taaja khabar....भारत ने पाकिस्तान को दिखाया 'ठेंगा', नहीं भेजा सीमा शुल्क मीटिंग का न्यौता...यूपीः 69,000 सहायक शिक्षकों की भर्ती परीक्षा 6 जनवरी को....पंजाब: कैप्टन बयान पर नवजोत सिंह सिद्धू की बढ़ीं मुश्किलें, 18 मंत्रियों ने खोला मोर्चा...साबुन-मेवे की दुकान में मिले सीक्रेट लॉकर, 25 करोड़ कैश बरामद....J-K: शोपियां में सुरक्षा बलों ने 3 आतंकियों को घेरा, मुठभेड़ जारी...
Dec 12, 2018,जिले की पांच विधानसभा सीटों पर मंगलवार को आए अप्रत्याशित नतीजों ने सबको चौंका दिया। पांच विधानसभा क्षेत्रों में से दो पर कांग्रेस ने बाजी मारी है तो वहीं दो सीटों पर कमल खिला है। जबकि एक सीट माकपा के खाते में गई है। सुबह 8 बजे शुरू हुई मतगणना के बाद 9 बजे जैसे ही रुझान आने शुरू हुए तो जिले में कांग्रेस की स्थिति मजबूत दिखाई देने लगी। हालांकि पिछले विधानसभा चुनावों में पांचों सीटों पर भाजपा ने जीत दर्ज की थी लेकिन इस बार भाजपा को तीन जगह हार का सामना करना पड़ा। जिले की हनुमानगढ़ विधानसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी चौधरी विनोद कुमार ने भाजपा के कद्दावर नेता डॉ. रामप्रताप को हराया तो नोहर विधानसभा से कांग्रेस के अमित चाचाण भाजपा के दिग्गज अभिषेक मटोरिया को परास्त किया। जिले की पांच विधानसभा सीटों पर मंगलवार को आए अप्रत्याशित नतीजों ने सबको चौंका दिया। पांच विधानसभा क्षेत्रों में से दो पर कांग्रेस ने बाजी मारी है तो वहीं दो सीटों पर कमल खिला है। जबकि एक सीट माकपा के खाते में गई है। सुबह 8 बजे शुरू हुई मतगणना के बाद 9 बजे जैसे ही रुझान आने शुरू हुए तो जिले में कांग्रेस की स्थिति मजबूत दिखाई देने लगी। हालांकि पिछले विधानसभा चुनावों में पांचों सीटों पर भाजपा ने जीत दर्ज की थी लेकिन इस बार भाजपा को तीन जगह हार का सामना करना पड़ा। जिले की हनुमानगढ़ विधानसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी चौधरी विनोद कुमार ने भाजपा के कद्दावर नेता डॉ. रामप्रताप को हराया तो नोहर विधानसभा से कांग्रेस के अमित चाचाण भाजपा के दिग्गज अभिषेक मटोरिया को परास्त किया। वहीं पीलीबंगा विधानसभा से भाजपा के धर्मेंद्र मोची ने कांग्रेस के विनोद गोठवाल को हरा दिया वहीं संगरिया विधानसभा से एक दिन पहले भाजपा में शामिल हुए गुरदीप शाहपीनी ने कांग्रेस की एक मात्र महिला उम्मीदवार शबनम गोदारा को हराया। वहीं भादरा विधानसभा से माकपा के बलवान पूनियां ने भाजपा और कांग्रेस दोनों को पछाड़ते हुए जीत का ताज अपने नाम किया। बड़ी बात ये भी रही कि माकपा के बलवान पूनियां ने जिले की पांच सीटों में सबसे ज्यादा वोटों से जीत दर्ज की। वहीं सबसे कम अंतर से पीलीबंगा के धर्मेंद्र मोची रहे। जिन्होंने महज 286 वोटों से अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी को हराया है। रोचक बात ये रही कि जहां से भाजपा ने इस बार मौजूदा विधायकों के टिकट काटे वहीं से भाजपा को जीत मिली जबकि पुराने प्रत्याशियों को हार का मुंह देखना पड़ा। इससे पहले जंक्शन स्थित राजकीय पॉलिटेक्निक कॉलेज में हुई मतगणना में सबसे पहला जीत का नतीजा हनुमानगढ़ विधानसभा से चौधरी विनोद कुमार की जीत के रूप में सामने आया। इसके बाद शाम 6 बजे तक आखिरी रिजल्ट आया। भाजपा के धुरंधर हारे, संगरिया और पीलीबंगा में चेहरे बदले तो पार्टी की लाज बची जिले की पांच विधानसभा सीटों में भाजपा के धुरंधर माने जाने वाले हनुमानगढ़ से केबिनेट मंत्री डॉ. रामप्रताप, नोहर से अभिषेक मटोरिया और भादरा से संजीव बेनीवाल पर जनता ने दोबारा विश्वास नहीं जताते हुए हार का मुंह दिखाया। वहीं संगरिया और पीलीबंगा में चेहरे बदलना पार्टी के लिए फायदेमंद साबित हुआ। संगरिया से पहली बार भाजपा टिकट पर चुनाव लड़े गुरदीप शाहपीनी और पीलीबंगा से धर्मेंद्र मोची ने कड़े मुकाबले में जिले में भाजपा की लाज बचाई। वहीं नोहर में भाजपा की ओर से युवा चेहरे को लगातार तीसरी बार मैदान में उतारने के बाद कांग्रेस का भी युवा चेहरे को टिकट देने का फार्मूला कामयाब रहा। युवा पालिकाध्यक्ष अमित चाचाण पर भरोसा जताते हुए जनता ने विधायक चुना। सबसे बड़ी जीत बलवान पूनिया (माकपा) भादरा 82204 वोट मिले। 23153 वोटों से जीते। पीलीबंगा विधानसभा की राउंडवार वोटिंग सबसे अचरज भरी रही। यहां कांग्रेस के विनोद गोठवाल और भाजपा के धर्मेंद्र मोची के बीच लगातार भिड़ंत रही लेकिन आखिर में नतीजा भाजपा के पक्ष में आया। यहां पहले चरण में विनोद गोठवाल ने भाजपा के धर्मेंद्र मोची को पछाड़ दिया। इसके बाद दूसरे राउंड में धर्मेंद्र मोची आगे बढ़ गए। ऐसे में अयालकी की एक ईवीएम में तकनीकी खराबी आ गई। वोटिंग रुक गई। इसके बाद फिर से तीसरे राउंड में धर्मेंद्र मोची ने बढ़त ली लेकिन चौथे राउंड में 6005 मत हासलि कर कांग्रेस के विनोद गोठवाल ने सबको हैरान कर दिया। इसके बाद लगातार पांचवें, छठे, सातवें, आठवें और नौंवे राउंड में कांग्रेस के विनोद गोठवाल आगे रहे। ऐसे में कांग्रेस का पलड़ा भारी होता दिखा। दसवें और 11राउंड में फिर धर्मेंद्र मोची ने बढ़त बनाई लेकिन 12वें और 13वें राउंड में विनोद गोठवाल ने फिर उन्हें पीछे छोड़ दिया। इसके बाद मोची ने लगातार 14वें से लेकर 17वें तक बढ़त बनाए रखी। 18वें राउंड में फिर गोठवाल आगे हुए लेकिन 19वें में फिर मोची ने बाजी मार ली। इसके बाद 20 राउंड तक दोनों में कड़ा मुकाबला चलता रहा और मोची 92 वोटों से आगे निकल गए और फिर 22 वें राउंड तक मोची ने 335 वोटों की बढ़त बना ली लेकिन फैसला खराब हुई ईवीएम पर आकर अटक गया। इसकी गिनती के बाद मोची 286 वोटों से जीते। भादरा विधानसभा: 18 चरण माकपा ने दोनों दलों को पछाड़ दिया, कांग्रेस और भाजपा दोनों आखिर तक नहीं उभर पाए तीन प्रत्याशियों में कांटे की टक्कर रही लेकिन पहले ही राउंड में माकपा के बलवान पूनिया ने मजबूत वोट 5202 लेकर दोनों दलों को पीछे छोड़ दिया। इसके बाद तीन राउंड तक दोनों मुख्य दलों के वोट 2500 से क्रॉस नहीं हुए लेकिन बलवान पूनिया ने दोनों में 4 हजार का आंकड़ा पार कर लिया। चौथे में फिर बलवान ने 5270 वोट हासिल किए पर संजीव के 4 हजार वोट कम पड़े और कांग्रेस तो 1127 वोट पर ही आ गई। ऐसे में कुल 18 राउंड तक बलवान पूनियां का मुकाबला भाजपा के संजीव बेनीवाल से रहा लेकिन कांग्रेस मुकाबले में कहीं नहीं दिखी और बलवान लगातार बढ़त लेते गए। 10वें राउंड में संजीव बेनीवाल आगे बढ़े लेकिन पूनियां ने 11 से लेकर 15 राउंड तक फिर भारी मत लेकर बढ़त बना ली और कांग्रेस के खाते में इस दौरान 2000 से ज्यादा वोट नहीं आए। ऐसे में आखिरी क्षणों में बलवान पूनिया ने 4 तो कभी 5 हजार वोट एक राउंड में लेकर दोनों दलों को हार का रास्ता दिखा दिया।
ईवीएम और वीवीपैट को विधानसभा वार बनाए गए स्ट्रांग रूम में किया सील प्रत्याशियों के काउंटिग एजेंट का पुलिस वैरिफिकेशन के बाद बनेगा एंट्रीपास हनुमानगढ़, 8 दिसंबर। विधानसभा चुनाव 2018 में शुक्ववार को मतदान के बाद राजकीय पॉलिटेक्निक कॉलेज परिसर में जहां देर रात तक ईवीएम और वीवीपैट का आना लगा रहा वहीं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री दिनेश चंद जैन समेत सामान्य ऑब्जर्वर्स और अन्य अधिकारी सुबह 6 बजे तक स्ट्रांगरूम को सील करने की कार्रवाई संपन्न करवाते नजर आए। वहीं शनिवार को भी जिला निर्वाचन अधिकारी समेत सभी ऑब्जर्वर्स विभिन्न कार्यों में पॉलिटेक्निक कॉलेज में लगे रहे। ईवीएम प्रकोष्ठ व मतदान दल प्रकोष्ठ प्रभारी और डीआईडी स्टांप श्री भवानी सिंह पंवार ने बताया कि रात को करीब ढाई बजे आखिरी ईवीएम भादरा से आई थी। सभी ईवीएम मशनों को ऑब्जर्वर्स की उपस्थिति में स्ट्रांग रूम में रखवाकर उनके सामने सील किया गया। इस पूरे प्रोसेस में सुबह 6 बजे तक कार्रवाई चलती रही। सामान्य ऑब्जर्वर्स ने किया स्क्रूटनी का कार्य- जिला निर्वाचन अधिकारी श्री दिनेश चंद जैन ने बताया कि शनिवार को ऑब्जर्वर्स ने स्क्रूटनी का कार्य किया और प्रत्याशियों की ओर से कोई शिकायत हो तो उसकी सुनवाई की। हालांकि कहीं कोई शिकायत नहीं आई। प्रत्याशी और उनके एजेंटों ने कोई आपत्ति ऑब्जर्वर्स को दर्ज नहीं करवाई। डीआईजी स्टांप श्री पंवार ने बताया कि शनिवार को ऑब्जर्वर्स ने करीब 10 विभिन्न बिंदुओं को लेकर स्क्रूटनी की। जिसमें अगर किसी बूथ पर विधानसभा सीट पर कुल वोटिंग प्रतिशत से 15 फीसदी कम या 15 फीसदी ज्यादा वोटिंग हुई हो। या किसी पोलिंग बूथ पर एक भी पोलिंग एजेंट ना हो, या प्रत्याशियों की ओर से कोई शिकायत हो इत्यादि बिंदुओं पर चर्चा की। श्री पंवार ने बताया कि जिले भर में एक-दो पोलिंग स्टेशन ही ऐसे थे जहां विधानसभा के औसत से 15 फीसदी कम वोटिंग हुई थी। ऐसे में वहां का मतदाता रजिस्टर, वोटर लिस्ट चौक की गई और पीठासीन अधिकारी की डायरी चौक की गई। प्रत्याशियों की ओर कोई ऑब्जेक्शन नहीं आया। विधानसभावार बनाए गए हैं दो-दो स्ट्रांगरूम- डीआईजी स्टांप श्री पंवार ने बताया कि ईवीएम और वीवीपैट को विधानसभा वार बनाए गए स्ट्रांगरूम में रखकर रूम को सील पैक किया जा चुका है और अब पॉलिटेक्निक कॉलेज में अर्धसैनिक बलों के जवान हथियारबद 24 घंटे की ड्यूटी दे रहे हैं। साथ ही सीसीटीवी कैमरे भी स्ट्रांग रूम पर लगाए गए हैं। जिन्हें कंट्रोल रूम से जोड़कर उन पर निगरानी रखी जा रही है। श्री पंवार ने बताया कि अब 11 दिसंबर को सुबह 8 बजे ही स्ट्रांगरूम ऑब्जर्वर्स और प्रत्याशियों के सामने खोले जाएंगे। मतगणना कक्ष में लगाई गई है 14 टेबल - मतदान दल प्रकोष्ठ प्रभारी और डीआईजी स्टांप श्री भवानी सिंह पंवार ने बताया कि प्रत्येक विधानसभा वार दो-दो स्टांग रूम में ईवीएम और वीवीपैट को रखा गया है उनके पास ही संबंधित विधानसभा का मतगणना कक्ष बनाया गया है जिसमें कुल 14 टेबल लगाई गई है। प्रत्येक टेबल पर दो काउंटिग कर्मचारी रहेंगे जिसमें से एक काउंटिग सुपरवाइजर और दूसरा काउंटिग एसिस्टेंट होगा। वहीं टेबल पर तीसरा कार्मिक माइक्रो ऑब्जर्वर होगा। इस प्रकार विधानसभा वार प्रत्येक मतगणना कक्ष में 14 टेबल पर तीन सरकारी कार्मिक और बाकि प्रत्याशियों के काउंटिग एजेंट होंगे। श्री पंवार ने बताया कि काउंटिग को लेकर करीब 170 कार्मिक लगाए गए हैं। 10 दिसंबर को काउंटिग कर्मचारियों का किया जाएगा विधानसभावार रेंडमाइजेशन - डीआईजी स्टांप श्री भवानी सिंह पंवार ने बताया कि 10 दिसंबर को काउंटिग को लेकर लगाए कार्मिकों का विधानसभावार रेंडमाइजेशन किया जाएगा और 11 दिसंबर की सुबह उन्हें टेबल अलॉट की जाएगी। अभी मतगणना कक्ष तैयार किए जा रहे हैं। अगले दो दिन में बैरीकैटिंग का कार्य पूर्ण हो जाएगा। अब पॉलेिटेक्निक कॉलेज परिसर में एंट्री पास के जरिए ही होगी। प्रत्याशियों के काउंटिंग एजेंट को रिटर्निंग अधिकारी से बनवाना होगा पास- श्री पंवार ने बताया कि मतगणना को लेकर प्रत्याशियों के एजेंट को संबंधित रिटर्निंग अधिकारी से पास बनवाना होगा। उसके बिना मतगणना स्थल पर एंट्री नहीं दी जाएगी। खास बात ये भी कि काउंटिग एजेंट का पास पुलिस वैरिफिकेशन के बाद ही जारी किया जाएगा। इसलिए जो भी काउंटिग एजेंट मतगणना में जाना चाहे वो अपना पास बनवाने के लिए संबंधित रिटर्निंग अधिकारी के यहां आवेदन करे ताकि उसका पुलिस वैरिफिकेशन करवाया जा सके।
जिले में संगरिया में सर्वाधिक 86.54 प्रतिशत हुआ मतदान, भादरा में सबसे कम 80.13 प्रतिशत नोहर और भादरा में महिलाओं ने की पुरूषों से ज्यादा वोटिंग शहरी क्षेत्र में पीलीबंगा को छोड़कर बाकि चारों विधानसभा में महिलाओं ने की पुरूषों से ज्यादा वोटिंग ग्रामीण क्षेत्र में केवल भादरा में महिलाओं ने की पुरूषों से ज्यादा वोटिंग हनुमानगढ़, 8 दिसंबर। विधानसभा चुनाव 2018 में हनुमानगढ़ जिले का कुल मतदान प्रतिशत 82.83 प्रतिशत रहा। जिला निर्वाचन अधिकारी श्री दिनेश चंद जैन ने बताया कि जिले की पांचों विधानसभा सीटों पर मतदान प्रतिशत 82.83 प्रतिशत रहा। इसमें सर्वाधिक मतदान संगरिया में 86.54 प्रतिशत और सबसे कम मतदान भादरा में 80.13 हुआ। संगरिया के बाद पीलीबंगा में 84.17 प्रतिशत, हनुमानगढ़ में 82.60 प्रतिशत और नोहर में 80.91 प्रतिशत मतदान हुआ। खास बात ये भी कि नोहर और भादरा में महिलाओं ने पुरूषों से ज्यादा मतदान किया। भादरा में पुरूषों का मतदान प्रतिशत जहां 79.20 प्रतिशत रहा वहीं 81.17 प्रतिशत महिलाओं ने वोटिंग की। इसी प्रकार नोहर में पुरूषों के मतदान प्रतिशत 80.87 के मुकाबले महिलाओं ने 80.95 प्रतिशत वोटिंग की। विधानसभा चुनाव को लेकर बनाए गए सांख्यिकी प्रकोष्ठ के प्रभारी और सहायक निदेशक श्री विनोद गोदारा ने बताया कि शहरी क्षेत्र में पीलीबंगा को छोड़कर बाकि चारों विधानसभा क्षेत्र नोहर, भादरा, संगरिया और हनुमानगढ़ में महिलाओं ने पुरूषों से ज्यादा मतदान किया। भादरा में पुरूषों का मतदान प्रतिशत 72.39 के मुकाबले महिलाओं का मतदान प्रतिशत करीब 5 फीसदी ज्यादा 77.10 प्रतिशत रहा। नोहर में पुरूषों के 74.71 प्रतिशत मतदान के मुकाबले महिलाओं ने करीब 2 फीसदी ज्यादा 76.31 प्रतिशत मतदान किया। इसी प्रकार हनुमानगढ़ में पुरूषों के 75.75 प्रतिशत मतदान के मुकाबले महिलाओं ने करीब 1 फीसदी ज्यादा 76.45 प्रतिशत महिलाओं ने मतदान किया। ग्रामीण क्षेत्र में भादरा की महिलाएं पुरूषों से मतदान में आगे रहीं। भादरा में पुरूष मतदान प्रतिशत 80.10 के मुकाबले महिलाओं का मतदान प्रतिशत रहा 81.71 प्रतिशत।
जिले में संगरिया में सर्वाधिक 86.54 प्रतिशत हुआ मतदान, भादरा में सबसे कम 80.13 प्रतिशत नोहर और भादरा में महिलाओं ने की पुरूषों से ज्यादा वोटिंग शहरी क्षेत्र में पीलीबंगा को छोड़कर बाकि चारों विधानसभा में महिलाओं ने की पुरूषों से ज्यादा वोटिंग ग्रामीण क्षेत्र में केवल भादरा में महिलाओं ने की पुरूषों से ज्यादा वोटिंग हनुमानगढ़, 8 दिसंबर। विधानसभा चुनाव 2018 में हनुमानगढ़ जिले का कुल मतदान प्रतिशत 82.83 प्रतिशत रहा। जिला निर्वाचन अधिकारी श्री दिनेश चंद जैन ने बताया कि जिले की पांचों विधानसभा सीटों पर मतदान प्रतिशत 82.83 प्रतिशत रहा। इसमें सर्वाधिक मतदान संगरिया में 86.54 प्रतिशत और सबसे कम मतदान भादरा में 80.13 हुआ। संगरिया के बाद पीलीबंगा में 84.17 प्रतिशत, हनुमानगढ़ में 82.60 प्रतिशत और नोहर में 80.91 प्रतिशत मतदान हुआ। खास बात ये भी कि नोहर और भादरा में महिलाओं ने पुरूषों से ज्यादा मतदान किया। भादरा में पुरूषों का मतदान प्रतिशत जहां 79.20 प्रतिशत रहा वहीं 81.17 प्रतिशत महिलाओं ने वोटिंग की। इसी प्रकार नोहर में पुरूषों के मतदान प्रतिशत 80.87 के मुकाबले महिलाओं ने 80.95 प्रतिशत वोटिंग की। विधानसभा चुनाव को लेकर बनाए गए सांख्यिकी प्रकोष्ठ के प्रभारी और सहायक निदेशक श्री विनोद गोदारा ने बताया कि शहरी क्षेत्र में पीलीबंगा को छोड़कर बाकि चारों विधानसभा क्षेत्र नोहर, भादरा, संगरिया और हनुमानगढ़ में महिलाओं ने पुरूषों से ज्यादा मतदान किया। भादरा में पुरूषों का मतदान प्रतिशत 72.39 के मुकाबले महिलाओं का मतदान प्रतिशत करीब 5 फीसदी ज्यादा 77.10 प्रतिशत रहा। नोहर में पुरूषों के 74.71 प्रतिशत मतदान के मुकाबले महिलाओं ने करीब 2 फीसदी ज्यादा 76.31 प्रतिशत मतदान किया। इसी प्रकार हनुमानगढ़ में पुरूषों के 75.75 प्रतिशत मतदान के मुकाबले महिलाओं ने करीब 1 फीसदी ज्यादा 76.45 प्रतिशत महिलाओं ने मतदान किया। ग्रामीण क्षेत्र में भादरा की महिलाएं पुरूषों से मतदान में आगे रहीं। भादरा में पुरूष मतदान प्रतिशत 80.10 के मुकाबले महिलाओं का मतदान प्रतिशत रहा 81.71 प्रतिशत।
जिले में संगरिया में सर्वाधिक 86.54 प्रतिशत हुआ मतदान, भादरा में सबसे कम 80.13 प्रतिशत नोहर और भादरा में महिलाओं ने की पुरूषों से ज्यादा वोटिंग शहरी क्षेत्र में पीलीबंगा को छोड़कर बाकि चारों विधानसभा में महिलाओं ने की पुरूषों से ज्यादा वोटिंग ग्रामीण क्षेत्र में केवल भादरा में महिलाओं ने की पुरूषों से ज्यादा वोटिंग हनुमानगढ़, 8 दिसंबर। विधानसभा चुनाव 2018 में हनुमानगढ़ जिले का कुल मतदान प्रतिशत 82.83 प्रतिशत रहा। जिला निर्वाचन अधिकारी श्री दिनेश चंद जैन ने बताया कि जिले की पांचों विधानसभा सीटों पर मतदान प्रतिशत 82.83 प्रतिशत रहा। इसमें सर्वाधिक मतदान संगरिया में 86.54 प्रतिशत और सबसे कम मतदान भादरा में 80.13 हुआ। संगरिया के बाद पीलीबंगा में 84.17 प्रतिशत, हनुमानगढ़ में 82.60 प्रतिशत और नोहर में 80.91 प्रतिशत मतदान हुआ। खास बात ये भी कि नोहर और भादरा में महिलाओं ने पुरूषों से ज्यादा मतदान किया। भादरा में पुरूषों का मतदान प्रतिशत जहां 79.20 प्रतिशत रहा वहीं 81.17 प्रतिशत महिलाओं ने वोटिंग की। इसी प्रकार नोहर में पुरूषों के मतदान प्रतिशत 80.87 के मुकाबले महिलाओं ने 80.95 प्रतिशत वोटिंग की। विधानसभा चुनाव को लेकर बनाए गए सांख्यिकी प्रकोष्ठ के प्रभारी और सहायक निदेशक श्री विनोद गोदारा ने बताया कि शहरी क्षेत्र में पीलीबंगा को छोड़कर बाकि चारों विधानसभा क्षेत्र नोहर, भादरा, संगरिया और हनुमानगढ़ में महिलाओं ने पुरूषों से ज्यादा मतदान किया। भादरा में पुरूषों का मतदान प्रतिशत 72.39 के मुकाबले महिलाओं का मतदान प्रतिशत करीब 5 फीसदी ज्यादा 77.10 प्रतिशत रहा। नोहर में पुरूषों के 74.71 प्रतिशत मतदान के मुकाबले महिलाओं ने करीब 2 फीसदी ज्यादा 76.31 प्रतिशत मतदान किया। इसी प्रकार हनुमानगढ़ में पुरूषों के 75.75 प्रतिशत मतदान के मुकाबले महिलाओं ने करीब 1 फीसदी ज्यादा 76.45 प्रतिशत महिलाओं ने मतदान किया। ग्रामीण क्षेत्र में भादरा की महिलाएं पुरूषों से मतदान में आगे रहीं। भादरा में पुरूष मतदान प्रतिशत 80.10 के मुकाबले महिलाओं का मतदान प्रतिशत रहा 81.71 प्रतिशत।
मॉकपोल में 4 बीयू, 9 सीयू और 22 वीवीपैट बदली गई- हनुमानगढ़, 7 दिसंबर। जिला निर्वाचन अधिकारी श्री दिनेश चंद जैन ने बताया कि विधानसभा चुनाव 2018 के दौरान जिले भर में कुल 1276 मतदान केन्द्रों पर पोलिंग हुई। मतदान में पारदर्शिता लाने के लिए राज्य में पहली बार ईवीएम के साथ वीवीपैट का भी इस्तेमाल किया गया। श्री जैन ने बताया कि मतदान के दौरान जो कुल 6 बैलेट यूनिट, 6 कंट्रोल यूनिट और 24 वीवीपैट को खराब होने पर बदला गया। पीलीबंगा में 1-1 सीयू और बीयू व 5 वीवीपेट को बदला गया। वहीं हनुमानगढ़ में सीयू और बीयू 1-1 और 3 वीवीपैट, नोहर में 2-2 सीयू और बीयू व 6 वीवीपैट, भादरा में 2-2 सीयू और बीयू व 8 वीवीपैट को बदला गया ।संगरिया में मात्र 2 वीवीपैट को चेंज किया गया। इससे पहले सुबह 7 से 8 बजे तक हुए मॉकपोल में 4 बीयू, 9 सीयू और 22 वीवीपैट को बदला गया।
हनुमानगढ़, 7 दिसंबर। विधानसभा चुनाव के दौरान जंक्शन स्थित सुरेशिया कॉलोनी के जॉन मिल्टन लाइब्रेरी के पास स्थित मतदान केन्द्र में वोट देने आई एक बुजुर्ग महिला खुली नाली में गिर गई। जिससे उसके चेहरे पर बड़ी चोट आई और खून बहने लगा। साथ ही पूरे कपड़े भी कीचड़ से गंदे हो गए। मतदान कवरेज करने आए मीडिया कर्मियों के सामने हुई इस घटना के दौरान मीडियाकर्मियों ने लगे हाथ 108 एंबुलेंस को फोन कर दिया। और महिला पर लगा कीचड़ पानी से धुलवा कर साफ करवाया और पोलिंग बूथ पर ही मौजूद मेडिकल किट के जरिए फर्स्ट एड के जरिए पट्टी बांधकर खून को रोका। लेकिन 80 वर्षीय श्रीमती फूला देवी का जज्बा मतदान को लेकर ऐसा कि लोग दंग रह गए। एंबुलेंस को बुलाया तो फूलादेवी बोली मैं वोट करके ही अस्पताल जाउंगी। पहले मुझे वोट करवाओ। फिर एंबुलेंस बुलाना। बुजुर्ग महिला का जज्बा देखते हुए उन्हें पहले वोटिंग करवाई गई। उसके बाद एंबुलेंस में बिठाकर अस्पताल के लिए रवाना किया गया।
हनुमानगढ़, 7 दिसंबर। विधानसभा चुनाव के दौरान जंक्शन स्थित सुरेशिया कॉलोनी के जॉन मिल्टन लाइब्रेरी के पास स्थित मतदान केन्द्र में वोट देने आई एक बुजुर्ग महिला खुली नाली में गिर गई। जिससे उसके चेहरे पर बड़ी चोट आई और खून बहने लगा। साथ ही पूरे कपड़े भी कीचड़ से गंदे हो गए। मतदान कवरेज करने आए मीडिया कर्मियों के सामने हुई इस घटना के दौरान मीडियाकर्मियों ने लगे हाथ 108 एंबुलेंस को फोन कर दिया। और महिला पर लगा कीचड़ पानी से धुलवा कर साफ करवाया और पोलिंग बूथ पर ही मौजूद मेडिकल किट के जरिए फर्स्ट एड के जरिए पट्टी बांधकर खून को रोका। लेकिन 80 वर्षीय श्रीमती फूला देवी का जज्बा मतदान को लेकर ऐसा कि लोग दंग रह गए। एंबुलेंस को बुलाया तो फूलादेवी बोली मैं वोट करके ही अस्पताल जाउंगी। पहले मुझे वोट करवाओ। फिर एंबुलेंस बुलाना। बुजुर्ग महिला का जज्बा देखते हुए उन्हें पहले वोटिंग करवाई गई। उसके बाद एंबुलेंस में बिठाकर अस्पताल के लिए रवाना किया गया।
जिला कलक्टर श्री दिनेश चंद जैन ने सपत्नीक किया मतदान हनुमानगढ़,7 दिसंबर। लोकतंत्र के उत्सव में शुक्रवार को जहां जिले भर मतदाताओं ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया वहीं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री दिनेश चंद जैन ने भी सपत्नीक वोट कर लोकतंत्र के इस हवन में आहूति प्रदान की। । श्री जैन अपनी पत्नी श्रीमती कुसुम जैन के साथ सुबह साढ़े आठ बजे जंक्शन स्थित सरस्वती कन्या महाविद्यालय पहुंचे और वोटिंग में हिस्सा लिया। इस दौरान अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री प्रभाती लाल जाट ने भी अपने मताधिकार का प्रयोग करते हुए लोकतंत्र के उत्सव में भाग लिया। मताधिकार के दौरान सीईओ जिला परिषद श्री नवनीत कुमार, पीआरओ श्री सुरेश बिश्नोई समेत अन्य अधिकारी मौजूद थे। शक्ति मतदान केन्द्र समेत विभिन्न मतदान केन्द्रों का किया निरीक्षण - जिला निर्वाचन अधिकारी श्री दिनेश चंद जैन ने जंक्शन स्थित एनपीएस स्कूल परिसर में बनाए गए शक्ति मतदान केन्द्र ( पिंक बूथ) का निरीक्षण किया और वहां की व्यवस्थाएं देखी। इस दौरान एडीएम श्री प्रभाती लाल जाट, सीईओ जिला परिषद श्री नवनीत कुमार इत्यादि उनके साथ थे। श्री जैन ने इसके अलावा जिला मुख्यालय के विभिन्न मतदान केन्द्रों का भी निरीक्षण किया। साथ ही राजकीय पॉलिटेक्निक कॉलेज में भी मतदान के बाद आने वाली ईवीएम और वीवीपैट को सुरक्षित रखने को लेकर जायजा लिया। मॉकपोल में 4 बीयू, 9 सीयू और 22 वीवीपैट बदली गई- विधानसभा चुनाव 2018 के दौरान राजस्थान में पहली बार ईवीएम के साथ वीवीपैट का इस्तेमाल किया गया ताकि वोट की पारदर्शिता बनी रहे। जिला निर्वाचन अधिकारी श्री दिनेश चंद जैन ने बताया कि जिले में कुल 1276 मतदान केन्द्र थे। सभी पर मतदान ईवीएम और वीवीपैट के जरिए करवाया गया। जिला निर्वाचन अधिकारी श्री दिनेश चंद जैन ने बताया कि विधानसभा चुनाव के दौरान हनुमानगढ़ जिले में सुबह 7 से 8 बजे के दौरान हुए मॉकपोल के दौरान कुल 7 बैलेट यूनिट, 9 कंट्रोल यूनिट और 22 वीवीपैट खराब हुई जिन्हें बदला गया। बीयू, सीयू और वीवीपैट जो खराब हुई वो कुल मशीनों के प्रतिशत में क्रमश0.55 प्रतिशत,0.71 प्रतिशत और 1.72 प्रतिशत थी। जिले भर में करीब 83.2 प्रतिशत हुआ मतदान - जिला निर्वाचन अधिकारी श्री दिनेश चंद जैन ने बताया कि जिला प्रशासन की ओर से प्रत्येक दो घंटे में मतदान प्रतिशत आमजन को उपलब्ध करवाए जा रहे थे। जिसमें पीठासीन अधिकारियों से एसएमएस के जरिए मतदान के आंकड़े मंगवाए गए। सुबह 9 बजे तक जिले भर में 6.13 प्रतिशत मतदान हुआ। वहीं 11 बजे तक 23.74 प्रतिशत, 1 बजे तक 41.72 प्रतिशत, 3 बजे तक 64.18 प्रतिशत, 5 बजे तक 78.89 फीसदी और उसके बाद आखिर तक 83.2 के करीब प्रतिशत मतदान हुआ। संगरिया में सर्वाधिक 86.51 प्रतिशत, पीलीबंगा में 84.17, नोहर में 82.88 प्रतिशत, हनुमानगढ़ में 82.31 और भादरा में 80.1 प्रतिशत मतदान हुआ है।
जिला निर्वाचन अधिकारी श्री दिनेश चंद जैन ने अभय कमांड सेंटर का लिया जायजा हनुमानगढ़, 7 दिसंबर। जिला निर्वाचन अधिकारी श्री दिनेश चंद जैन ने बताया कि जिले में कुल 85 मतदान केन्द्रों पर वेबकास्टिंग की गई। यानि ये 85 मतदान केन्द्र सुबह मॉकपोल से लेकर मतदान समाप्त होने तक कैमरे के नजर में रहे। इन 85 मतदान केन्द्रों में से 73 क्रिटिकल पोलिंग स्टेशन थे। बाकि के सामान्य बूथ थे। जिन पोलिंग स्टेशन पर वेबकास्टिंग की गई। उन पर पुलिस अधीक्षक कार्यालय में बनाए गए अभय कमांड सेंटर में लगी बड़ी स्क्रीन के जरिए नजर रखी गई। जिला निर्वाचन अधिकारी श्री दिनेश चंद जैन, एडीएम श्री प्रभातीलाल जाट, सीईओ जिला परिषद श्री नवनीत कुमार ने अभय कंमाड सेंटर का जायजा लिया। इस दौरान उनके साथ पीआरओ श्री सुरेश बिश्वोई, एसीपी श्री योगेन्द्र कुमार भी साथ थे। एसीपी श्री योगेन्द्र कुमार ने बताया कि अभय कंमाड के अलावा दिनभर उनके कार्यालय में भी वेबकास्टिंग पर नजर रखी गई। जिले में कुल 169 क्रिटिकल बूथ पर लगाए गए 179 माइक्रो ऑब्जर्वर - जिला निर्वाचन अधिकारी श्री दिनेश चंद जैन ने बताया कि जिले में कुल 169 क्रिटिकल बूथ थे जिनमें से 74 मोस्ट क्रिटिकल थे। इन सभी बूथ पर केन्द्रीय कार्मिकों को माइक्रो ऑब्जर्वर्स लगाया गया था। जिन्होने मतदान दिवस पर बूथ पर पैनी नजर रखी। लिहाजा जिले भर में शांति पूर्वक चुनाव संपन्न करवाए गए। क्रिटिकल बूथ में संगरिया में 41, हनुमानगढ़ में 27, पीलीबंगा में 32, नोहर में 26 और भादरा में 43 बूथ शामिल रहे। 169 क्रिटिकल बूथ पर नजर रखने के लिए प्रत्येक पर एक-एक माइक्रो ऑब्जर्वर लगाया गया और 10 माइक्रो ऑब्जर्वर्स को रिजर्व में रखा गया था।

Top News

http://www.hitwebcounter.com/