षय की आठवीं बड़ी कमाई वाली फिल्म गोल्ड गोल्ड अक्षय कुमार की बॉक्स ऑफिस पर आठवीं बड़ी कमाई करने वाली फिल्म साबित होगी. गोल्ड से पहले पैडमैन (78.22 करोड़) टॉयलेट एक प्रेम कथा, जॉली एलएलबी 2 (117 करोड़), रुस्तम (127.49 करोड़), हाउसफुल 3 (109.14 करोड़), एयरलिफ्ट (128.1 करोड़) और सिंह इज ब्लिंग (89.95 करोड़) अक्षय की सर्वाधिक कमाई करने वाली फिल्मों में शामिल हैं. 2. गोल्ड अक्षय कुमार की सबसे बड़ी ओपनर गोल्ड से पहले अक्षय की ओपनिंग डे पर सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म थी सिंह इज ब्लिंग. इस फिल्म ने पहले दिन 16.98 करोड़ रुपये का कलेक्शन किया था. गोल्ड ने पहले दिन 25.25 करोड़ कमाकर ये रिकॉर्ड तोड़ दिया. #3. 2018 स्वतंत्रता दिवस अब तक सर्वश्रेष्ठ गोल्ड और सत्यमेव जयते दोनों 15 अगस्त को रिलीज हुई थीं. हिंदी सर्किट में इस दिन सबसे ज्यादा 40 करोड़ कमाई करने का रिकॉर्ड बाहुबली 2 के नाम था. लेकिन अक्षय और जॉन की फिल्म ने स्वतंत्रता दिवस के पहले दिन 45 करोड़ कमा कर ये रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया. #4 जॉन अब्राहम की सत्यमेव जयते सबसे बड़ी ओपनर सत्यमेव जयते जॉन अब्राहम की अब तक की सबसे बड़ी ओपनिंग वाली फिल्म है. फिल्म ने पहले दिन 20.52 करोड़ रुपए कमाए. जॉन की सोलो परफॉर्मेंस वाली फॉर्स 2 ने भी 5.75 करोड़ रुपए कमाए. #5 गोल्ड को पहले दिन मिले सबसे ज्यादा दर्शक गोल्ड ने पहले दिन सिनेमाघरों की 52 फीसदी सीटों पर कब्जा जमाया. जो कि संजू और बागी 2 के बाद सबसे ज्यादा हैं. दूसरी ओर सत्यमेव जयते 42.5% ऑक्यूपेंसी के साथ छठवें नंबर पर है. #6 गोल्ड साल की टॉप 3 ओपनर्स में गोल्ड इस साल की पहले दिन सबसे ज्यादा कमाई करने वाली टॉप 3 फिल्मों में शामिल हो गई है. पहले और दूसरे नंबर पर संजू और रेस 3 है, इन्होंने पहले दिन क्रमश: 34. 75 और 29.17 करोड़ रुपए की कमाई की थी. गोल्ड ने पहले दिन 25.25 करोड़ रुपए कमाए. दूसरी ओर पहले दिन 20.52 करोड़ कमाकर सत्यमेव जयते साल की पांचवीं सबसे बड़ी फिल्म बनी है. #7 A रेटेड फिल्मों में सत्यमेव जयते सबसे बड़ी ओपनर जॉन की सत्यमेव जयते ए सर्टिफिकेट वाली सबसे बड़ी ओपनर बन गई है. बता दें कि जॉन की इस फिल्म को उतने अच्छे रिव्यू नहीं मिले, जितने की अक्षय की गोल्ड को मिले. #8 डायरेक्टर्स की भी सबसे बड़ी ओपनिंग वाली फिल्म सत्यमेव जयते का न‍िर्देशन मिलाप जावेरी ने किया है. ये उनकी अब तक की सबसे बड़ी ओपनिंग वाली फिल्म है. इससे पहले उन्होंने मस्तीजादे और जाने कहां से आई है फिल्मों का न‍िर्देशक किया. दूसरी ओर गोल्ड का निर्देशन रीमा कागती ने किया है, ये उनकी भी बेस्ट ओपनिंग वाली फिल्म है. इससे पहले वे तलाश और हनीमून ट्रेवल्स बना चुकी हैं.
अनुभव सिन्हा की मुल्क सामायिक और साहसी फिल्म है। यह आज के समय के सबसे सेंसिटिव टॉपिक को उठाती है। किसी विशेष धर्म के प्रति हमारे पूर्वाग्रह और जिंदगी सकंट में पड़ते ही हम कैसे धर्मनिरपेक्षता जैसी बातों को भूल जाते हैं इस फिल्म में दिखाया गया है। मुल्क इस मुद्दे को भी उठाती है कि क्या आतंकवाद को इस्लाम से ही जोड़ा जाना चाहिए। हमारी राय क्यों बदल जाती है कि जब हम सुनते हैं कि आदमी मुस्लिम कम्यूनिटी से संबधित है। कहानी: मुराद अली मोहम्मद (ऋषि कपूर) बनारस में रहने वाली मुस्लिम फैमिली के मुखिया है। फैमिली में उनकी वाइफ तब्बसुम (नीना गुप्ता), बेटा (इंद्रनेल सेनगुप्ता), बहू आरती मोहम्मद (ताप्सी पन्नू), भाई बिलाल (मनोज पहवा), बिलाल की बीवी और बच्चे हैं। मुराद उस एरिया का सम्मानित वकील है। वे खुशी- खुशी अपना जीवन जी रहे होते हैं। तभी अचानक बिलाल का बेटा शाहिद प्रतीक बब्बर आतंकवादी गतिविधियों में शामिल पाया जाता है जिसमें कई लोगों की जान चली जाती है। मामले की तहकीकात एटीएस ऑफिसर जावेद ( रजत कपूर) करते है। जिसे शक है कि मुराद की पूरी फैमिली आतंकवाद फैलाने में लिप्त है। बिलाल को बेटे के साथ मिलकर आतंकवादी गतिविधियों को करने का दोषी पाया गया है। मुराद की फैमिली इस षडयंत्र के विरुद्ध लड़ने का निश्चय करती है। आरती जो कि एक हिंदु फैमिली से है, मुराद के साथ लड़ती है। वो फैमिली को इस आरोप से बाहर निकालने का ही नहीं मुस्लिमों को लेकर लोगों के मन जो पूर्वाग्रह हैं उन्हें भी दूर करती है। डायरेक्शन:अनुभव सिन्हा ने इस मुद्दे को सधे हए तरीके से दिखाया है। हिंदू- मुस्लिम फैमिली शांति के साथ रहते हैं। मन में बसे पूर्वाग्रह को बारीकी से दिखाया गया है। जैसे कि एक हिंदू महिला मुराद के घर में खाना खाने के लिए मना कर देती है। यहां तक कि वे मुराद के 60वें जन्मदिन की पार्टी में शामिल भी नहीं होना चाहती। कहानी के दो कम्यूनिटी बीच प्यार और नफरत दोनों को कहानी को दिखाया गया है। कहीं भी अपने सब्जेक्ट से भटकती नजर नहीं आती। मुल्क, समाज को आईना दिखाती सी लगती है। सिन्हा ने अपने ओपिनियन के बीच बैलेंस रखा है। फिल्म के एक सीन में शाहिद अपने दोस्त से बेरोजगार होनी की शिकायत करता है तब उसका दोस्त उसे कुछ हिंदू दोस्तों की याद दिलाता है जिनके पास भी जॉब नहीं है। यहां ये भी समझाने की कोशिश की गई है कि हमेशा मुस्लिम ही पीड़ित नहीं है। एक्टिंग:ऋषि कपूर ने मुराद अली का किरदार शानदार तरीके से निभाया है। वे न सिर्फ अपनी फैमिली और कम्यूनिटी के लिए पाले गए पूर्वाग्रहों के लिए लड़ते हैं बल्कि सिचुएशन से बचकर निकलने के लिए भी मना कर देते हैं। तापसी पन्नू की परफॉर्मेंस प्रभावित करती है। क्लाइमैक्स सीन में उनका पंच शानदार है। बाकी की कास्ट नीना गुप्ता, प्राची शाह, प्रतीक बब्बर, मनोज पहवा ने भी अच्छा काम किया है। आशुतोष राणा जिन्होंने डिफेंस लॉयर के किरदार को निभाया है स्क्रीन प्रेजेंस कमाल का है, लेकिन कोर्टरूम में उनका अभिनय लय से बाहर जाता सा लगता है। देखें या नहीं? सिन्हा ने मुराद की फैमिली और उसके आसपास की दुनिया को रियलस्टिक रखा है। लेकिन कोर्टरूम के सीन्स में मेलोड्रामा लगता है। फिल्म का म्यूजिक नीरस है। फिल्म को जरूर देखना चाहिए क्योंकि ये रिलेवेंट होने के साथ ही हमें अपने अंदर झांकने का मौका देती है।
अभी खबर आई थी कि ऐक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा ने अब्बास अली जफर की फिल्म 'भारत' छोड़ दी है, जिसमें सलमान खान लीड रोल में थे। कहा था जा रहा था कि प्रियंका ने यह फिल्म निक जोनस से शादी के चलते छोड़ी। अली अब्बास ज़फर ने भी ट्वीट कर प्रियंका के फिल्म छोड़ने को कन्फर्म किया। अब खबर है कि प्रियंका और निक ने सगाई कर ली है। एक सूत्र ने पीपल मैग्जीन को बताया कि प्रियंका और निक ने एक हफ्ते पहले ही सगाई कर ली। यह सगाई लंदन में प्रियंका के बर्थडे पर हुई। सोर्स ने आगे यह भी बताया कि निक ने सगाई के लिए न्यू यॉर्क से एक रिंग खरीदी। दोनों काफी खुश हैं और अपनी शादी को लेकर काफी एक्साइटेड हैं। यूएस मीडिया ने भी प्रियंका और निक की सगाई की खबरों को कन्फर्म कर दिया है। कई मीडिया पोर्टल्स प्रियंका और निक की सगाई की खबरों से पटे पड़े हैं। बता दें कि हाल ही में प्रियंका चोपड़ा जब मुंबई एयरपोर्ट पर नज़र आईं, तो उनकी उंगली में एक डायमंड रिंग दिखी। इसके बाद अटकलें लगाई जाने लगीं कि प्रियंका ने सगाई कर ली है। जैसे ही प्रियंका की नज़र कैमरों पर पड़ी तो उन्होंने अपनी उस रिंग को छिपाने की खूब कोशिश भी की। हालांकि अब यह कन्फर्म हो गया है कि प्रियंका और निक जोनस से सगाई कर ली है। खबर आ रही है कि इस साल अक्टूबर में ही प्रियंका और निक शादी कर लेंगे।
नई दिल्ली,रवि किशन को भोजपुरी सिनेमा का अमिताभ बच्चन कहा जाता है. उनका स्टारडम इस समय आसमान पर है. उन्होंने भोजपुरी में सात फिल्मों की एक डील की है. रवि ने जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड (जेडईईएल) चैनल बिग गंगा के साथ यह डील की है. रवि ने कहा, "सभी सात फिल्में अलग-अलग तरह की हैं और ये मसाला फिल्मों की बजाए विषय आधारित फिल्में हैं." उनका कहना है कि चैनल दर्शकों का मिजाज समझता है और इसकी बिहार और झारखंड राज्यों में व्यापक पहुंच है, जहां दर्शक भोजपुरी सामग्री देखते हैं. उन्होंने कहा, "इस साझेदारी के माध्यम से भोजपुरी सिनेमा को अगले स्तर पर ले जाने का हमारा प्रयास है और मैं ईमानदारी से आशा करता हूं कि मेरे प्रशंसकों को इन फिल्मों को देखने का आनंद मिलेगा." रवि ने 2.5 वर्ष से अधिक समय की अवधि के लिए करार किया है.उनकी सात फिल्मों में 'सनकी दरोगा', 'परम पोथी', 'शेर जिंदा है', 'सनकी दरोगा 2', 'मंगरूआ के प्रेम कथा', 'रगड़ता बिहार' और 'बब्बर शेर' जैसी फिल्में शमिल हैं.
नई दिल्ली, सलमान खान की फिल्म भारत की शूटिंग शुरू हो चुकी है. इसका निर्देशन अली अब्बास जफर कर रहे हैं. भारत 2014 की कोरियन फिल्म ओड टू माई फादर का रीमेक है. फिल्म में सलमान खान का लुक कैसा होगा इसका खुलासा हो गया है. एक्टर के डिजाइनर एशले रिबेलो ने इंस्टा पर उनका लुक शेयर किया है. तस्वीर में सलमान खान का लुक वैसा ही है जैसा कि अक्सर रहता है. उनके इस लुक में कुछ खास नयापन नहीं है. पिछली फिल्म रेस-3 में भी उनका लुक ऐसा ही था. वे बॉम्बर जैकेट पहने नजर आ रहे हैं. एशले के फोटो कैप्शन को देखकर लगता है कि सलमान का ये लुक सॉन्ग शूट के दौरान का है. वैसे फैंस को निराश होने की जरूरत नहीं है क्योंकि फिल्म भारत में सलमान के कई लुक देखने को मिलेंगे. इसमें सलमान की उम्र 25 से 65 साल तक की दिखाई जाएगी. इसलिए हर एज के साथ उनका अलग-अलग लुक देखने को मिलेगा. सलमान के युवा उम्र वाले लुक के लिए एज रिडक्शन टेकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा. बता दें सलमान की ये फिल्म एक बड़ा प्रोजेक्ट है. भारत की कहानी 1947 से 2010 के दौर की कहानी है. फिल्म की रिलीज डेट 5 जून, 2019 रखी गई है. अली अब्बास और सलमान की जोड़ी की यह तीसरी फिल्म होगी. इससे पहले दोनों 'सुल्तान' और 'टाइगर जिंदा है' जैसी ब्लॉक बस्टर फिल्में दे चुके हैं. प्रियंका चोपड़ा भारत के जरिए एक लंबे वक्त के बाद बॉलीवुड फिल्मों में वापसी कर रही हैं. प्रियंका के अलावा मूवी में दिशा पाटनी भी नजर आएंगी.
ईशान खट्टर और जाह्नवी कपूर की 20 जुलाई को रिलीज हुई फिल्म ‘धड़क’ ने 33.67 करोड़ रुपए का कलेक्शन कर लिया है। ‘धड़क’ ने पहले दिन 8.71, दूसरे दिन 11.04 करोड़ रुपए कमाए थे लेकिन तीसरे दिन इसके कलेक्शन में काफी इजाफा देखने को मिला। फिल्म ने 13.92 करोड़ रूपए कमाए और इस तरह इसका कलेक्शन 33.67 करोड़ रुपए पर जा पहुंचा है। ट्रेड एनालिस्ट तरण आदर्शने इसकी जानकारी ट्विटर पर दी। इससे पहले बॉक्स ऑफिस पर पहले दिन फिल्म ने 8.71 रुपए का कलेक्शन करके बड़ी ओपनिंग की थी। करण जौहर ने अपने बैनर धर्मा प्रोडक्शन और जी स्टूडियोज के तले इस फिल्म को दर्शकों के सामने नए तरीके से पेश करने की कोशिश की है। ट्रेड एनालिस्ट तरण आदर्श के अनुसार, ‘सैराट’ ब्लॉकबस्टर फिल्म थी, लेकिन ‘धड़क’ इंटरनेशनल लेवल की ऑडियंस के हिसाब से बनाई गई है। इस फिल्म को रिलीज हुए तीन दिन हो चुके हैं और इसे लोगों का अच्छा रिस्पॉन्स मिल रहा है। उम्मीद है यह फिल्म कई और रिेकॉर्ड्स बनाएगी। दूसरे डेब्यू एक्टर्स से बेहतर साबित हुए ईशान-जाह्नवी:न्यूकमर्स ईशान और जाह्नवी की फिल्म ‘धड़क’ 8.71 करोड़ रुपए के फर्स्ट डे कलेक्शन के साथ सबसे टॉप पर है। करण जौहर की इस फिल्म ने उनकी ही पिछली फिल्म ‘स्टूडेंट ऑफ द ईयर’ का रिकॉर्ड ब्रेक कर दिया है। 2012 रिलीज हुई फिल्म ने 8 करोड़ रुपए कमाए थे। इसके अलावा ‘धड़क’ ने टाइगर श्रॉफ-कृति सेनन स्टारर फिल्म ‘हीरोपंती’, सूरज पंचोली-अथिया शेट्‌टी स्टारर फिल्म ‘हीरो’ और अर्जुन कपूर-परिणिति चोपड़ा स्टारर फिल्म ‘इशकजादे’ को भी पछाड़ दिया है। 'हीरोपंती' ने 6.51 करोड़, 'हीरो' ने 6.69 करोड़ और 'इशकजादे' ने 6.48 करोड़ रुपए कमाए थे।
कलाकारजाह्नवी कपूर,ईशान खट्टर,आशुतोष राणा निर्देशक शशांक खेतान मूवी टाइपड्रामा,रोमांस अवधि2 घंटा 18 मिनट आखिरकार, इस शुक्रवार को श्रीदेवी की बेटी जान्‍हवी कपूर की पहली फिल्म धड़क रिलीज हुई, शाहिद कपूर के भाई ईशान खट्टर इससे पहले इंटरनैशनल फेम डायरेक्टर माजिद की फिल्म 'बियॉन्ड इ क्लाउड' में अपनी प्रतिभा का लोहा दर्शकों और क्रिटिक्स ने मनवा ही चुके हैं। यही वजह है कि रिलीज़ से पहले ही इस युवा जोड़ी की इस फिल्म का यंगस्टर्स में जबर्दस्त क्रेज रहा। वहीं, इस फिल्म के डायरेक्टर शशांक खेतान की पिछली दोनों फिल्में 'हम्पटी शर्मा की दुल्हनिया' और 'बद्रीनाथ की दुल्हनिया' बॉक्स आफिस पर हिट रही। यहीं वजह रही धड़क से दर्शकों और ट्रेड की को कुछ ज्यादा ही उम्मीदें हैं। बता दें कि यह फिल्म बॉक्स आफिस पर रेकॉर्ड कलेक्शन करने वाली सुपर हिट मराठी फिल्म 'सैराट' का हिंदी रीमेक है। वैसे, इससे पहले सैराट तमिल और पंजाबी में बन चुकी है और इन दोनों फिल्मों को दर्शकों ने बेहद पसंद किया। आपको ताज्जुब होगा कि मराठी में बनी फिल्म का बजट कुल 04 करोड़ रहा तो फिल्म ने टिकट खिड़की पर 105 करोड़ के करीब कलेक्शन की। ऐसे में शंशाक ने भी अपनी इस फिल्म को भी लगभग वही लुक दिया है जो मराठी फिल्म में नजर आया। इतना ही नहीं 'धड़क' के म्यूजिक में मराठी टच साफ सुनाई देता है। देश-विदेश में रिलीज हुई इस फिल्म का ट्रेड में क्रेज इसी से लगाया जा सकता है कि मल्टिप्लेक्सों में इस फिल्म के औसतन दस से ज्यादा शोज रखे गए हैं तो अडवांस बुकिंग में भी फिल्म को अच्छा रिस्पॉन्स मिला, नई दिल्ली के डिलाइट सिनेप्लेक्स पर पहले तीन की 50 फीसदी से ज्यादा टिकटें अडवांस में ही बिक चुकी है। स्टोरी प्लॉट: धड़क की कहानी राजस्‍थान के उदयपुर शहर से शुरू होती है। राज परिवार से जुड़ी पार्थवी (जाह्नवी कपूर) न तो अपने राजपरिवार के बंधनों और कायदों को दिल से स्वीकार करती है और न ही उसे अपनी आजादी में भाई चाचा या फिर अपने पिता तक का दखल देना पसंद है। दूसरी ओर पार्थवी के पिता ठाकुर रतन सिंह (आशुतोष राणा) को भी कतई बर्दाश्त नहीं कि कोई उसके किसी भी फैसले के खिलाफ जाए। पार्थवी के कॉलेज में पढ़ने वाले मधुकर (ईशान खट्टर) को पहली नजर में ही पार्थवी से प्यार हो जाता है, मधुकर के पिता को मंजूर नहीं कि उनका बेटा ऊंची जाति और राजघराने की पार्थवी से मिले, लेकिन मधुकर और पार्थवी इन सब की परवाह किए बिना एक-दूसरे से मिलते हैं। दूसरी ओर ठाकुर साहब चुनाव लड़ने की तैयारी में लगे हैं, ऐसे में उन्हें वोटर को रिझाना भी मजबूरी बनता जा रहा है। रतन सिंह को पार्थवी और मधुकर के प्यार के बारे में जब पता लगता है तो मधुकर और उसकी फैमिली पर उनका कहर टूट पड़ता है। ऐसे में दोनों उदयपुर से भाग जाते हैं, अब आगे क्या होगा यह जानने के लिए आपको थिअटर का रूख करना होगा। ऐक्टिंग , डायरेक्शन, म्यूजिक: जाह्नवी ने अपनी पहली ही फिल्म में साबित किया कि कैमरा फेस करने से पहले उन्होंने लंबा होमवर्क किया तो ईशान खट्टर एक बार फिर अपने फैन्स की कसौटी पर खरे उतरे। इन दोनों की ऑन स्क्रीन केमिस्ट्री देखते ही बनती है। वहीं, जाह्नवी क्लोजअप सीन्स में ईशान से बड़ी नजर आईं। ठाकुर रतन सिंह के रोल में आशुतोष राणा का जवाब नहीं। मधुकर के दोस्त बने अंकित बिष्ठ और श्रीधरन अपने अपने रोल में फिट रहे। फिल्म के डायरेक्टर शशांक रायजादा ने इंटरवल से पहले की फिल्म को कुछ ज्यादा ही खींच दिया। खासकर पार्थवी और मधुकर की मुलाकातों के लंबे सीन पर आसानी से कैंची चलाई जा सकती थी। इस फिल्म का म्यूजिक रिलीज से पहले म्यूजिक लवर्स की जुबां पर है तो फिल्म के दो गाने 'धड़क है न' और 'पहली बार' का फिल्मांकन देखते ही बनता है। क्यों देखें : जाह्नवी और ईशान की बेहतरीन केमिस्ट्री, राजस्थान की पृष्ठभूमि में बनी इस फिल्म की कहानी में बेशक नया कुछ न हो लेकिन कहानी को ऐसे दिलचस्प ढंग से पेश किया गया है कि आप कहानी से बंधे रहते हैं। क्रिटिक्स की तरफ से इस फिल्म को मिले हैं साढ़े 3 स्टार।
मुंबई, मशहूर टीवी शो 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' में डॉक्टर हंसराज हाथी का रोल न‍िभाने वाले एक्टर कव‍ि कुमार आजाद का न‍िधन हो गया है. एक्टर लंबे वक्त से इस शो में जुड़े हुए थे. एक्टर कव‍ि कुमार आजाद की मौत हार्ट अटैक की वजह से हुई है. कुछ द‍िनों पहले एक्टर के ट्व‍िटर अकाउंट से एक तस्वीर पोस्ट की गई थी. इस तस्वीर में एक्टर ने कहा था- "किसी ने कहा है कल हो न हो, मैं कहता हूं पल हो न हो. हर लम्हा जियो." एक्टर की मौत से टीवी इंडस्ट्री को बहुत बड़ा झटका लगा है. मीड‍िया रिपोर्ट के मुताबिक एक्टर ने 2010 में अपना 80 किलो वजन सर्जरी से कम किया था. इस सर्जरी के बाद उन्हें रोजाना की ज‍िंदगी में काफी आसानी हो गई थी. एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा था, "मुझे खुशी है कि लोगों ने मुझे मेरे किरदार के लिए पसंद किया." बताने की जरूरत नहीं कि "तारक मेहता का उल्टा चश्मा" की वजह से ही कवि कुमार आजाद की पहचान घर-घर में हुई. 10 साल पहले ऑनएयर हुआ था शो ये शो गुजराती में छपे एक कॉलम "दुनिया ने उन्धा चश्मा" (Duniya Ne Undha Chashma) का हिस्सा है. इसे पत्रकार तारक मेहता ने गुजराती की साप्ताहिक पत्रिका "चित्रलेखा" के लिए लिखा था. ये भारत में सबसे ज्यादा समय से चलने वाला स्क्रिप्टेड शो है. आज से 10 साल पहले 28 जुलाई 2008 में ये शो ऑन एयर हुआ था.

Top News

http://www.hitwebcounter.com/